सचिन तेंदुलकर ने की थी जिस खिलाड़ी की तारीफ, उससे कैच छूटा तो हार्दिक ने खोया आपा

अपनी शानदार गेंदबाजी के चलते, सचिन तेंदुलकर की भी तारीफ पा चुके मयंक मार्कण्डेय ने जब रॉबिन उथप्पा का कैच छोड़ा तो हार्दिक पांड्या उनसे काफी नाराज हो गए. 

सचिन तेंदुलकर ने की थी जिस खिलाड़ी की तारीफ, उससे कैच छूटा तो हार्दिक ने खोया आपा
हार्दिक पांड्या की गेंद पर रॉबिन उथप्पा का कैच छूटा जिससे वे काफी नाराज हुए. (फोटो : IANS)

मुंबई : क्रिकेट में खिलाड़ी कभी चमकते हैं तो कभी ऐसी गलती भी कर जाते हैं कि साथी खिलाड़ी की नाराजगी भी उन्हें झेलनी पड़ती है. आपीएल 2018 के सीजन में इस समय टीमों के बीच प्लेऑफ में जाने के लिए जबर्दस्त मुकाबला चल रहा है. मैचों में न केवल नजदीकी परिणाम आ रहे हैं, बल्कि चौंकाने वाले परिणाम भी आ रहे हैं. कभी मैच हाई स्कोरिंग हो रहे हैं कभी लो स्कोरिंग. इसके अलावा कैच छोड़ना भी टीमों के लिए काफी भारी पड़ता दिखाई दे रहा है. 

कैच छोड़ने का एक वाक्या हुआ मुंबई और कोलकाता के बीच हुए एक मैच में जब एक खिलाड़ी ने कैच छोड़ा तो गेंदबाज की नाराजगी साफ दिखाई दी. दरअसल हुआ यह था कि जब मुंबई के दिए 182 रनों के लक्ष्य का पीछा कोलकाता की टीम कर रही थी, तो छठा ओवर हार्दिक पांड्या कर रहे थे. कोलकाता की टीम पांच ओवर के बाद, 2 विकेट पर 44 रन बना चुकी थी. क्रीज पर नितीश राणा के साथ रॉबिन उथप्पा मौजूद थे और उथप्पा को हार्दिक की गेदों का सामना करना था.  

उथप्पा पांच ही गेंद खेले थे और उन्होंने केवल 4 रन ही बनाए थे. पहली गेंद डॉट बॉल फेंकने के बाद जब हार्दिक ने शॉर्ट गेंद फेंकी तो उथप्पा ने बड़ा शॉट लगाने की कोशिश की, लेकिन गेंद हवा में सीधे मिड ऑन पर खड़े मयंक मार्कण्डेय के पास गई. मयंक को इधर उधर भी नहीं हिलना था और गेंद तेज भी नहीं आ रही थी, लेकिन इसके बावजूद मयंक ने यह आसान कैच छोड़ दिया. हार्दिक इससे काफी नाराज दिखाई दिए और गुस्से में मयंक को कुछ कहते भी दिखाई दिए.

 

इसके बाद उथप्पा ने 35 गेंदों पर ताबतोड़ 54 रनों की पारी खेली और अपनी टीम का स्कोर 13वें ओवर में ही 112 तक पहुंचा दिया. हालांकि मयंक के लिए राहत की बात यही रही की उन्होंने ही उथप्पा को बेन कटिंग के हाथों कैच आउट कराया. मयंक ने इस मैच में तीन ओवर में 15 रन दिए और उथप्पा का ही विकेट ले सके. मयंक इस आईपीएल में पर्पल कैप की दौड़ में सबसे आगे रह चुके हैं. इस समय वे  13 विकेट लेकर दूसरे स्थान पर हैं मजेदार बात यह है कि पहले स्थान पर 14 विकेट के साथ हार्दिक पांड्या ही हैं. 

गौरतलब है कि सचिन पहले ही इस आईपीएल में स्पिनर्स की तारीफ करते हुए मयंक की तारीफ कर चुके हैं.  मुंबई के मेंटर सचिन ने कहा थी कि आईपीएल के इस सीजन में लेग स्पिनरों ने बल्लेबाजों को सोचने के लिए मजबूर किया है और मयंक ने भी उनमें से एक हैं और बल्लेबाजों को उन पर अधिक ध्यान देना पड़ रहा है. यह मयंक की क्षमता की तारीफ है कि वे अपनी गुगली से इतनी अच्छी तरह छकाने में सफल रहे हैं. यह काबिले तारीफ है.

सचिन तेंदुलकर ने कही आर अश्विन को खुश करने वाली बात
(फोटो साभार : IANS)

हालांकि मयंक की तारीफ केवल गेंदबाजी की ही थी लेकिन इन दिनों जिस तरह से कैच छूटने पर टीमें मैच हार रहीं हैं आगे जाकर उन्हें भारी पड़ सकता है. वहीं दूसरी तरफ कैच मैच भी जिता रहे हैं. मयंक के लिए राहत की बात यह रही की उथप्पा की पारी कोलकाता के लिए काम नहीं आई और अंततः मैच मुंबई के पक्ष में ही गया.