close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ISL-6: बेंगलुरू पहली जीत को तरसी, ड्रॉ के बाद भी जमशेदपुर पहुंची टॉप पर

Indian Super League:  जमशेदपुर एफसी और बेंगलुरू एफसी के बीच मैच ड्रॉ से खत्म हुआ लेकिन फिर भी जमशेदपुर अंकतालिका में टॉप पोजीशन बनाने में कामयाब रही. 

ISL-6: बेंगलुरू पहली जीत को तरसी, ड्रॉ के बाद भी जमशेदपुर पहुंची टॉप पर
जेमशेदपुर के लिए गोलकीपर सुब्रत ने शानदार खेल का प्र्दर्शन किया. (फोटो: Twitter/@JamshedpurFC)

जमेशदपुर: जमशेदपुर एफसी के अपने बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर मौजूदा विजेता बेंगलुरू एफसी को इंडियन सुपर लीग (Indian Super League) के छठे सीजन में पहली जीत से महरूम रखा.  अपने घर जेआरडी टाटा स्पोर्टस कॉम्पलेक्स में शनिवार को खेले गए मैच में जमशेदुपर ने बेहतरीन अटैक वाली बेंगलुरू के खिलाफ गोलरहित ड्रॉ खेला. वहीं बेंगलुरू ने भी मेजबान टीम को जीत की हैट्रिक नहीं लगाने दी. लेकिन इस मैच से मिले एक अंक के दम पर जमशेदपुर ने पहले स्थान से एटीके को हटा उस पर अपना कब्जा कर लिया. दोनों टीमों को एक-एक अंक मिले. इसका फायदा बेंगलुरू को भी मिला जो नौवें से सातवें नंबर पर आ गई है.

सुब्रत की हुई शुरू से ही परीक्षा
मैच बेहद रोमांचक रहा और सबसे ज्यादा जिस खिलाड़ी को व्यस्त देखा गया वो थे गोलकीपर सुब्रत पॉल. बेंगलुरू के मजबूत अटैक के कई प्रयासों को सुब्रत ने नेट के अंदर जाने नहीं दिया. छठे मिनट में ही छेत्री ने जमशेदपुर के गोलकीपर को परखा और इसके एक मिनट बाद जमशेदपुर ने भी बेंगलुरू के डिफेंस की परीक्षा ली, हालांकि दोनों टीमों के पहले-पहले प्रयास गोल में तब्दील नहीं हो सके.

यह भी पढ़ें: IND vs BAN: भारत में अपनी बेस्ट T20 पारी खेलने के बाद बोले रहीम, 'उसे मिस कर रहा हूं'

सुब्रत को भेद न सकी बेंगलुरू
यहां से बेंगलुरू ने सुब्रत को कई बार परेशान किया और हर बार सुब्रत पास होते गए. 12वें मिनट में बेंगलुरू को मिले कॉर्नर का सुब्रत ने शानदार बचाव किया और 20वें मिनट में भी उन्होंने अपनी बेहतरीन गोलकीपिंग का परिचय दे मौजूदा विजेता के करीबी प्रयास को नाकाम कर दिया. छेत्री, उदांता सिंह, दिमास डेल्गाडो और जुआनन ने मिलकर सुब्रत को खाली नहीं रहने दिया. .

पीला कार्ड और चोट
इसी बीच 34वें मिनट में जमेशदपुर के सर्गियो कास्टेल ने बेंगलुरू के कैम्प में परेशानी पैदा की जो ज्यादा देर तक बनी नहीं रह सकी. चार मिनट बाद पीती ने भी अपनी किस्मत आजमाई जो विफल ही रही. जमशेदपुर परेशान थी जिसमें 41वें मिनट में तीरी को मिले पीले कार्ड ने और इजाफा कर दिया. इस हाफ में बेंगलुरू को चोट के कारण अपने अहम खिलाड़ियों में से एक अल्र्बट सेरेन को भी गंवाना पड़ा. 24वें मिनट में उनको चोट लगी थी और उनके स्थान पर आशिके कुरुनियन मैदान पर आए

दूसरे हाफ में रहा वही हाल
पहला हाफ गोलरहित रहा. दूसरे हाफ में मेजबान टीम एक बदलाव के साथ उतरी. अनिकेत जाधव के स्थान पर टीम ने दिमास को मैदान पर भेजा. दिमास ने आते ही मौका बनाया जो गोलपोस्ट से दूर रहा. सुब्रत को दूसरे हाफ के पांचवें मिनट में भी गोल रोकने की मेहनत करनी पड़ी.

संधू ने भी दिखाया दम
अभी तक सुब्रत की ही परीक्षा हो रही थी, लेकिन 54वें मिनट में बेंगलुरू के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू को भी चौकस रहना पड़ा. यहां मेजबान टीम को कॉर्नर मिला जहां फारुख चौधरी के प्रयास को संधू ने जाया करने में वक्त नहीं लगाया. चौधरी ने यहां मौका गंवाया तो 67वें मिनट में केस्टल भी कॉर्नर पर गोल करने चूक गए.

बदलाव नहीं बदल सके नतीजा
72वें मिनट में बेंगलुरू भी कॉर्नर पर गोल नहीं कर पाई. जमशेदपुर ने 77वें मिनट में मोबाशीर को बाहर कर पस्सी को मैदान पर उतारा. इस बदलाव से पहले मेजबान टीम को फ्री किक भी मिली जिस पर पीती गोल नहीं कर पाए. मैच के अंत में कुछ और बदलाव देखने को मिले लेकिन स्कोरशीट की सूरत नहीं बदली और स्कोर अंत तक 0-0 ही रहा.
(इनपुट आईएएनएस)