BREAKING NEWS

बैडमिंटन स्टार ज्‍वाला गुट्टा भी #MeToo कैंपेन से जुड़ीं, लगाया यह आरोप...

विश्व चैंपियनशिप में मेडल जीतने वाली ज्वाला गुट्टा ने कहा कि 2006 में जब वो चीफ बना, तो मुझे टीम से बाहर कर दिया.

बैडमिंटन स्टार ज्‍वाला गुट्टा भी #MeToo कैंपेन से जुड़ीं, लगाया यह आरोप...
ज्वाला गुट्टा विश्व चैंपियनशिप और कॉमनवेल्थ गेम्स में मेडल जीत चुकी हैं. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: मी टू कैंपेन, बॉलीवुड और जर्नलिज्म से होता हुआ खेलों तक पहुंच गया है. भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा मंगलवार को इस कैंपेन से जुड़ गईं. उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट कर खुद से भेदभाव होने का आरोप लगाया. हालांकि, उन्होंने अपने ट्वीट में किसी का नाम नहीं लिया. लेकिन, यह स्पष्ट है कि उनका इशारा राष्ट्रीय कोच पी. गोपीचंद की ओर है. 

डबल्स स्पेशलिस्ट ज्वाला गुट्टा 2011 में वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीत चुकी हैं. दिल्ली कॉमनवेल्थ गेम्स का गोल्ड भी उनके नाम है. 35 साल की ज्वाला ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘शायद मुझे भी मानसिक प्रताड़ना की बात उठानी चाहिए. मैं भी इससे गुजर चुकी हूं. #मी टू.’

उसने 2006 में कोच बनने पर मुझे टीम से बाहर कर दिया 
हैदराबाद की ज्वाला गुट्टा ने कहा, ‘साल 2006 से. जब से वह व्यक्ति चीफ बना... मुझे नेशनल टीम से बाहर कर दिया, हालांकि तब मैं नेशनल चैंपियन थी. इसका ताजा मामला रियो के बाद सामने आया, और मुझे फिर टीम से बाहर कर दिया गया. इसी कारण मैंने खेलना बंद कर दिया.’ 

मेरे पार्टनर को भी प्रताड़ित किया गया 
ज्वाला अपने अगले ट्वीट में कहती हैं, ‘जब वो मुझे टीम से बाहर नहीं कर सका, तब उसने मेरे पार्टनर को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. उसने हर वह कोशिश की, जिससे मैं अलग-थलग पड़ जाऊं. रियो ओलंपिक के बाद भी जो खिलाड़ी मेरे साथ मिक्स्ड डबल्स में खेलने वाला था, उसे धमकाया गया... इस तरह मुझे टीम से बाहर कर दिया गया.’

Jwala Gutta

यूजर के सवालों के जवाब भी दिए 
जब कई लोगों ने ज्वाला के ट्वीट पर सवाल उठाए, तो उन्होंने इसके जवाब भी दिए. एक यूजर ने ज्वाला से पूछा, ‘आपने इस मामले को खेल मंत्रालय के सामने क्यों नहीं उठाया.’ इस पर ज्वाला ने कहा कि मंत्रालय और साई के सब लोग इस बारे में जानते हैं. एक यूजर ने कहा कि आपके कोच बेहद प्रतिभाशाली व्यक्ति हैं. वे बिना किसी कारण के ऐसा नहीं करेंगे... कॉमनवेल्थ गेम्स के बाद आपका ध्यान खेल से हट गया था, इसलिए गोपी सर ने किसी और को मौका दे दिया.  ज्वाला ने इसके जवाब में कहा कि वे कौन होते हैं मुझे मौका देने वाले? मेरी उपलब्धियां और खेल मेरा पक्ष रखने के लिए काफी है. 

तनुश्री दत्ता के आरोपों के बाद शुरू हुआ कैंपेन 
#MeToo कैंपेन की हालिया शुरुआत बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा अभिनेता नाना पाटेकर पर लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद हुई है. इस कैंपेन के तहत कई लड़कियां अपने साथ हुई बदसलूकी को लेकर शिकायत साझा कर रही हैं. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.