ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में हारी मैरीकोम

पांच बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरीकोम को रियो डि जनेरियो में अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) की ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में शिकस्त के साथ कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में हारी मैरीकोम

नई दिल्ली : पांच बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरीकोम को रियो डि जनेरियो में अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) की ओलंपिक परीक्षण प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में शिकस्त के साथ कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।

लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता मैरीकोम को अगले साल ओलंपिक की मेजबानी कर रहे ब्राजील के शहर में चल रही प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में अमेरिका की वर्जीनिया फाक्स ने अंकों के आधार पर हराया।

मैरीकोम पिछले एक साल से भी अधिक समय में पहली बार किसी प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही थी। पिछले साल इंचियोन में एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद से वह कंधे की चोट से परेशान थी। पुरुष ड्रॉ में चार अन्य भारतीय भी सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गए जिससे प्रतियोगिता में भारत की चुनौती समाप्त हो गई।

राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व स्वर्ण पदक विजेता मनोज कुमार (64 किग्रा) को ब्रिटेन के सैमुअल मैक्सवेल ने हराया जबकि विश्व चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाले सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक) को भी ब्रिटेन के ही फ्रेजर क्लार्क ने शिकस्त दी।

प्रवीण कुमार (91 किग्रा) को स्थानीय खिलाड़ी गिडेलसन डि ओलिविएरा ने हराया। श्याम ककारा (51 किग्रा) को उज्बेकिस्तान के हसनबाय दुस्मातोव के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी।