VIDEO : 'मिताली सेना' ने लिया 3 वर्ल्ड कप का बदला, 'कंगारुओं' के निकले आंसू

हरमनप्रीत कौर ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी के दम पर गुरुवार को यहां बेजोड़ नमूना पेश करके नाबाद शतक जमाया जिससे भारत ने मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हराकर आईसीसी महिला विश्व कप के फाइनल में प्रवेश कर लिया. फाइनल में उसका मुकाबला रविवार (23 जुलाई) को लॉर्ड्स में मेजबान इंग्लैंड से होगा. इसी के साथ महिला क्रिकेटरों ने ना केवल अपना बल्कि पुरुष टीम का भी बदला ले लिया है. भारत ने महिला विश्व कप-2017 के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हरा फाइनल में दूसरी बार जगह बना ली है.

VIDEO : 'मिताली सेना' ने लिया 3 वर्ल्ड कप का बदला, 'कंगारुओं' के निकले आंसू
महिला विश्वकप में ऑस्ट्रेलिया को हराकर टीम इंडिया ने पुराना बदला चुकाया (PIC : BCCI)

नई दिल्ली : हरमनप्रीत कौर ने अपनी तूफानी बल्लेबाजी के दम पर गुरुवार को यहां बेजोड़ नमूना पेश करके नाबाद शतक जमाया जिससे भारत ने मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हराकर आईसीसी महिला विश्व कप के फाइनल में प्रवेश कर लिया. फाइनल में उसका मुकाबला रविवार (23 जुलाई) को लॉर्ड्स में मेजबान इंग्लैंड से होगा. इसी के साथ महिला क्रिकेटरों ने ना केवल अपना बल्कि पुरुष टीम का भी बदला ले लिया है. भारत ने महिला विश्व कप-2017 के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हरा फाइनल में दूसरी बार जगह बना ली है.

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 42 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 281 रन बनाए थे. ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 40.1 ओवरों में 245 रनों पर ही सिमट गई. बारिश के कारण मैच देरी से शुरू हुआ था इसलिए अंपायरों ने मैच के ओवरों की संख्या 50 ओवरों से घटाकर 42 कर दिया था. 

भारत ने हरमनप्रीत कौर की 115 गेंदों में 20 चौके और सात छक्कों की मदद से खेली गई नाबाद 171 रनों की पारी की बदौलत आस्ट्रेलिया को विशाल लक्ष्य दिया था. ऑस्ट्रेलियाई टीम इस लक्ष्य के सामने लड़खड़ा गई. उसकी तरफ से एलेक्स ब्लैकवेल ने 90 और एलिस विलानी ने 75 रन बनाए. इन दोनों के अलावा ऑस्ट्रेलिया की कोई और बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के सामने टिक नहीं सकी. 

भारत से मिली करारी हार ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को बुरी तरह निराश कर दिया और वे मैदान पर ही रोने लगीं. 

12 साल पुरानी हार का लिया बदला 

बता दें कि कि 2005 के महिला विश्वकप में भारत को फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने ही शिकस्त दी थी. अबकी बार टीम इंडिया की धाकड़ बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर की नाबाद 171 रन की धुआंधार पारी की बदौलत टीम इंडिया ने अपनी 12 साल पुरानी हार का बदला ले लिया है. 

Mithali Raj India Australia Women world cup
2005 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 98 रनों से हराया था 

टीम इंडिया ने छह बार की विश्वविजेता ऑस्ट्रेलिया को हराकर फाइनल में दूसरी बार अपनी जगह बना ली है. 2005 में पहली बार टीम इंडिया महिला वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची थी. फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 98 रनों से मात देकर वर्ल्ड कप पर अपना कब्जा जमाया था, लेकिन अब 12 साल बाद भारत ने उस दर्द का बदला ऑस्ट्रेलिया से ले लिया है. 

20 साल के बाद वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची टीम इंडिया की शर्मनाक हार 

2003 में 20 साल बाद भारत विश्वकप के फाइनल में पहुंचा था, जहां उसे शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था. इस मैच में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से था. ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए भारतीय गेंदबाजों की जमकर की और 50 ओवर में मात्र दो विकेट खोकर 359 रनों का विशाल टारगेट दिया. ऑस्‍ट्रेलिया की तरफ से रिकी पोंटिंग 140 और डेनियम मार्टिन 88 रन बनाकर नाबाद रहे. 

Sourav Ganguly Mithali Raj Women World cup India Australia
2003 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 125 रन की करारी शिकस्त दी थी 

इसके बाद लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी भारतीय शुरुआत से ही लखड़खड़ाती नजर आई. सचिन तेंदुलकर महज 4 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. भारत की तरफ से सहवाग एकमात्र ऐसे बल्‍लेबाज रहे जिन्‍होने थोड़ा संघर्ष किया. सहवाग ने 82 रन बनाए लेकिन उनके अलावा कोई और बल्‍लेबाज टिककर नहीं खेल सका. इस मैच में सहवाग की 82 रनों की पारी कोई कमाल नहीं कर पाई. भारत 39.2 ओवर में 234 रन पर ऑलआउट को गई. भारत को फाइनल मुकाबले में 125 रन की करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा.

2015 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में 

2015 वर्ल्ड के सेमीफाइनल में एक बार फिर भारत को ऑस्ट्रेलिया ने चित कर दिया था. ऑस्ट्रेलिया ने सिडनी क्रिकेट मैदान पर हुए सेमीफाइनल में भारत को 95 रनों से हरा दिया था. इसके बाद 29 मार्च को मेलबर्न में हुए फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को हराकर पांचवी बार विश्वकप पर अपना कब्जा जमाया था. 

Mahendra singh Dhoni Mithali Raj Women world cup india Ausrtralia
2015 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 95 रनों से हराया था

भारत की ओर से सबसे ज्यादा 65 रन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बनाए थे. स्टीवन स्मिथ के शतकीय प्रहार की मदद से चार बार के चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट पर 328 रन बनाए. जवाब में भारतीय टीम 46.5 ओवर में 233 रन पर ढेर हो गई. 

टीम इंडिया ने ऐसे मनाया जीत का जश्न 

अब 23 जुलाई को इंग्लैंड से होगा भारत का सामना 

टीम इंडिया का सामना 23 जुलाई को इंग्लैंड से होगा. इंग्लैंड वही टीम है, जिसे भारत ने रॉबिन लीग मुकाबले में शिकस्त दी थी. अब देखना होगा कि क्या वही कारनामा भारत फिर से दोहरा कर पहली बार विश्व विजेता बन सकेगा.