close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

67 साल की इस खिलाड़ी ने एशियाड में जीता मेडल, पति और बेटा रह चुके हैं केंद्रीय मंत्री

ब्रिज (ताश) को पहली बार एशियाई गेम्स में शामिल किया गया है.

67 साल की इस खिलाड़ी ने एशियाड में जीता मेडल, पति और बेटा रह चुके हैं केंद्रीय मंत्री
ब्रिज प्लेयर हेमा देवड़ा पेशे से आर्किटेक्ट रह चुकी हैं.

जकार्ता: भारत की मिक्स्ड और पुरुष टीम ने 18वें एशियन गेम्स के आठवें दिन रविवार को ब्रिज (ताश) में ब्रॉन्ज मेडल अपने-अपने नाम किए. हेमा देवड़ा, किरण नादर, सत्यनारायाण बाचीराजू, गोपीनाथ मन्ना, हिमानी खंडेलवाल और राजीव खंडेलवाल की मिक्स्ड टीम को सेमीफाइनल में थाईलैंड से हार का सामना करना पड़ा. 

टीम की खिलाड़ी 67 साल की हेमा देवड़ा पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली देवड़ा की पत्नी हैं. उनके बेटे मिलिंद देवड़ा भी यूपीए सरकार में टेलीकॉम और आईटी सहित अन्य विभागों के मंत्री रह चुके हैं. मिलिंद भी अपनी मां के इस मुकाम पर पहुंचने पर काफी गदगद हैं. देवड़ा ने ट्वीट कर कहा है कि मुझे अपनी मां और उनकी टीम पर गर्व है. वे सब भारत के लिए एशियन गेम्स में ब्रिज खेल रहे हैं.

आर्किटेक्ट रहीं हेमा देवड़ा का 50 साल की उम्र तक तो ब्रिज (ताश) से कोई लेना-देना नहीं था, लेकिन राजनेता पति के व्यस्त रहने और बच्चों के बड़े हो जाने पर हेमा खाली समय में ब्रिज खेलना शुरू किया. इसके बाद धीरे-धीरे वह इस खेल में पारंगत होती गईं और टूर्नामेंट में भाग लेने विदेश जाने लगीं. वहीं, इस साल उनकी टीम को इंडोनेशिया में खेले जा रहे 18वें एशियन गेम्स में भाग लेने का मौका मिला.  

बता दें कि रविवार को भारतीय मिक्स्ड टीम ने ब्रिज के सेमीफाइनल-1 में 69.67 के साथ पहला, सेमीफाइनल-2 में 88.67 के साथ दूसरा और सेमीफाइनल-3 में 109.67 के साथ तीसरा स्थान हासिल किया. भारत के अलावा इंडोनेशिया को भी इस कॉम्पिटीशन में ब्रॉन्ज मेडल मिला. मिक्स्ड टीम के अलावा जग्गी शिवदासानी, राजेश्वर तिवारी, सुमित मुखर्जी, देबाब्रत मजूमदार, राजू तोलानी और अजय खड़े की पुरुष टीम को सिंगापुर से शिकस्त झेलनी पड़ी.

भारतीय पुरुष टीम ने सेमीफाइनल-1 में 25.67 के साथ चौथा, सेमीफाइनल-2 में 66.67 के साथ तीसरा और सेमीफाइनल-3 में 93.67 के साथ चौथा स्थान हासिल किया. इसी कॉम्पिटीशन में भारत के अलावा चीन भी ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम करने में सफल रहा. ब्रिज को पहली बार एशियाई खेलों में शामिल किया गया है.