राष्ट्रीय शिविर खिलाड़ियों के लिए वर्ल्ड कप टीम में जगह बनाने का आखिरी मौका : हरेंद्र सिंह

इस राष्ट्रीय शिविर के लिए तीन गोलकीपरों पीआर श्रीजेश, सूरज करकेरा और कृष्ण पाठक को चुना गया है. 

राष्ट्रीय शिविर खिलाड़ियों के लिए वर्ल्ड कप टीम में जगह बनाने का आखिरी मौका : हरेंद्र सिंह
हरेंद्र सिंह को अंतिम 18 सदस्यीय टीम चुनने का मौका मिलेगा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : भारत के हॉकी कोच हरेंद्र सिंह ने कहा है कि एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी विश्व कप के लिए आदर्श तैयारी थी और टीम को अंतिम रूप देने से पहले भारतीय शिविर संभावित खिलाड़ियों के पास अपनी क्षमता दिखाने का अंतिम मौका होगा. हॉकी इंडिया ने बुधवार को पुरुष विश्व कप से पहले अंतिम राष्ट्रीय शिविर के लिए 34 संभावित खिलाड़ियों की घोषणा की. यह शिविर भुवनेश्वर में 28 नवंबर से 16 दिसंबर तक कलिंगा स्टेडियम में चलेगा.

इस शिविर में हरेंद्र को मुख्य खिलाड़ियों के साथ काम करने और अंतिम 18 सदस्यीय टीम चुनने का मौका मिलेगा. हरेंद्र ने कहा, ‘‘मस्कट में पांचवीं एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी 2018 में हमारा अभियान विश्व कप से पहले टीम की तैयारी के लिए अच्छा था लेकिन अब हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण समय है क्योंकि हमें ऐसे विभागों में काम करना है जिनमें सुधार की गुंजाइश है.’’  

उन्होंने कहा, ‘‘यह शिविर सभी 34 खिलाड़ियों को कड़ी मेहनत करने और यह दिखाने का मौका देगा कि वे टीम को क्या मजबूती दे सकते हैं. यह सभी खिलाड़ियों के लिए मौका है कि वे दिखाएं कि वे टीम को क्या दे सकते हैं.’’ 

मस्टक में हाल में संपन्न एशियाई चैंपियन्स ट्रॉफी में पाकिस्तान के साथ भारत संयुक्त विजेता रहा था. शिविर के लिए तीन गोलकीपरों पीआर श्रीजेश, सूरज करकेरा और कृष्ण पाठक को चुना गया है. डिफेंडर हरमनप्रीत सिंह, गुरिंदर सिंह, कोथाजीत सिंह, सुरेंदर कुमार, अमित रोहिदास, जरमनप्रीत सिंह, प्रदीप सिंह, सुमन बेक और सुल्तान आफ जोहोर कप 2018 में जूनियर पुरुष टीम के कप्तान मनदीप मोर को भी शिविर में शामिल किया गया है. 

मिडफील्डरों में मनप्रीत सिंह, चिंगलेनसाना सिंह कांगुजाम, सुमित, सिमरनजीत सिंह, निलाकांत शर्मा, हार्दिक सिंह, ललित कुमार उपाध्याय, विवेक सागर प्रसाद, यशदीप सिवाच और विशाल अंतिल को चुना गया है.

फॉरवर्ड पंक्ति के लिए मुकाबला आकाशदीप सिंह, गुरजंत सिंह, मनदीप सिंह, दिलप्रीत सिंह, सुमित कुमार, गुरसाहिबजीत सिंह और शिलानंद लाकड़ा के बीच होगा.

इस साल एफआईएच चैंपियन्स ट्राफी के दौरान चोटिल हुए दिग्गज स्ट्राइकर रमनदीप सिंह के अलावा अनुभवी डिफेंडरों रुपिंदर पाल सिंह और बीरेंद्र लाकड़ा को भी शिविर में जगह दी गई है. पिछले शिविर में चोटिल हुए फॉरवर्ड एसवी सुनील को भी शिविर में चुना गया है लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं है कि वह चोट से पूरी तरह उबरे हैं या नहीं.