अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की सदस्यता के लिये नामांकित हुईं नीता अंबानी

अरबपति मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की सदस्यता के लिये नामित किया गया है और यदि उन्हें दो से चार अगस्त के बीच होने वाले आईओसी सत्र में चुना जाता है तो वह दुनिया की सर्वोच्च खेल संस्था में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बन जाएंगी। 

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की सदस्यता के लिये नामांकित हुईं नीता अंबानी

नई दिल्ली : अरबपति मुकेश अंबानी की पत्नी नीता अंबानी को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की सदस्यता के लिये नामित किया गया है और यदि उन्हें दो से चार अगस्त के बीच होने वाले आईओसी सत्र में चुना जाता है तो वह दुनिया की सर्वोच्च खेल संस्था में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बन जाएंगी। 

स्विट्जरलैंड स्थित आईओसी ओलंपिक अभियान की सर्वोच्च संस्था है और उसकी ग्रीष्म और शीतकालीन और परालंपिक खेलों के आयोजन की जिम्मेदारी होती है। एक बयान में कहा गया है, 'रिलायंस फाउंडेशन की संस्थापक और अध्यक्ष नीता अंबानी को आईओसी के नये सदस्य के लिये उम्मीद्वार के रूप में नामांकित किया गया है।' 

चुनाव दो से चार अगस्त के बीच रियो डि जनेरियो में 129वें आईओसी सत्र में होंगे। स्वतंत्र चयन प्रक्रिया आईओसी सदस्यों की भर्ती की नई प्रणाली अपनाता है जो ओलंपिक एजेंडा 2020 की सिफारिशों पर आधारित है। एक बार चुने जाने पर वह 70 साल की उम्र तक सदस्य बनी रहेंगी। अंबानी आईओसी के लिये नामांकित होने वाली पहली भारतीय महिला हैं। 

आईओसी में पहले भारतीय प्रतिनिधि सर दोराबजी टाटा थे जबकि राजा रणधीर सिंह वर्तमान में आईओसी के मानद सदस्य हैं। वह 2000 से 2014 तक इसके सदस्य रहे थे। ओलंपिक चार्टर और आईओसी नियमों के अनुसार जिस श्रेणी के तहत अंबानी के नाम पर विचार किया जा रहा है, वह उन स्वयंसेवकों के लिये है जो आईओसी और ओलंपिक अभियान का अपने देश में प्रतिनिधित्व करेंगे। वे आईओसी के अंदर अपने देश के प्रतिनिधि नहीं होते हैं। इस तरह के नामांकितों की सेवानिवृति की उम्र 70 साल होती है।