पीवी सिंधु #MeToo समर्थन में, कहा- शिकायतों के साथ महिलाओं का सामने आना सराहनीय

बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने कहा कि दूसरे खिलाड़ियों का पता नहीं, लेकिन उन्हें कभी ऐसी स्थिति का सामना नहीं करना पड़ा. 

पीवी सिंधु #MeToo समर्थन में, कहा- शिकायतों के साथ महिलाओं का सामने आना सराहनीय
पीवी सिंधु ने बुधवार को नई दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान #MeToo कैंपेन का समर्थन किया. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने यौन उत्पीड़न के खिलाफ आवाज उठा रही महिलाओं की सराहना की और #MeToo कैंपेन का समर्थन किया. इस कैंपेन की हालिया शुरुआत बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा अभिनेता नाना पाटेकर पर लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद हुई है. 

सिधु ने महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर ‘वोडाफोन सखी’ नामक सेवा की शुरुआत के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया. उन्होंने इस मौके पर  #MeToo कैंपेन के बारे में कहा, ‘मैं उन लोगों की सराहना करती हूं, जो सामने आकर इस बारे में अपनी बात रख रही हैं. मैं इस चीज का सम्मान करती हूं कि वे आगे आकर अपनी राय जाहिर कर रही हैं.’ 
 

PV Sindhu
नई दिल्ली में ‘वोडाफोन सखी’ के कार्यक्रम में पीवी सिंधु और उनकी मां पी विजया भी मौजूद थीं. (फोटो: PTI)

सिंधु से पूछा गया कि क्या खेल के क्षेत्र में इस तरह की चीजें होती हैं, तो उन्होंने कहा, ‘मुझे अन्य लोगों के बारे में नहीं पता. लेकिन जहां तक मेरा सवाल है, मैं जबसे इस क्षेत्र में हूं, मुझे कभी इस तरह की दिक्कत नहीं हुई.’ गौरतलब है कि बैडमिंटन स्टार ज्वाला गुट्टा ने एक दिन पहले ही ट्वीट कर कहा कि शायद उन्हें भी मानसिक प्रताड़ना की बात उठानी चाहिए. वे भी इससे गुजर चुकी हूं. #मी टू. 

यह भी पढ़ें: बैडमिंटन स्टार ज्‍वाला गुट्टा भी #MeToo कैंपेन से जुड़ीं, लगाया यह आरोप...

हाल ही में तनुश्री दत्ता ने अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. इसके बाद से ही #मीटू अभियान ने जोर पकड़ लिया है. इस अभियान के तहत कई महिलाओं ने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न या यौन दुर्व्यवहार के अनुभव साझा किए. इसके लपेटे में केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर और फिल्म अभिनेता आलोक नाथ जैसे बॉलीवुड और मीडिया जगत के कई नामी-गिरामी चेहरे आए हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.