close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

US Open: नडाल पांचवीं बार फाइनल में, पहली बार के रूसी फाइनलिस्ट से होगा मुकाबला

स्पेन के राफेल नडाल करियर में 18 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके हैं. वे रोजर फेडरर के रिकॉर्ड 20 ग्रैंडस्लैम से दो खिताब दूर हैं. 

US Open: नडाल पांचवीं बार फाइनल में, पहली बार के रूसी फाइनलिस्ट से होगा मुकाबला
स्पेन के राफेल नडाल और रूस के डेनिल मेदवेदेव (दाएं) रविवर को करियर में सिर्फ दूसरी बार आमने-सामने होंगे. (फोटो: Reuters)

नई दिल्ली: स्पेनिश दिग्गज राफेल नडाल (Rafael Nadal) साल के चौथे और आखिरी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट यूएस ओपन के फाइनल में पहुंच गए हैं. उन्होंने सेमीफाइनल में इटली के मातेओ बेरेतिनी (Matteo Berrettini) को ‘खेल-खेल’ में हरा दिया. नडाल 19 साल के अपने करियर में पांचवीं बार यूएस ओपन (US Open) के फाइनल में पहुंचे हैं. फाइनल में उनका मुकाबला रूस के डेनिल मेदवेदेव (Daniil Medvedev) से होगा. 23 साल के मेदवेदेव अपने करियर में पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे हैं. 

33 साल के राफेल नडाल फाइनल ने करियर में अब तक 18 ग्रैंडस्लैम खिताब जीते हैं. रोजर फेडरर ने पुरुष सिंगल्स में सबसे अधिक 20 ग्रैडस्लैम खिताब जीते हैं. अगर नडाल रविवार को फाइनल मुकाबला जीत लेते हैं तो उनके नाम 19 ग्रैंडस्लैम हो जाएंगे. ऐसा होने पर उनके पास अगले साल साल फेडरर के रिकॉर्ड 20 ग्रैंडस्लैम खिताब की बराबरी करने का मौका होगा. 

यह भी पढ़ें: बंगाल के ईश्वरन खटखटा रहे टीम इंडिया का दरवाजा, दूर कर सकते हैं ओपनिंग की कमजोरी

दूसरी सीड राफेल नडाल ने सेमीफाइनल वही बेहतरीन फॉर्म दिखाया, जो पूरे टूर्नामेंट में दिखाते आ रहे हैं. उनके इस फॉर्म के आगे 24वीं वरीयता प्राप्त मातेओ बेरेतिनी ढाई घंटे भी नहीं टिक सके. नडाल ने उन्हें बड़ी आसानी से सीधे सेटों में 7-6 (8-6), 6-4, 6-1 से हरा दिया. 

इससे पहले पांचवीं वरीयता प्राप्त डेनिल मेदवेदेव ने बुल्गारिया के ग्रिगोर दिमित्रोव (Grigor Dimitrov) को हराकर फाइनल में प्रवेश किया. रूस के मेदवेदेव ने सीधे सेटों में जीत दर्ज की. उन्होंने गैरवरीयता प्राप्त दिमित्रोव को 7-6 (7-5), 6-4, 6-3 से मात दी. 

यह भी पढ़ें: इस टीम के ड्रेसिंग रूम में दिखे दिनेश कार्तिक, BCCI ने भेजा नोटिस; कहा- 7 दिन के भीतर जवाब दें

यह 14 साल में पहला मौका है, जब रूस का कोई खिलाड़ी किसी ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा है. इससे पहले 2005 में मरात साफिन ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई थी. मरात साफिन ने तब खिताब भी जीता था. डेनिल मेदवेदेव उनकी इस जीत से जरूर प्रेरणा लेना चाहेंगे. 

स्पेन के राफेल नडाल और रूस के डेनिल मेदवेदेव रविवर को करियर में सिर्फ दूसरी बार आमने-सामने होंगे. दोनों के बीच पहला मुकाबला इसी साल कनाडा में एटीपी मास्टर्स टूर्नामेंट में हुआ था. तब राफेल नडाल ने मेदवेदेव को 6-3, 6-0 से हराया था. 

(इनपुट: Reuters)