T20 विश्व कप 2016 तक टीम डायरेक्टर बने रहेंगे शास्त्री

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने सलाहकार समिति के सुझावों के आधार पर रवि शास्त्री को भारत में अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप तक भारतीय क्रिकेट टीम का डायरेक्टर बरकरार रखा है।

T20 विश्व कप 2016 तक टीम डायरेक्टर बने रहेंगे शास्त्री

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने सलाहकार समिति के सुझावों के आधार पर रवि शास्त्री को भारत में अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप तक भारतीय क्रिकेट टीम का डायरेक्टर बनाए रखने का फैसला लिया है।

शास्त्री को अगस्त 2014 में टीम डायरेक्टर नियुक्त किया गया था। उनके कार्यकाल में सात महीने का और विस्तार करके अप्रैल 2016 में टी20 विश्व कप खत्म होने तक बढ़ाया गया है। छठा टी20 विश्व कप भारत में 11 मार्च से तीन अप्रैल तक होगा। पूर्व हरफनमौला शास्त्री ने पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में हार के बाद पद संभाला था। इसके बाद भारतीय टीम ने इंग्लैंड में वनडे श्रृंखला जीती। उनके टीम डायरेक्टर रहते टीम ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में हुए 50 ओवरों के विश्व कप में सेमीफाइनल तक पहुंची। इसके अलावा विराट कोहली की अगुवाई में टेस्ट टीम ने श्रीलंका में 22 साल बाद श्रृंखला जीती ।

सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की सदस्यता वाली सलाहकार समिति ने उनके कार्यकाल में विस्तार की सलाह दी थी। समिति ने सहायक कोचों का कार्यकाल भी अगले साल टी20 विश्व कप के बाद तक बढ़ाने की सलाह दी है। संजय बांगड़ बल्लेबाजी के सहायक कोच होंगे जबकि भरत अरूण गेंदबाजी और आर श्रीधर फील्डिंग के सहायक कोच रहेंगे। 

बीसीसीआई अध्यक्ष जगमोहन डालमिया और सचिव अनुराग ठाकुर ने सहयोगी स्टाफ के काम की तारीफ की और इस फैसले को सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया। ऐसी अटकलें हैं कि कोचिंग के लिये अच्छे उम्मीदवारों के अभाव में यह फैसला लिया गया है। ठाकुर ने हाल ही में श्रीलंका में कहा था कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला से पहले नये कोच का ऐलान किया जायेगा।

श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में भारतीय टीम की शानदार वापसी और जीत ने शास्त्री के पक्ष में माहौल बनाया। क्रिकेट सलाहकार समिति का गठन कोच के पद के लिये सिफारिशों के लिये किया गया था लेकिन समिति की अभी तक सिर्फ एक बैठक हुई है। 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.