close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हॉकी: अधूरा रह गया सरदार सिंह का टोक्यो ओलंपिक में खेलने का सपना, संन्यास का ऐलान

32 साल के सरदार सिंह ने 350 से ज्यादा इंटरनेशनल मैच खेले. उन्होंने 2008 से 2016 तक भारतीय टीम की कप्तानी की. 

हॉकी: अधूरा रह गया सरदार सिंह का टोक्यो ओलंपिक में खेलने का सपना, संन्यास का ऐलान
पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने बुधवार को संन्यास का ऐलान किया. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: भारतीय हॉकी के दिग्गज खिलाड़ी सरदार सिंह ने संन्यास ले लिया है. उन्होंने बुधवार को इसकी घोषणा की. इसके साथ ही उनका टोक्यो ओलंपिक में खेलने का सपना अधूरा रह गया. सरदार सिंह ने 12 साल के करियर में 350 से अधिक इंटरनेशनल मैच खेले. उन्हें 2012 में अर्जुन पुरस्कार और 2015 में पद्म श्री से नवाजा गया. 

32 साल के सरदार सिंह ने बुधवार को कहा, ‘मैं भारतीय टीम की ओर से लगभग 12 साल तक खेला. यह लंबा समय है. अब वक्त आ गया है कि मैं नई पीढ़ी के लिए जगह खाली करूं. यह नेशनन टीम में दूसरे खिलाड़ी को बेटन पकड़ाने का वक्त है.’

8 साल तक भारतीय टीम की कप्तानी की 
सरदार सिंह के नाम सबसे कम उम्र में भारतीय हॉकी टीम की कप्तानी करने का रिकॉर्ड है. उन्होंने 2008 में 22 साल की उम्र में सुल्तान अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट में भारत की कमान संभाली थी. इसके बाद वे 2016 तक भारतीय टीम के कप्तान रहे. साल 2016 में उनकी जगह गोलकीपर पीआर श्रीजेश को कप्तानी सौंपी गई. 

एशियन गेम्स का खराब प्रदर्शन बना संन्यास का कारण 
सरदार ने कहा, ‘मैंने एशियन गेम्स में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद यह फैसला लिया, जिसमें भारत को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था. मैंने चंडीगढ़ में अपने परिवार, हॉकी इंडिया और अपने दोस्तों से बात की. इसके बाद ही संन्यास का फैसला किया. मुझे लगता है कि अब हॉकी से आगे के बारे में सोचने का सही समय आ गया है.’ 

2020 ओलंपिक में खेलने की इच्छा अधूरी रह गई 
सरदार सिंह ने फरवरी में कहा था कि उनके अंदर काफी हॉकी बची है. वे 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक तक नेशनल टीम से खेलना चाहतेे हैं. सरदार की यह इच्छा अधूरी ही रह गई. एशियन गेम्स में उनके खेल की आलोचना हुई थी. माना जा रहा है कि इस आलोचना और नेशनल कैंप में नहीं चुने जाने के कारण ही सरदार ने संन्यास लिया.
नेशनल कैंप में नहीं चुने जाने का सवाल टाल गए 
सरदार सिंह के संन्यास की खबर उन्हें नेशनल कैंप के लिए नहीं चुने जाने के कुछ देर बाद आई. हॉकी इंडिया ने इस कैंप के लिए 25 खिलाड़ियों को चुना है. सरदार ने कैंप में नहीं चुने जाने के सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया. उन्होंने कहा कि वे शुक्रवार को नई दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अपने संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे.