टेबल टेनिस: शरत कमल 8वीं बार बने राष्ट्रीय चैंपियन, कमलेश मेहता के रिकॉर्ड की बराबरी की

महिला वर्ग में सुचित्रा मुखर्जी ने मानिक बत्रा को 4-3 (11-4, 11-13, 11-6, 5-11, 11-2, 9-11, 12-10) से हराया.

टेबल टेनिस: शरत कमल 8वीं बार बने राष्ट्रीय चैंपियन, कमलेश मेहता के रिकॉर्ड की बराबरी की

रांची: अनुभवी शरत कमल ने शीर्ष वरीयता प्राप्त एंथनी अमलराज को 4-1 (6-11, 11-6, 15-13, 11-8, 11-7) से हराकर आठवीं बार सीनियर राष्ट्रीय टेबल टेनिस चैंपियनशिप में पुरुष वर्ग का खिताब जीता और इस तरह से कमलेश मेहता के रिकॉर्ड की बराबरी की. शरत को इस जीत से दो लाख रुपए मिले, लेकिन उनके लिए इससे भी खुशी का क्षण तब आया जब उन्हें स्वयं मेहता ने गले लगाया जिन्होंने कई वर्षों से यह रिकॉर्ड अपने नाम बनाये रखा है. मेहता ने कहा, ‘‘यह मेरे लिये निजी तौर पर गौरवशाली क्षण है. शरत हर तरह की प्रशंसा का हकदार है.’’

शरत ने कहा, ‘‘उन्होंने (कमलेश) जो हासिल किया उसका कोई सानी नहीं. मैं वर्तमान खिलाड़ियों की तुलना में बेहतर हूं लेकिन उन्होंने अपने जमाने में उन्हीं की तरह बेहतर खिलाड़ियों से मुकाबला किया और यह सम्मान पाया.’’

महिला वर्ग में पश्चिम बंगाल की सुचित्रा मुखर्जी ने हैदराबाद की मानिक बत्रा को 4-3 (11-4, 11-13, 11-6, 5-11, 11-2, 9-11, 12-10) से हराकर खिताब जीता. उन्हें 1.5 लाख रुपए की पुरस्कार राशि मिली. पुरुष युगल का खिताब सौम्यजीत घोष और जुबिन कुमार, जबकि महिला युगल का मौसमी पाल और कृतिका सिन्हा राय ने जीता. राज मंडल और अकुला श्रीजा ने मिश्रित युगल का खिताब अपने नाम किया.