close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजेंदर ने चेक गणराज्य में जीता सिल्वर, फिर भी वर्ल्ड चैंपियशिप मानकों से चूके

तेजिंदर ने चेक गणराज्य में गोला फेंक में सिल्वर मेडल जीता है. 

तेजेंदर ने चेक गणराज्य में जीता सिल्वर, फिर भी वर्ल्ड चैंपियशिप मानकों से चूके
तेजंदर पाल सिंह तूर वर्ल्ड चैंपियनशिप के मानकों को पूरा करने से चूक गए. (फोटो : IANS)

नई दिल्ली:  एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता गोला फेंक एथलीट तेजिंदर पाल सिंह तूर (Tijinder Pal Singh Toor) ने चेक गणराज्य में जारी एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में रजत पदक अपने नाम कर लिया. भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) की आधिकारिक ट्विटर पर जारी जानकारी के मुताबिक, अर्जुन अवार्डी तेजिंदर ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 20.09 मीटर का थ्रो किया. तजिंदर ने इससे पहले 19.09, 19.15, 19.87 और 19.75 मीटर का थ्रो किया था.

अर्जुन अवार्ड जीत चुके हैं तेजेंदर
मेजबान चेक रिपब्लिक के थॉमस स्टानेक, जो दो साल पहले लंदन में हुए पिछले वर्ल्ड चैंपियनशिप में चौथे स्थान पर थे, ने 20.86 मीटर की दूरी पर गोला फेंककर गोल्ड मेडल जीता. 24 साल के तेजेंदर का व्यक्तिगत श्रेष्ठ थ्रो 20.75 मीटर है. वे पहले ही विश्व चैंपियनशिप के लिए एरिया चैंपियन के तौर पर क्वालिफाई कर चुके हैं. उन्होंने इसी साल अप्रैल में एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था. तेजेंदर को इसी साल अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया गया था. 

तेजेंदर विश्व चैंपियनशिप मानकों को पूरा नहीं कर सके लेकिन उनके शानदार प्रयासों ने उन्हों सिल्वर मेडल जरूर दिलवा दिया. भाला फेंक एथलीट शिवपाल सिंह ने भी इसी टूर्नामेंट में अपना स्वर्ण पदक जीता. लगभग एक महीने के बाद लौट रहे शिवपाल ने 81.36 मीटर के थ्रो के साथ पहला स्थान हासिल किया.

उनके अलावा विपिन कसाना ने 80.13 मीटर थ्रो के साथ रजत पदक जीता. महिलाओं में अनु रानी 60.87 मीटर के थ्रो के साथ दूसरे नंबर पर रहीं. जापान की हरुका कितागुची 61.94 मीटर के थ्रो के साथ पहले स्थान पर रहीं.
(इनपुट आईएएनएस)