Australian Open: सोफिया केनिन ने चैंपियन बनते ही मां को किया फोन, कहा- अब आप रिलैक्स...

Australian Open 2020: अमेरिका की सोफिया केनिन ने ऑस्ट्रेलियन ओपन का महिला सिंगल्स का खिताब जीत लिया है. यह उनका पहला ग्रैंडस्लैम खिताब है. 

Australian Open: सोफिया केनिन ने चैंपियन बनते ही मां को किया फोन, कहा- अब आप रिलैक्स...
अमेरिका की सोफिया केनिन ने 21 साल की उम्र में पहला ग्रैंडस्लैम खिताब जीता. (फोटो: PTI)

मेलबर्न: अमेरिका की युवा टेनिस खिलाड़ी सोफिया केनिन ने शनिवार को ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open 2020) का सिंगल्स खिताब जीत लिया. यह उनके करियर का पहला ग्रैंडस्लैम खिताब है. अमेरिका की सोफिया केनिन (Sofia Kenin) ने जीत के बाद कहा कि आखिरकार उनका सपना पूरा हो गया. 21 साल की सोफिया ने महिला सिंगल्स के फाइनल में स्पेन की गार्बिने मुगुरुजा (Garbine Muguruza) को हराकर ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) की ट्रॉफी उठाई. 

वर्ल्ड नंबर-15 सोफिया केनिन ने गार्बिने मुगुरुजा को 4-6, 6-2, 6-2 से हराया. यह मैच दो घंटे तीन मिनट तक चला. केनिन ने मैच के बाद कहा, ‘मैं सिर्फ इतना ही कहना चाहती हूं कि आखिरकार मेरा सपना पूरा हो गया. मैं इस सुखद एहसास को शब्दों में बयां नहीं कर सकती. मैं काफी भावुक हूं. सपने सचे होते हैं, मेरा भी हुआ है.’

यह भी पढ़ें: T20I Cricket: ऑस्ट्रेलिया ने रोका भारत का विजयरथ, पहली हार को किया मजबूर

सोफिया केनिन ने माना कि जब वे मुकाबले में उतरीं तो थोड़ी नर्वस थीं. उन्होंने साथ ही बताया, ‘जब मैं कोई बड़ा मैच खेलती हूं तो मुझसे ज्यादा तो मेरी मां नर्वस हो जाती हैं. इस कारण वे मैच भी नहीं देखतीं. इसीलिए जैसे ही मैच खत्म हुआ, मैंने उन्हें फोन किया. मैंने उन्हें बताया कि मैं जीत गई हूं. अब आप रिलैक्स हो सकती हो.’ 

सोफिया केनिन पहली बार किसी ग्रैंडस्लैम के फाइनल में खेल रही थीं. वहीं यह उनका तीसरा ऑस्ट्रेलियन ओपन था. वे 2018 में पहले और 2019 में दूसरे दौर में ही हार कर बाहर हो गई थीं. सोफिया केनिन ने कहा, ‘ पिछले दो सप्ताह मेरी जीवन के सबसे खास समय रहे हैं. जिन्होंने मेरा समर्थन किया उन सबकी शुक्रगुजार हूं. मैं मुगुरुजा को बधाई देती हूं. यह शानदार मैच रहा.’

यह भी देखें: MS धोनी ने पत्नी पर फॉलोअर बढ़ाने के लिए लगाया ‘चोरी’ का आरोप, देखें VIDEO

वर्ल्ड नंबर-32 गार्बिने मुगुरुजा की कोशिश थी कि वे अपना तीसरा ग्रैंडस्लैम जीतें. वे 2016 में फ्रेंच ओपन और 2017 में विबंलडन जीत चुकी हैं. 2015 में वे विबंलडन के फाइनल में भी पहुंची थीं, लेकिन जीत हासिल नहीं कर सकी थीं. मुगुरुजा ने कहा, ‘मैं काफी भावुक हूं. सोफिया तुम जिस तरह से खेलीं उसके कारण तुम ट्रॉफी की हकदार थीं, तुम्हें बधाई. उम्मीद है कि तुम आगे और भी फाइनल खेलोगी. मैं उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं जिन्होंने मेरा समर्थन किया.’

(इनपुट: Reuters/IANS) 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.