भारत अंडर-17 विश्व कप में बनने की ओर हैं ये अनोखे रिकॉर्ड

भारत अंडर-17 विश्व कप में बनने की ओर हैं ये अनोखे रिकॉर्ड
सर्वाधिक दर्शकों ओर गोलों का बन सकता है रिकॉर्ड (फाइल फोटो)

इस बार अंडर 17 फीफा विश्वकप का भारत में आयोजन काफी लोकप्रियता और सुर्खियां बटोर चुका है. भारत पहली बार फीफा अंडर-17 विश्व कप की मेजबानी के दौरान इस चरण में दर्शकों की संख्या और गोलों की संख्या का रिकार्ड बनाने के करीब बढ़ रहा है. आयोजक पहले ही इस बात पर खुशी जता चुके हैं कि भारत में  अंडर 17 फीफा विश्वकप में दर्शकों की संख्या फीफा विश्वकप सीनियर के दर्शकों की संख्या से ज्यादा रही है और सबसे ज्यादा दर्शकों का रिकॉर्ड बनना तय है.

 

देश के छह स्थलों में विश्व कप के मुकाबले आयोजित किये गये जिसमें काफी संख्या में दर्शकों ने शिरकत की जो 12,24,027 दर्शकों के करीब रही और यह चीन में 1985 में टूर्नामेंट के पहले चरण के दौरान 12,30,976 दर्शकों की संख्या से महज 6949 कम है. मुंबई में स्पेन और माली के बीच नवी मुंबई में खेले गये दूसरे सेमीफाइनल में 37,487 दर्शक मौजूद थे. इस तरह से इस टूर्नामेंट को अब तक कुल 12,24,027 दर्शक स्टेडियम पहुंचकर देख चुके हैं. अब जबकि केवल 6000 दर्शकों की जरूरत है तब भारत फीफा अंडर-17 विश्व कप में स्टेडियम में पहुंचने वाले दर्शकों की संख्या में चीन के वर्षों पुराने रिकार्ड को तोड़ने की स्थिति में पहुंच गया है.

यह भी पढ़ें :FIFA U17 World Cup 2017: मिलिए जैक्‍सन सिंह से, जिन्‍होंने 'फीफा' में पहले गोल से रचा इतिहास

कोलकाता के साल्टलेक स्टेडियम में होने वाले फाइनल में बड़ी संख्या में दर्शकों के पहुंचने की उम्मीद है क्योंकि मैच की सभी टिकटें बिक चुकी हैं. इस स्टेडियम की क्षमता 66,687 दर्शकों की है. अभी टूर्नामेंट के दो मैच और बचे हैं जिसमें तीसरा मैच और फाइनल 28 अक्तूबर को कोलकाता में खेला जायेगा जिससे भारत में 2017 का चरण फीफा अंडर-17 विश्व कप में सबसे ज्यादा दर्शकों की संख्या का रिकार्ड बन जायेगा.

सर्वाधिक गोल होने का रिकॉर्ड बनना भी संभव
इसके अलावा इस अंडर-17 विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल होने का रिकॉर्ड भी बनने की पूरी संभावना बताई जा रही है. भारतीय चरण टूर्नामेंट में सर्वाधिक गोल के मामले में भी रिकार्ड बनाने जा रहा है जिसमें अभी तक 50 मैचों में 170 गोल हुए हैं जो संयुक्त अरब अमीरात में 2013 चरण के दौरान सर्वाधिक 172 गोल से केवल दो गोल से पीछे है.