Golf: टाइगर वुड्स की 2019 में दमदार वापसी, कहा- बच्चों के लिए ‘यू-टयूब गोल्फर’ हूं

अमेरिका के स्टार गोल्फर टाइगर वुड्स ने चार सर्जरी के बाद 2019 में वापसी की और आगस्ता मास्टर्स का खिताब जीता. 

Golf: टाइगर वुड्स की 2019 में दमदार वापसी, कहा- बच्चों के लिए ‘यू-टयूब गोल्फर’ हूं
43 साल के टाइगर वुड्स ने 15 मेजर खिताब जीते हैं. (फोटो: WION)

बहामास: दुनिया के महानतम गोल्फर माने जाने वाले टाइगर वुड्स (Tiger Woods) के लिए यह साल शानदार रहा. अमेरिका के टाइगर वुड्स ने इस साल चार सर्जरी के बाद वापसी की और आगस्ता मास्टर्स (Augusta masters) का खिताब जीता. उन्होंने यह खिताब पांचवीं बार जीता है. यह 11 साल में उनका पहला मेजर खिताब भी है. अब वे एक सप्ताह के ब्रेक के बाद बहामास में हीरो वर्ल्ड चैलेंज में हिस्सा ले रहे हैं. इस स्टार गोल्फर से हमारे सहयोगी चैनल वियॉन (WION) ने बात की. 

आपने 2017 में कहा था कि आप अपने बच्चों के लिए यू-ट्यूब गोल्फर हैं? इसकी क्या वजह थी? बतौर गोल्फर और पिता क्या अंतर महसूस करते हैं? वियॉन के इस सवाल पर टाइगर वुड्स ने कहा, ‘बड़ा अंतर है. मैंने कई मेजर टूर्नामेंट जीते हैं. लेकिन जब बच्चे बड़े हुए और गोल्फ समझने लगे, तब दुर्भाग्य से मैंने कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीता था. मैं मेजर टूर्नामेंट की जीत की खुशी अपने बच्चों के साथ नहीं बांट पाया. इसलिए उन्हें अंदाजा नहीं था कि मेजर टूर्नामेंट जीतने के क्या मायने हैं. इसी कारण मैंने यू-ट्यूब गोल्फर कहा क्योंकि उन्होंने मुझे ज्यादातर यू-ट्यूब पर ही खेलते और जीतते हुए देखा है.’ 

यह भी पढ़ें: अंडर-19 विश्व कप: पाकिस्तानी टीम में चुना गया टेस्ट क्रिकेटर, कोच ने बताया- मुख्य हथियार

टाइगर वुड्स ने आगे कहा, ‘बच्चों ने मुझे टीवी पर कई बार टूर्नामेंट जीतते देखा था. लेकिन अपने सामने मेजर टूर्नामेंट जीतते नहीं देखा था. खुशी की बात है कि अब ऐसा नहीं है. मैंने उनके सामने एक मेजर खिताब जीत लिया है.’ टाइगर वुड्स ने 15 मेजर टूर्नामेंट जीते हैं. इनमें आगस्ता मास्टर्स के पांच खिताब शामिल हैं. उन्होंने पीजीए चैंपियनशिप में 4 बार खिताब जीत दर्ज की है. इसके अलावा यूएस ओपन और द ओपन चैंपियनशिप के तीन-तीन खिताब भी उनके नाम हैं. 

आप चोट से परेशान रहे हैं. एक बार तो आपने कहा था कि आपको दर्द के साथ खेलना पड़ता है. क्या अब भी ऐसा है? इस सवाल के जवाब में टाइगर ने कहा कि ऐसा नहीं है. अब वे पूरी तरह फिट हैं और बिना दर्द के खेल रहे हैं.  

यह भी पढ़ें: INDvsWI: 2 साल से भारत पर जीत के लिए तरस रहा है वेस्टइंडीज, हार चुका है लगातार 6 मैच

वियॉन ने टाइगर से पूछा कि आप उस देश से आते हैं, जो ओलंपिक का जश्न मनाता है. आपके देश में ओलंपिक के दिग्गज रहे हैं. आपके लिए ओलंपिक के क्या मायने हैं क्योंकि आप पिछली बार चोट के कारण इसमें हिस्सा नहीं ले पाए थे. टाइगर वुड्स ने इस सवाल के जवाब में कहा, ‘किसी भी टूर्नामेंट में अपने देश का प्रतिनिधित्व करना बड़ी बात है. ओलंपिक में तो इसका महत्व और बढ़ जाता है. जाहिर है, मैं ऐसे किसी मौके को छोड़ने वाला नहीं हूं. हालांकि, इसमें अभी वक्त है.’