Tokyo Olympic 2020: एक ही दिन में भारत के दो तैराकों का टूटा दिल, पदक की रेस से हुए बाहर

Tokyo Olympic 2020: भारतीय खिलाड़ियों के हाथ टोक्यो ओलंपिक के दूसरे दिन कोई भी पदक नहीं लगा. इसी बीच दो भारतीय तैराक एक ही दिन में बाहर हो गए.

Tokyo Olympic 2020: एक ही दिन में भारत के दो तैराकों का टूटा दिल, पदक की रेस से हुए बाहर
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारतीय खिलाड़ियों के हाथ टोक्यो ओलंपिक के दूसरे दिन कोई भी पदक नहीं लगा. ज्यादातर खेलों में हमारे खिलाड़ियों को निराशा ही झेलने को मिली. ऐसा ही कुछ तैराकी के क्षेत्र से भी देखने को मिला. जिसमें युवा तैराक माना पटेल का ओलंपिक मेडल जीतने का सपना टूट गया.   

ये दो तैराक हुए बाहर

भारतीय तैराक श्रीहरि नटराज और माना पटेल का टोक्यो ओलंपिक में अभियान थम गया जब रविवार को यहां ये दोनों युवा तैराक अपनी-अपनी स्पर्धाओं के सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रहे. ओलंपिक में पदार्पण कर रहे ये दोनों तैराक 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धाओं में अपने निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी करने में भी नाकाम रहे.

श्रीहरि का टूटा सपना

श्रीहरि पुरुष 100 मीटर बैकस्ट्रोक हीट में 54.31 सेकेंड के साथ छठे स्थान पर रहे. बीस साल के इस तैराक का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 53.77 सेकेंड है जो उन्होंने जून में इटली में सेते कोली ट्रॉफी के दौरान किया था और टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था. श्रीहरि कुल 40 तैराकों में 27वें स्थान पर रहे। शीर्ष 16 तैराकों ने सेमीफाइनल में जगह बनाई.

दूसरे नंबर पर रही माना

दूसरी तरफ माना ने महिला 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धा में एक मिनट 5.20 सेकेंड का समय लिया. उनकी हीट में जिंबाब्वे की डोनाटा काताई एक मिनट 2.73 सेकेंड के समय के साथ शीर्ष पर रही. ग्रेनाडा की किम्बर्ले इन्स एक मिनट 10.24 सेकेंड के समय के साथ हीट एक में तीसरे स्थान पर रही. 21 साल की भारतीय तैराक माना ने ‘यूनिवर्सेलिटी कोटा’ के आधार पर टोक्यो खेलों में जगह बनाई थी. वह कुल 39वें स्थान पर रहीं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.