Tokyo Olympics: Shooting में भारत के मेडल की उम्मीद खत्म, ऐश्वर्य और संजीव भी नाकाम

शूटिंग (Shooting) में भारत को फिर निराशा हाथ लगी है. रियो डी जनेरियो ओलंपिक (Rio de Janeiro 2016) के बाद अब टोक्यो ओलंपकि (Tokyo Olympics) से भी भारत के निशानेबाजों को खाली हाथ लौटना पड़ेगा.  

Tokyo Olympics: Shooting में भारत के मेडल की उम्मीद खत्म, ऐश्वर्य और संजीव भी नाकाम
श्वर्य प्रताप सिंह तोमर और संजीव राजपूत (फाइल फोटो)

टोक्यो: शूटिंग में सोमवार का दिन भारत के लिए बेहद निराशाजनक रहा. ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर (Aishwary Pratap Singh Tomar) और संजीव राजपूत (Sanjeev Rajput) पुरुष 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन (Men's 50m Rifle Three Positions) के फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहे.

ऐश्वर्य ने किया निराश

ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर (Aishwary Pratap Singh Tomar) असाका निशानेबाजी रेंज में नीलिंग में 397, प्रोन में 391 और स्टैंडिंग में 379 प्वाइंट्स से कुल 1167 प्वाइंट्स जुटाकर 21वें स्थान पर रहते हुए फाइनल में जगह बनाने की दौड़ से बाहर हो गए.

संजीव भी नाकाम

सीनियर शूट संजीव राजपूत (Sanjeev Rajput) ने भी निराश किया और नीलिंग में 387, प्रोन में 393 तथा स्टैंडिंग में 377 प्वाइंट्स से कुल 1157 प्वाइंट्स जुटाए. वह 39 निशानेबाजों के बीच 32वें स्थान पर रहते हुए क्वालीफिकेशन से ही बाहर हो गए.

टॉप-8 में नहीं मिली जगह

50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन में नीलिंग, प्रोन और स्टैंडिंग तीनों कैटेगरी की 10-10 निशानों की चार-चार सीरीज होती है. निशानेबाज हर सीरीज में ज्यादा से ज्यादा 100 अंक हासिल कर सकता है. क्वालीफिकेशन के बाद टॉप-8 शूटर्स फाइनल में जगह बनाते हैं.

इस बार भी खाली हाथ रहे शूटर्स

इसके साथ ही भारतीय निशानेबाजों का टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) से बिना मेडल जीते लौटना भी तय हो गया।. भारतीय शूटर्स पांच साल पहले रियो ओलंपिक (Rio Olympics) में भी एक भी मेडल नहीं जीत पाए थे. भारत ने 2012 के लंदन ओलंपिक में विजय कुमार के सिल्वर और गगन नारंग के ब्रॉन्ज पदक के तौर पर 2 मेडल जीते थे.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.