Tokyo Olympics: Sania Mirza-Ankita Raina की जोड़ी ने किया निराश, पहले ही मैच में मिली करारी शिकस्त

Tokyo Olympics: सानिया मिर्जा-अंकिता रैना की जोड़ी ने किया निराश, पहले ही मैच में मिली करारी हार

Tokyo Olympics: Sania Mirza-Ankita Raina की जोड़ी ने किया निराश, पहले ही मैच में मिली करारी शिकस्त
अंकिता रैना और सानिया मिर्जा (फोटो-Twitter)

नई दिल्ली: टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) टेनिस के वीमेंस डबल्स (Women's Doubles Tennis) मुकाबले में भारत की सानिया मिर्जा और अंकिता रैना (Sania Mirza-Ankita Raina) की जोड़ी का सफर पहले ही मैच के बाद खत्म हो गया.

भारतीय जोड़ी की करारी हार

सानिया मिर्जा (Sania Mirza) और अंकिता रैना (Ankita Raina) को यूक्रेन (Ukraine) की लियूडमायला किचेनकोक (Liudmyla Kichenok) और नाडिया किचेनकोक (Nadiia Kichenok) की जोड़ी ने 6-0, 6-7, 8-10 से मात दी.
 

यह भी पढ़ें- इस मुस्लिम महिला क्रिकेटर ने पेश की अनोखी मिसाल, मैच में हिजाब पहनकर की बॉलिंग
 

चौथी बार नाकाम हुईं सानिया

सानिया मिर्जा ने बीजिंग ओलंपिक (Beijing 2008) में सुनीता राव (Sunitha Rao), लंदन ओलंपिक (London 2012) में रश्मि चक्रवर्ती (Rushmi Chakravarthi) और रियो ओलंपिक (Rio 2016) में प्रार्थना थोंबारे (Prarthana Thombare) के साथ मिलकर वीमेंस डबल्स टेनिस (Women's Doubles Tennis) में हिस्सा लिया था, लेकिन हर बार वो ओलंपिक मेडल जीतने नाकाम रहीं.

 

पहला सेट जीतने की बावजूद मिली हार

सानिया और अंकिता ने पहला सेट 6-0 से जीतकर शानदार शुरूआत की लेकिन अगले दो सेट में लय कायम नहीं रख सकी । भारतीय जोड़ी करीब डेढ घंटे तक चला यह मुकाबला 6-0, 7-6, 10-8 से हार गई. सानिया दूसरे सेट में 5-3 से बढत मिलने के बाद मैच जीतने के लिये निर्णायक सर्विस पर थी लेकिन उन्होंने दबाव में आकर अपनी सर्विस गंवा दी.

दूसरे गेम में सानिय-रैना की हार

इसके बाद से उक्रेन की जोड़ी ने भारतीयों को वापसी का कोई मौका नहीं दिया. सुपर टाइब्रेकर में सानिया और रैना 1-8 से पीछे थे लेकिन उन्होंने लगातार सात अंक लेकर 8-8 से बराबरी की. इसके बाद दो अंक गंवाकर ओलंपिक से रवानगी तय कर ली. इससे पहले मैच के दूसरे ही गेम में प्रतिद्वंद्वियों की सर्विस तोड़का सानिया और अंकिता ने बढत बना ली थी.  उन्होंने पहला सेट 21 मिनट में जीत लिया.

किचेनोक बहनों की वापसी

दूसरे सेट के दूसरे गेम में अंकिता का बैकहैंड रिटर्न बेसलाइन के ऊपर से निकल गया जिसके बाद किचेनोक बहनों ने वापसी की. अंकिता ने 40-15 पर बढत बनाई लेकिन फोरहैंड पर उनका रिटर्न नेट में चला गया और सानिया ने भी गलतियां की.

भारतीय जोड़ी ने की गलतियां

छठे गेम में सानिया ने फोरहैंड पर विनर लगाकर मौका बनाया लेकिन अंकिता का रिटर्न फिर कमजोर रहा.  दूसरे सेट में सानिया के दमदार खेल के बूते भारत मैच जीतने से एक गेम दूर था. मैच के लिए सर्विस करते हुए सानिया ने लगातार 2 गलतियां कर दी और वहां से मैच भारत की पकड़ से छूटता चला गया.
 

 

5 साल पहले सानिया का बेस्ट प्रदर्शन

सानिया मिर्जा (Sania Mirza) मेडल के सबसे करीब रियो ओलंपिक 2016 (Rio Olympics 2016) में पहुंची थीं जब उन्होंने रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) के साथ जोड़ी बनाकर मिकस्ड डबल्स टेनिस इवेंट में हिस्सा लिया था. सानिया-रोहन की जोड़ी सेमीफाइनल में वीनस विलियम्स और राजीव राम (Venus Williams-Rajeev Ram) की जोड़ी से 6-2, 2-6, 3-10 से हार गई थी.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.