किताब में बड़े परिवार को बताया समस्या तो वीरेंद्र सहवाग ने लगा दी क्लास, यूजर्स ने दिया साथ

उन्होंने एक किताब में लिखे एक गलत पाठ के  लिए पाठ्यक्रम लिखने वाले की जमकर क्लास लगाई है. उन्हें इस मुहिम में अपने समर्थकों और यूजर्स का भी साथ मिला है.

किताब में बड़े परिवार को बताया समस्या तो वीरेंद्र सहवाग ने लगा दी क्लास, यूजर्स ने दिया साथ

नई दिल्ली : टीम इंडिया के धुरंधर सलामी बल्लेबाज रहे वीरेंद्र सहवाग अपने फनी ट्वीट्स और उनके जवाब के लिए भी खूब मशहूर हैं. सोशल मीडिया पर उनके मीम्स लोगों को खूब पसंद आते हैं. उन्होंने एक दिन पहले ही साधु के वेष में अपनी प्रोफाइल पिक्चर डालकर खूब सुर्खियां बटोरीं. अब उन्होंने एक किताब में लिखे एक गलत पाठ के  लिए पाठ्यक्रम लिखने वाले की जमकर क्लास लगाई है. उन्हें इस मुहिम में अपने समर्थकों और यूजर्स का भी साथ मिला है.

वीरेंद्र सहवाग ने एक किताब में लिखे पैराग्राफ पर लोगों का ध्यान दिलाया. इंग्लिश में लिखे इस पैराग्राफ में बड़े परिवार को समस्या की तरह बताया गया था. इसमें लिखा था कि बड़े परिवार में कई सदस्य होते हैं. इसलिए इसमें रहने वाले लोग कतई सुखी नहीं रह सकते. वीरेंद्र सहवाग ने इसी बात पर लोगों का ध्यान दिलाया.

वीरेंद्र सहवाग ने लिखा, इस तरह का बहुत सारा कंटेंट किताबों में भरा पड़ा है. अब अथॉरिटी इस पर ध्यान देगी. उम्मीद है वह इसे होमवर्क के तौर पर नहीं देंगे. हालांकि ये नहीं पता है कि ये किस किताब का हिस्सा है. लेकिन सहवाग को उनकी इस बात पर यूजर्स का खूब साथ मिला है. सभी ने इस बात के लिए किताब छापने वालों को आड़े हाथों लिया है.

कुछ लोगों ने इसी को मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और पीएमओ इंडिया को टेग करते हुए ध्यान दिलाया. कुछ लोगों ने लिखा है इसी सोच के कारण परिवार छोटे हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.