close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बॉक्सिंग: भारत ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में 4 मेडल पक्के किए, मैरीकॉम ने बनाया रिकॉर्ड

Women's World Boxing Championships: एमसी मैरीकॉम, मंजू रानी, जमुना बोरो और लवलिना बोरगोहेन ने विश्व महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. 

बॉक्सिंग: भारत ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में 4 मेडल पक्के किए, मैरीकॉम ने बनाया रिकॉर्ड
जमुना बोरो (बाएं) ने 54 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में जर्मनी की उसार्ला गोटलोब को करारी शिकस्त दी. (फोटो: IANS)

उलान उदे (रूस): भारत के लिए वुमंस वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप (Women's World Boxing Championships) में गुरुवार का दिन बेहतरीन रहा. देश के मुक्केबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कुल चार पदक पक्के किए. छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम, मंजू रानी, जमुना बोरो और लवलिना बोरगोहेन ने अपने-अपने वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बनाई. विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप रूस में खेली जा रही है. 

स्टार बॉक्सर एमसी मैरीकॉम (MC Mary Kom) ने 51 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में कोलंबिया की इंगोट वालेंसिया को 5-0 से मात दी. सेमीफाइनल में उनका सामना शनिवार को तुर्की की बुसेनांज कारिकोग्लू से होगा. 48 किग्रा वर्ग में छह बार विश्व चैंपियन रह चुकीं मैरीकॉम का यह 51 किग्रा वर्ग में विश्व चैंपियनशिप में पहला पदक होगा. 

यह भी पढ़ें: INDvsSA: विराट कोहली ने दिलीप वेंगसरकर का रिकॉर्ड तोड़ा, अब सौरव गांगुली निशाने पर 

48 किग्रा वर्ग में मैरीकॉम के नाम कुल सात पदक हैं और अब इस पदक को मिलाकर उनके कुल आठ पदक हो जाएंगे. मैरीकॉम महिला एवं पुरुष वर्ग दोनों को मिलाकर विश्व चैंपियनशिप में आठ पदक अपने नाम करने वाली पहली मुक्केबाज हैं. मैरी ने कहा, ‘मैं अपने देश के लिए सबसे बड़ा पदक जीतना चाहूंगी. मैं अपना बेस्ट दूंगी और उम्मीद है कि यहां स्वर्ण पदक अपने नाम करुंगी.’

मैरीकॉम के बाद छठी सीड मंजू ने टॉप सीड उत्तर कोरियाई खिलाड़ी किम ह्यांग मी को 48 किग्रा वर्ग में 4-1 से हराया. जजों ने क्वार्टर फाइनल बाउट के बाद मंजू के पक्ष में 29-28, 30-27, 29-28, 28-29, 29-28 से फैसला सुनाया. मंजू का सेमीफाइनल में थाईलैंड की चुथामाथ काकसात से सामना होगा, जिन्होंने बुल्गारिया की स्वेदा एसेनोवा को मात दी. 

जमुना बोरो ने 54 किग्रा में दमदार प्रदर्शन किया. उन्होंने क्वार्टर फाइनल मैच में जर्मनी की उसार्ला गोटलोब को 4-1 से करारी शिकस्त दी. मैच के पहले राउंड से ही जमुना ने अटैकिंग खेल दिखाया. उन्होंने अपनी मूवमेंट का बेहतरीन उपयोग करते हुए पहले राउंड में विपक्षी खिलाड़ी कई जैब दागे. दूसरे और तीसरे राउंड में भी जमुना अपने जर्मन प्रतिद्वंद्वी पर हावी नजर आई. सेमीफाइनल में जमुना का सामना टॉप सीड ताइवानी बॉक्सर हूआंग सियाओ-वेन से होगा. 

लवलिना बोरगोहेन का प्रदर्शन भी बेहतरीन रहा. उन्होंने 69 किग्रा वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पोलैंड की कैरोलिना कोस्जेवस्का को 4-0 से मात देकर अंतिम-4 में जगह बनाई. सेमीफाइनल में उनका सामना चीन की यांग लियू से होगा. भारत की कविता चहल को हालांकि, निराशा हाथ लगी. कविता को 81+ किग्रा वर्ग के अंतिम-8 के मुकाबले में बेलारूस की कावालीवा कातसियार्ना ने 4-1 से करारी शिकस्त दी और प्रतियोगिता से बाहर कर दिया.