close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप: दीपक पुनिया ने फाइनल में बनाई जगह, अब गोल्ड पर निगाहें

विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप में दीपक पूनिया ने फाइनल में जगह बना ली है. वे अब गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच सकते हैं.

विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप: दीपक पुनिया ने फाइनल में बनाई जगह, अब गोल्ड पर निगाहें
दीपक पुनिया ओलंपिक कोटा पहले ही हासिल कर चुके हैं. (फोटो: IANS)

नूर-सुल्तान (कजाकिस्तान):  भारत के युवा पहलवान दीपक पुनिया (Deepak Punia) ने शनिवार को यहां जारी विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप (World Wrestling Championship) के 86 किलोग्राम भारवर्ग के फाइनल में जगह बना ली है. दीपक ने सेमीफाइनल में स्विट्जरलैंड के स्टेफन सेइचमुथ को 8-2 से मात दे फाइनल में जगह बनाई. दीपक के पास भारत के लिए इतिहास रचने का मौका है. फाइनल में उनका सामना ईरान के हसन याजदानिचाराटी से होगा. अगर दीपक फाइनल जीत जाते हैं तो वह विश्व चैम्पियनशिप में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी बन जाएंगे.

सुशील जीत चुके हैं गोल्ड मेडल
दो बार के ओलम्पिक मेडल विजेता सुशील कुमार ने 2010 में मास्को में आयोजित विश्व चैम्पियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था. दीपक पहले ही ओलम्पिक कोटा हासिल कर चुके हैं. पहला राउंड काफी कड़ा रहा. दोनों खिलाड़ियों ने बेहतरीन खेल दिखाया. लेकिन अपने दूसरे राउंड में हमेशा से अच्छा करने वाले दीपक ने यहां टेकडाउन से लगातार अंक ले फाइनल में प्रवेश किया. दीपक ने हाल ही में जूनियर विश्व चैम्पियनशिप का खिताब अपने नाम किया था.

राहुल हारे, अब ब्रॉन्ज की उम्मीद
वहीं राहुल अवारे चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में हार गए हैं. राहुल को जॉर्जिया के बेका लोमाटड्जे ने 61 किलोग्राम भारवर्ग के मुकाबले में 10-6 से मात दी. राहुल अब रविवार को कांस्य मेडल के लिए मुकाबला खेलेंगे.
राहुल जॉर्जिया के पहलवान के सामने कमजोर साबित हुए. राहुल ने क्वार्टर फाइनल में कजाकिस्तान के रासूल कालिएव को 10-7 से हराया. प्री क्वार्टर फाइनल में उन्होंने तुर्केमेनिस्तान के केरिम होजाकोव को 13-2 से हराया था.

बजरंग और रवि जीत चुके हैं ब्रॉन्ज मेडल
इससे पहले सेमीफाइनल मुकाबले में हार से निराश होने वाले भारत के पहलवान बजंरग पुनिया  ने शुक्रवार को चैम्पियनशिप में कांस्य मेडल अपने गले में डाला है. बजरंग के नक्शे कदम पर चलते हुए पहली बार इस बड़े टूर्नामेंट में उतरे रवि कुमार  ने भी ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया जबकि दो बार के ओलम्पिक मेडल विजेता सुशील कुमार हालांकि मेडल के साथ ओलम्पिक कोटा हासिल करने से चूक गए.
(इनपुट आईएएनएस)