close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूथ ओलंपिक में मनु भाकर ने की भारतीय दल की अगुआई, पहली बार सड़क पर हुआ उद्घाटन

विश्व कप और कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने वाली 16 साल की भाकर भारत की ओर से पदक की प्रबल दावेदारों में शामिल है. 

यूथ ओलंपिक में मनु भाकर ने की भारतीय दल की अगुआई, पहली बार सड़क पर हुआ उद्घाटन
यूथ ओलंपिक में यह भारत का अब तक का सबसे बड़ा दल है (PIC : PTI)

ब्युनस आयर्स : निशानेबाज मनु भाकर ने हुआ ओलंपिक खेलों के उद्घाटन समारोह में ध्वजवाहक के रूप में भारतीय दल की अगुआई की. इन खेलों के उद्घाटन समारोह का आयोजन पहली बार सड़क पर हुआ जिसे देखने दो लाख से अधिक लोग पहुंचे. समारोह के दौरान आतिशबाजी भी हुई जिससे रात को ब्यूनस आयर्स का आकाश जगमगा उठा. इस समारोह के लिए थाइलैंड की ‘वाइल्ड बोर्स’ टीम को भी आमंत्रित किया गया था जिसकी अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष थामस बाक ने तारीफ की.

‘वाइल्ड बोर्स’ टीम जून में सुर्खियों में आई थी जब वे थाइलैंड के चांग राइ प्रांत में बाढ़ के कारण पानी और कीचड़ से भरी एक गुफा में लगभग दो हफ्ते तक फंसे रहे थे. बाक ने टीम के जज्बे की तारीफ की. समारोह के दौरान गाने के अलावा टैंगो डांस की प्रस्तुति भी दी गई. इन खेलों के लिए ब्यूनस आयर्स में 206 टीमों के 15 से 18 साल के 4000 खिलाड़ी जुटेंगे. भारत का 46 खिलाड़ियों सहित 68 सदस्यीय दल अर्जेन्टीना में इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता के दौरान 13 खेलों में चुनौती पेश करेगा.

यूथ ओलंपिक में यह भारत का अब तक का सबसे बड़ा दल है. हॉकी फाइव्स में सर्वाधिक 18 भारतीय खिलाड़ी (पुरुष और महिला टीमों में नौ-नौ) हिस्सा लेंगे जबकि ट्रैक एवं फील्ड में भारत के सात खिलाड़ी चुनौती पेश करेंगे.

इसके अलावा निशानेबाजी में चार, रिकर्व तीरंदाजी में दो, बैडमिंटन में दो, तैराकी में दो, टेबल टेनिस में दो, भारोत्तोलन में दो, कुश्ती में दो, रोइंग में दो जबकि मुक्केबाजी, जूडो और स्पोर्ट्स क्लाइंबिंग में एक-एक भारतीय चुनौती पेश करेगा.

विश्व कप और राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली 16 साल की भाकर भारत की ओर से पदक की प्रबल दावेदारों में शामिल है. भाकर ने इस दौरान पदक के अन्य दावेदार निशानेबाजों मेहुल घोष और सौरभ चौधरी के साथ फोटो भी खिंचवाए.

समारोह काफी भव्य रहा जिसमें ओलंपिक रिंग हवा में लहराते नजर आए. आईओसी के अनुसार इस दौरान कार्यक्रम स्थल की राह पर अपार्टमैंट की बालकनी में टैंगो डांसर नृत्य करते दिखे.

समारोह के सुचारू आयोजन के लिए लगभग 2000 लोगों को जिम्मेदारी सौंपी गई थी जिसमें अर्जेन्टीना की थिएटर कंपनी फुएर्जा ब्रुटा के 350 से अधिक कलाकार, संगीतज्ञ और तकनीकी लोग शामिल थे. 

समारोह के अंतिम हिस्से में यूथ ओलंपिक की मशाल अर्जेन्टीना के युवा खिलाड़ियों के हाथों में पहुंची जो अन्य सभी खिलाड़ियों का प्रतिनिधित्व कर रहे थे. मशाल रिले में अर्जेन्टीना के दो दिग्गज खिलाड़ियों पाला परेटो और सेंटियागो लांजे ने भी हिस्सा लिया. इन्हें युवा ओलंपिक ज्योति से मशाल को जलाने का मौका मिला.