close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ZEE जानकारी: हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की कहानी

मेजर ध्यानचंद का असली नाम ध्यान सिंह है. उनके नाम में चंद बाद में जोड़ा गया. इसके पीछे भी एक कहानी है.

ZEE जानकारी: हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की कहानी

आज भारतीय खेल के सबसे बड़े नाम मेजर ध्यानचंद को भी याद करने का दिन है. 29 अगस्त 1905 को मेजर ध्यानचंद का जन्म हुआ था. और उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के तौर पर मनाया जाता है. मेजर ध्यानचंद का असली नाम ध्यान सिंह है. उनके नाम में चंद बाद में जोड़ा गया. इसके पीछे भी एक कहानी है. मेजर ध्यानचंद चांदनी रात में भी हॉकी की प्रैक्टिस किया करते थे. इसी वजह से उनके नाम के साथ पहले चांद जुड़ा और फिर वो ध्यानचंद कहलाए जाने लगे. अब पूरी दुनिया उन्हें मेजर ध्यानचंद के नाम से ही जानती है.

मेजर ध्यानचंद ने 14 साल की उम्र में हॉकी खेलना शुरु किया था .

वो तीन ओलंपिक खेलों में भारतीय हॉकी टीम के सदस्य रहे. और तीनों ही बार भारतीय हॉकी टीम चैंपियन बनी.

1928 के हॉलैंड ओलंपिक के फाइनल में भारत.. हॉलैंड को 3-0 से हराकर चैंपियन बना..जिसमें 2 गोल ध्यानचंद ने किए थे.

1932 के Los Angeles में हुए ओलपिंक खेलों में भारतीय हॉकी टीम के कुल 35 गोलों में से 19 गोल ध्यानचंद ने किये थे.

1936 बर्लिन ओलंपिक में भारत के कुल 38 गोलों में से 11 गोल ध्यानचंद ने किए थे.

उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 300 से ज्यादा गोल किये.

वर्ष 1935 में महान क्रिकेटर डॉन ब्रैडमैन ने कहा था कि ध्यानचंद ऐसे गोल करते हैं जैसे क्रिकेट में रन बना रहे हों.

1948 में 43 वर्ष की उम्र में मेजर ध्यानचंद ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी को अलविदा कहा.

वियना के एक स्पोर्ट्स क्लब में उनकी एक मूर्ति लगाई गई है. जिसमें उनको चार हाथों में चार हॉकी स्टिक्स पकड़े हुए दिखाया गया है.

1956 में मेजर ध्यानचंद को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया.

हॉकी स्टिक के जादूगर मेजर ध्यानचंद का 3 दिसम्बर, 1979 को देहांत हो गया

झांसी में उनका अंतिम संस्कार किसी घाट पर न होकर उस मैदान पर किया गया..जहां वो हॉकी खेला करते थे.

मेजर ध्यानचंद ने अपनी आत्मकथा GOAL में लिखा था कि 'आपको मालूम होना चाहिए कि मैं बहुत साधारण आदमी हूं.'
अपनी इसी सादगी की वजह से मेजर ध्यानचंद आज भी हिंदुस्तान के दिल पर राज करते हैं. उनसे जुड़ी कई और विशेष जानकारियां हैं.. जो हम आपके साथ बांटना चाहते हैं.