close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

थोक मुद्रास्फीति

मई में थोक मुद्रास्फीति दो साल के निचले स्तर, 2.45 प्रतिशत पर पहुंची

थोक मूल्य पर आधारित मुद्रास्फीति मई में 22 महीने के निचले स्तर यानी 2.45 प्रतिशत पर रही. इसकी प्रमुख वजह खाद्य सामग्री, ईंधन और बिजली की दरों का कम होना है.

Jun 14, 2019, 01:44 PM IST

थोक महंगाई से आम आदमी को मिली राहत, गिरकर 3.07 प्रतिशत पर पहुंची

खाद्य पदार्थों के महंगे होने के बावजूद विनिर्माण वस्तुओं और ईंधन की कीमतों मे नरमी से अप्रैल महीने में थोक मुद्रास्फीति गिरकर 3.07 प्रतिशत पर आ गई. मंगलवार को जारी सरकारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई.

मई 14, 2019, 02:25 PM IST

खुशखबरी : खाद्य वस्तुओं के दाम घटे, थोक मुद्रास्फीति 7 महीने में सबसे कम

खाद्य वस्तुओं और सब्जियों की कीमत में नरमी के कारण थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति फरवरी में सात महीने के निचले स्तर 2.48 प्रतिशत पर आ गई है.

Mar 14, 2018, 03:19 PM IST

जीएसटी लागू होने के पहले महीने में थोक महंगाई दर में तेजी

 माल एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के पहले महीने में कुछ जिंसों के दाम बढ़ने से थोक मुद्रास्फीति (महंगाई दर) जुलाई में उछलकर 1.88 प्रतिशत पर पहुंच गई. थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति जून 2017 में 0.90 प्रतिशत थी. वहीं जुलाई 2016 में यह 0.63 प्रतिशत थी.

Aug 14, 2017, 01:52 PM IST

महंगाई दर घटकर पहुंची 5 माह के निचले स्तर पर

सब्जियों के साथ साथ दाल, अंडा, मीट के दाम घटने से मई माह के दौरान थोक मुद्रास्फीति (महंगाई दर) घटकर 2.17% रह गई. पिछले 5 माह में थोक मुद्रास्फीति का यह सबसे निचला स्तर है. थोक मुद्रास्फीति से पहले जारी खुदरा मुद्रास्फीति का आंकड़ा भी काफी नीचे आ गया है. इससे रिजर्व बैंक पर अब दबाव बढ़ गया है कि वह अपनी मुख्य दर में कटौती करे.

Jun 14, 2017, 10:35 PM IST

थोक महंगाई दर फरवरी में उछल कर 6.55% पर, खाद्य, ईंधन महंगे

अनाज और ईंधन महंगे होने से थोक मुद्रास्फीति (महंगाई) की दर फरवरी में उछल कर 6.55% हो गई। यह इसका 39 माह का उच्चतम स्तर है।

Mar 14, 2017, 04:56 PM IST

जनवरी में थोक महंगाई दर 5.25%, ईंधन रहा दोगुना महंगा

थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति (महंगाई दर) जनवरी में 5.25% रही है जो 30 महीनों का उच्चतम स्तर है। हालांकि खाद्य कीमतों के स्थिर रहने के बावजूद वैश्विक बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि से घरेलू ईंधन के दाम भी बढ़े जिससे थोक महंगाई बढ़ी।

Feb 14, 2017, 02:51 PM IST

खाद्य पदार्थों के सस्ता होने से थोक महंगाई दर नवंबर में घटकर 3.15% पर

नोटबंदी के कारण मांग कम होने से सब्जी एवं रसाई के अन्य सामानों की मांग कम होने से नवंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर 3.15% पर आ गयी। यह लगातार तीसरा महीना है जब थोक महंगाई दर में नरमी आयी है। थोक कीमत सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति अक्टूबर में 3.39% थी। वहीं नवंबर 2015 में यह शून्य से नीचे 2.04% (माइनस 2.04%) थी।

Dec 14, 2016, 03:38 PM IST

अक्टूबर में थोक महंगाई दर घटकर 3.39%, खाने की चीजों की कीमतों में नरमी

थोक मुद्रास्फीति लगातार दूसरे माह गिरते हुए अक्टूबर में 3.39% पर आ गयी। आलोच्य माह में सब्जी और अन्य खाद्यों की कीमतों में नरमी से महंगाई दर घटी है। थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति सितंबर में 3.57% और पिछले साल अक्टूबर में शून्य से 3.70% नीचे थी।

Nov 15, 2016, 02:31 PM IST

सितंबर में थोक मुद्रास्फीति घटकर 3.57 प्रतिशत

सब्जियों के साथ अन्य खाद्य वस्तुओं के दामों में कमी से सितंबर माह में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति घटकर 3.57 प्रतिशत पर आ गई है। अगस्त में यह 3.74 प्रश्तिात पर थी। सिंबर, 2015 में थोक मुद्रास्फीति शून्य से 4.59 प्रतिशत नीचे थी।

Oct 14, 2016, 02:54 PM IST

थोक मुद्रास्फीति दो साल के उच्चस्तर पर, अगस्त में 3.74 फीसदी

थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति अगस्त में बढ़कर 3.74 प्रतिशत पर पहुंच गई, जो इसका दो साल का उच्चस्तर है। दालों और विनिर्मित उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी से थोक मुद्रास्फीति बढ़ी है। हालांकि, इस दौरान सब्जियों की कीमतों में गिरावट भी आई। जुलाई में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 3.55 प्रतिशत पर थी। अगस्त, 2015 में यह शून्य से 5.06 प्रतिशत नीचे थी। इससे पहले अगस्त, 2014 में यह 3.74 प्रतिशत के उच्च स्तर पर थी।

Sep 14, 2016, 01:51 PM IST

खाद्य वस्तुओं की मूल्यवृद्धि से जुलाई में 3.55 प्रतिशत पर पहुंची थोक महंगाई

खाद्य वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि से थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति जुलाई माह में तेजी से बढ़ती हुई 3.55 प्रतिशत पर पहुंच गई है। इसको देखते हुए उद्योग जगत ने आपूर्ति बढ़ाने के मांग की अड़चनों से जुड़े मुद्दे के समाधान के लिए सरकार से ठोस कदम उठाने की मांग की है।

Aug 16, 2016, 07:59 PM IST

थोक मुद्रास्फीति 17 माह बाद शून्य से उपर, अप्रैल में 0.34 प्रतिशत रही

थोकमूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 17 महीने बाद शून्य से उपर निकलकर अप्रैल में 0.34 प्रतिशत हो गई। सब्जी और दालों के दाम बढ़ने से थोक मुद्रास्फीति में यह तेजी आई है।

मई 16, 2016, 02:30 PM IST

थोक मुद्रास्फीति 17वें महीने भी शून्य से नीचे, मार्च में -0.85 फीसदी कम

थोकमूल्य आधारित मुद्रास्फीति लगातार 17वें महीने मार्च में भी शून्य से नीचे रही और खास कर दाल दलहनों सहित कुछ खाद्य उत्पादों में तेजी के चलते आलोच्य माह में हल्की चढ कर शून्य से 0.85 प्रतिशत नीचे रही। थोक मुद्रास्फीति फरवरी में शून्य से 0.91 प्रतिशत नीचे और पिछले साल मार्च में यह शून्य से 2.33 प्रतिशत नीचे थी।नवंबर 2014 से थोक मुद्रास्फीति शून्य से नीचे है। 

Apr 18, 2016, 03:51 PM IST

थोक महंगाई दर लगातार 16वें महीने शून्य से नीचे रही

थोक मूल्य मुद्रास्फीति (महंगाई दर) लगातार 16वें महीने शून्य से नीचे रही और खाद्य उत्पादों विशेष तौर पर सब्जियों और दालों के सस्ते होने से यह फरवरी माह में शन्यू से 0.91% नीचे रही।

Mar 14, 2016, 01:55 PM IST

मुद्रास्फीति जनवरी में गिरकर शून्य से 0.9 फीसदी से नीचे रही

थोक मूल्य मुद्रास्फीति में चार महीने से चल रहा तेजी का सिलसिला जनवरी में टूट गया और आलोच्य माह में यह घटकर शून्य से 0.9 प्रतिशत नीचे रही। खाद्य उत्पादों, मुख्य तौर पर सब्जियों और दलहन के सस्ते होने से जनवरी में थोक मुद्रास्फीति नरम पड़ी है। थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति दिसंबर में शून्य से 0.73 प्रतिशत नीचे थी। जनवरी 2015 में यह शून्य से 0.95 प्रतिशत नीचे थी। नवंबर 2014 से यह लगातार 15वां महीना है जबकि मुद्रास्फीति शून्य से नीचे चल रही है।

Feb 15, 2016, 02:47 PM IST

थोक महंगाई दर शून्य से 4.95% नीचे के ऐतिहासिक निम्नस्तर पर

दाल और प्याज के दाम उंचे रहने के बावजूद थोक मुद्रास्फीति (महंगाई दर) में गिरावट का रुझान लगातार 10वें महीने जारी रहा। अगस्त में सस्ते ईंधन एवं सब्जियों के मद्देनजर यह शून्य से 4.95 प्रतिशत नीचे के ऐतिहासिक स्तर पर आ गई। इससे आरबीआई पर ब्याज दरें घटाने का दबाव बढ़ेगा।

Sep 14, 2015, 03:10 PM IST

थोक मुद्रास्फीति शून्य से 2.4% नीचे, लगातार 8 माह से है शून्य से नीचे

थोकमूल्य आधारित मुद्रास्फीति लगातार आठवें महीने शून्य से नीचे बनी हुई है। जून में भी यह शून्य से 2.4 प्रतिशत नीचे रही। ऐसा आम तौर पर सस्ती सब्जियों और ईंधन मूल्य में कमी के कारण हुआ। हालांकि इस दौरान दालें मंहगी हुई हैं। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक थोकमूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति मई में शून्य से 2.36 प्रतिशत नीचे थी। नवंबर 2014 से यह शून्य से नीचे बनी हुई है। एक साल पहले जून 2014 में यह 5.66 प्रतिशत थी।

Jul 14, 2015, 02:43 PM IST

थोक मुद्रास्फीति मार्च में और गिरकर शून्य से 2.33 प्रतिशत नीचे

थोकमूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति लगातार पांचवे महीने मार्च में भी शून्य से नीचे बनी रही। खाद्य, ईंधन और विनिर्मित उत्पादों के सस्ता होने से पिछले महीने थोक मूल्य आधारित मुद्रास्फीति और गिर कर शून्य से 2.33 प्रतिशत नीचे रही जो इसका नया रिकार्ड न्यून स्तर पर है।

Apr 15, 2015, 02:28 PM IST

थोक मुद्रास्फीति मार्च में भी शून्य से नीचे रहने की उम्मीद : डी एण्ड बी

एक रिपोर्ट के अनुसार उपभोक्ता वस्तुओं के दाम नीचे रहने और कमजोर मांग के चलते थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित मुद्रास्फीति मार्च में शून्य से नीचे 0.2 से 1.8 प्रतिशत के दायरे में रहने का अनुमान है।

Mar 20, 2015, 05:37 PM IST