फरीदाबाद दलित हत्‍याकांड

वीके सिंह के बोल पर विवाद, कांग्रेस ने कहा ‘बेहूदा और घृणित’ बयान

केंद्रीय मंत्री वी के. सिंह ने फरीदाबाद में दलितों को जलाए जाने की घटना के सिलसिले में सरकार को बचाने की कोशिश करते हुए उस वक्त एक बड़ा विवाद छेड़ दिया, जब उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति कुत्ते को पत्थर मारता है तो सरकार को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता।

Oct 22, 2015, 05:45 PM IST

दलित बच्चों की हत्या पर बोले वीके सिंह : कोई कुत्ते को पत्थर मारें, तो भी क्या सरकार जिम्मेवार है

फरीदाबाद में दलित बच्चों को जिंदा जलाए जाने की घटना पर विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने एक विवादित बयान देते हुए कहा कि यदि कोई कुत्ते को पत्थर मार दे तो इसके लिए सरकार जिम्मेदार नहीं है। केंद्र सरकार का दलित बच्चों की मौत से कुछ लेना-देना नहीं है।

Oct 22, 2015, 05:30 PM IST

दलित बच्‍चों की मौत पर वीके सिंह के विवादित बोल- कोई कुत्ते को पत्थर मार दे तो केंद्र को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते

फरीदाबाद में दलित बच्चों को जिंदा जलाए जाने की घटना पर विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने एक विवादित बयान देते हुए कहा कि यदि कोई कुत्ते को पत्थर मार दे तो इसके लिए सरकार जिम्मेदार नहीं है। केंद्र सरकार का दलित बच्चों की मौत से कुछ लेना-देना नहीं है। वहीं, बीजेपी ने वीके सिंह के इस बयान से किनारा कर लिया है। बीजेपी नेता प्रभात झा ने इस बयान की निंदा की है।

Oct 22, 2015, 12:59 PM IST

दलित हत्‍याकांड: पीड़ित परिवार से मिले खट्टर, कहा- राज्‍य में दोबारा नहीं होगी ऐसी घटना

हरियाणा के फरीदाबाद जिले के एक गांव में अगड़ी जाति के दबंगों द्वारा एक दलित परिवार को जिंदा जलाने की घटना को लेकर विपक्ष तथा सहयोगी लोजपा के निशाने पर आने के बाद राज्य सरकार ने बुधवार को घटना की सीबीआई जांच कराने की सिफारिश कर दी। वहीं, हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर गुरुवार को सुनपेड़ पहुंचे और पीड़ित परिवार से मिले। मुख्यमंत्री ने शोकसंतप्त परिवार से मुलाकात के बाद कहा कि राज्‍य में ऐसी घटना अब दोबारा नहीं होगी।

Oct 22, 2015, 10:57 AM IST

फरीदाबाद दलित हत्‍याकांड में CBI जांच की सिफारिश; अब तक 11 गिरफ्तार, पीड़ित परिवार से मिलेंगे मुख्यमंत्री खट्टर

हरियाणा के फरीदाबाद जिले के एक गांव में अगड़ी जाति के दबंगों द्वारा एक दलित परिवार को जिंदा जलाने की घटना को लेकर विपक्ष तथा सहयोगी लोजपा के निशाने पर आने के बाद राज्य सरकार ने बुधवार को घटना की सीबीआई जांच कराने की सिफारिश कर दी। इस घटना में दो मासूम बच्चों की मौत हो गई। सुनपेड में गांव के लोगों ने ढाई साल के वैभव और 11 महीने की दिव्या के शवों को लेकर प्रदर्शन किया।

Oct 21, 2015, 08:00 PM IST