फरीद खान

शाहरुख खान बोले- सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन एक हादसे ने दुख पहुंचाया

अभिनेता शाहरुख खान इन दिनों अपनी फिल्म ‘रईस’ के प्रचार में जोर शोर से जुटे हैं। हालांकि, मंगलवार को फिल्म ‘रईस’ के ट्रेन से प्रचार के दौरान वडोदरा रेलवे स्‍टेशन पर अफरा-तफरी मचने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। बताया जाता है कि इस दौरान स्टेशन पर करीब 15,000 लोगों की भीड़ जुटी थी और तभी एक व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ा। वहीं, अभिनेता ने अफरा-तफरी में वडोदरा के 45 वर्षीय नेता फरीद खान पठान की मौत को ‘अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण’ बताया।

Jan 25, 2017, 03:34 PM IST

मृतक फरीद खान की मां ने किया किंग खान का बचाव, बोलीं- शाहरूख का कोई दोष नहीं

फिल्म ‘रईस’ के प्रचार के दौरान एक व्यक्ति की मौत होने के बाद अभिनेता शाहरुख खान लोगों के निशाने पर आ गये हैं लेकिन मृतक की मां ने यह कहते हुए सुपरस्टार का समर्थन किया है कि जो कुछ हुआ उसमें ‘उनका दोष नहीं है।’ सोमवार की रात को अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस से वड़ोदरा रेलवे स्टेशन पर शाहरुख खान के पहुंचने के बाद वहां लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी थी। उसी दौरान दिल का दौरा पड़ने से फरीद खान पठान नाम के एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। व्यक्ति एक पत्रकार का रिश्तेदार था जो उसी ट्रेन से यात्रा कर रही थी जिससे शाहरुख जा रहे थे।

Jan 25, 2017, 11:30 AM IST

शाहरूख खान ने वडोदरा हादसे को अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण बताया

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने वडोदरा स्टेशन पर हुये हादसे पर दुख जताते हुये इसे ‘अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण’’ बताया है। इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गयी और दो पुलिसकर्मी घायल हो गये। अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस से यात्रा कर रहे 51 वर्षीय अभिनेता ने कहा कि उनकी संवेदनाएं मृतक के परिवार के साथ हैं। शाहरुख की एक झलक पाने के लिए कल रात वडोदरा स्टेशन पर भीड़ बेकाबू हो गयी थी जिसमें एक व्यक्ति की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गयी।

Jan 24, 2017, 02:07 PM IST

नागालैंड: गुस्‍साई भीड़ ने रेप के आरोपी को जेल से निकालकर चौराहे पर दी फांसी, केंद्र ने दिए जांच के आदेश

नागालैंड के दीमापुर में हजारों लोगों की गुस्‍साई भीड़ ने दीमापुर सेंट्रल जेल में बंद बलात्‍कार के एक आरोपी को पहले जेल से निकाला और फिर उसे चौराहे पर ले जाकर सरेआम फांसी पर लटका दिया। जानकारी के अनुसार, गुस्‍साई भीड़ ने आरोपी को रेप के आरोपी को पहले जेल से बाहर निकाला और फिर उसे पीट-पीटकर मार डाला। इसके बाद उसे चौराहे पर ले जाकर फांसी पर लटका दिया। उधर, इस घटना के बाद हालात को नियंत्रण में लेने के लिए केंद्र सरकार ने नागालैंड में फोर्स की तैनाती कर दी है। वहीं, केंद्र ने दीमापुर की घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।

Mar 6, 2015, 11:29 AM IST