close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भगवान शिव

त्रयंबकेश्वर मंदिर में भगवान शिव की प्रतिमा के मुकुट में जड़े नस्साक हीरे को वापस लाने की मांग

त्रयंबकेश्वर देवस्थान न्यास ने नीले नस्साक हीरे को वापस लाने की मांग की है। यह हीरा किसी समय त्रयंबकेश्वर मंदिर में भगवान शिव की प्रतिमा के मुकुट में जड़ा था।

Nov 17, 2016, 05:40 PM IST

भगवान शिव भक्ति की प्रतीक ‘छड़ी मुबारक’ अमरनाथ यात्रा में शामिल

कर्फ्यू के बीच भगवान शिव भक्ति का प्रतीक ‘छड़ी मुबारक’ शनिवार को वार्षिक अमरनाथ यात्रा में शामिल हुई जो दक्षिण कश्मीर के 3880 मीटर उंचे पर्वत पर चलने वाले 48 दिनों की तीर्थयात्रा का समापन चरण है।

Aug 13, 2016, 08:32 PM IST

5000 साल पुराना है ये शिवलिंग, दर्शन से पूरी होती है हर मनोकामना

श्रावण मास भगवान शिव को काफी प्रिय है और इस समय देश भर के शिवालयों में शिवभक्‍त पूजा-अर्चना के लिए उमड़ रहे हैं। सावन माह के सभी सोमवार भक्तों के लिए अति महत्वपूर्ण होते हैं।

Jul 28, 2016, 02:48 PM IST

सावन का पहला सोमवार आज, शिवालयों में उमड़े श्रद्धालु

देश भर के शिवालयों में सावन के पहले सोमवार पर सुबह से ही श्रद्धालुओं तांता लगा है। भोले बाबा के दर्शन व अभिषेक के लिए भक्त लंबी कतारों में खड़े हैं और बम-बम भोले के जयकारे लगा रहे हैं। सावन के इस पहले सोमवार को हर तरफ भगवान भोलेनाथ का जयकारा गूंज रहा है।

Jul 25, 2016, 12:24 PM IST

श्रावण मास: इस बार बन रहा है विशेष योग, शिव उपासना से होगी मनचाहे फल की प्राप्ति

आषाढ़ पूर्णिमा यानि गुरु पूर्णिमा के बाद श्रावण माह की शुरुआत हो जाती है। इस बार सावन का महीना 20 जुलाई से शुरू हो गया है। इस मास का समापन रक्षाबंधन के दिन होगा। शास्त्रों में बताया गया है कि सावन माह भगवान शिव का माह है। हिन्दी पंचांग के सभी बारह महीनों में श्रावण मास का विशेष महत्व माना जाता है, क्योंकि ये शिवजी की भक्ति का महीना है। श्रावण मास को सावन माह भी कहते है।

Jul 21, 2016, 02:45 PM IST

भगवान शंकर को समर्पित सावन मास का प्रारंभ, शिवालयों में उमड़े श्रद्धालु

भगवान शंकर को समर्पित सावन मास का शुभारंभ हो चुका है। देवाधिदेव महादेव को प्रिय सावन के पवित्र महीने की शुरुआत बुधवार से हो गई। सावन महीने के पहले दिन देश भर के मंदिरों और शिवालयों में भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी। आज से ही कांवड़ यात्रा की भी शुरुआत हो गई है।

Jul 20, 2016, 05:13 PM IST

देश भर में आस्था और उल्लास के साथ मनाई गयी महाशिवरात्रि

मंदिरों में घंटों के बजने और ‘हर हर महादेव’ तथा ‘बम बम भोले’ के जयकारों के बीच महाशिवरात्रि पर्व पर सोमवार को देशभर में पूरी श्रद्धा के साथ मनाया गया। इस दौरान मंदिरों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखी गयी। इस बीच आतंकी खतरे के मद्देनजर राजधानी समेत देश के विभिन्न शहरों में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रही।

Mar 7, 2016, 11:20 PM IST

कैलाश मानसरोवर पर दिखी 'रहस्यमयी रौशनी', देखें वीडियो

विश्व प्रसिद्ध कैलाश-मानसरोवर पर रहस्यमयी रौशनी दिखने का मामला सामने आया है। यह रहस्यमयी रोशनी कैलाश पर्वत के सुदूर स्थान पर जगमगाती हुई दिख रही है। सोशल साइट्स पर रहस्यमयी रोशनी जगमगाने का यह वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में कुछ सैनिक इस रहस्यमयी रौशनी को देखकर हैरानी जता रहे हैं।

Mar 7, 2016, 03:56 PM IST

महाशिवरात्रि 2016: ऐसे करें देवाधिदेव की पूजा, भगवान शिव के इस पूजन-विधि से हर मुराद होगी पूरी

महाशिवरात्रि का त्योहार सोमवार को यानी आज है। करीब चार साल के बाद सोमवार के दिन महाशिवरात्रि का त्योहार आया है। सोमवार का दिन तो वैसे ही भगवान भोलेनाथ का प्रिय दिन है। इस साल महाशिवरात्रि पर दुर्लभ शिवयोग का संयोग बन रहा है। शिवभक्तों के लिए ये काफी खास है। इस विशेष योग में महाशिवरात्रि पर शिव की आराधना का भक्तों को कई गुणा अधिक फल प्राप्त होगा। इस पावन त्‍योहार पर फल, पुष्प, चंदन, बिल्वपत्र, धतूरा, धूप, दीप और नैवेद्य से भगवान शिव की पूजा की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि महाशिवरात्रि के दिन प्रत्येक शिवलिंग में साक्षात् शिव आंशिक रूप में उपस्थित होते हैं। इसलिए इस दिन शिवलिंग का विधि-विधान के साथ पूजन, अर्चन और स्तवन कर पुण्य का अर्जन अवश्य करना चाहिए। अगर इस दिन पारद शिवलिंग का पूजन किया जाए तो इसे बेहद उत्तम माना जाता है। शिवपुराण में कहा गया है कि पारद लिंग के दर्शन मात्र से हजारों अश्वमेध यज्ञों के आयोजन से भी ज्यादा पुण्य मिलता है। पारद शिविलिंग जिस घर में होता है वहां भगवान शिव और लक्ष्मी का साक्षात वास होता है और उस घर में स्थित सभी वास्तु दोष भी इसके प्रभाव से नष्ट हो जाते हैं।

Mar 7, 2016, 10:50 AM IST

महाशिवरात्रि का पर्व आज, देशभर के शिवालयों में उमड़ी भक्तों की भीड़

आज महाशिवरात्रि का पर्व है। पूरे देश में आज महाशिवरात्रि का पर्व  धूमधाम के साथ मनाया जा रहा है। सुबह से ही देशभर के सभी शिवालयों और मंदिरों में भक्तों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी है। उज्जैन के महाकाल मंदिर और वाराणसी के काशी मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ बाबा भोले के दर्शन और उन्हें जल चढ़ाने के लिए उमड़ पड़ी है। शिव मंदिरों को सजाया भी गया है। महाशिवरात्रि का पर्व हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है क्योंकि यह सोमवार को पड़ा है इसलिए इस पर्व का महत्व बढ़ जाता है।

Mar 7, 2016, 09:38 AM IST

महाशिवरात्रि: इस बार करें ये उपाय, हर संकट से मिलेगी मुक्ति, घर में साक्षात होगा महालक्ष्‍मी का वास, आएगा सौभाग्य

देवों के देव महादेव की आराधना का महापर्व शिवरात्रि इस बार सोमवार के दिन शिवयोग धनिष्ठा नक्षत्र में 7 मार्च को है। इस साल महाशिवरात्रि का पर्व भोले बाबा के प्रिय वार यानी सोमवार को मनाया जाएगा। सोमवार का दिन तो वैसे भी शिव का प्रिय दिन है। इस दिन दुर्लभ शिवयोग का संयोग श्रद्घालुओं के लिए विशेष फलकारी है। कई सालों के बाद बना यह योग लोगों के जीवन में शिव की कृपा प्राप्ति में सहायक रहेगा। साथ ही इस दिन पंचग्रही और चांडाल योग भी रहेगा।

Mar 4, 2016, 12:03 PM IST

महाशिवरात्रि 7 मार्च को; कई सालों के बाद बन रहा दुर्लभ योग, विशेष फलदायी होगा साबित

महाशिवरात्रि का त्योहार इस साल 7 मार्च को यानी सोमवार को मनाया जाएगा। देवों के देव महादेव की आराधना का महापर्व शिवरात्रि इस बार सोमवार के दिन शिवयोग धनिष्ठा नक्षत्र में 7 मार्च को है। इस साल महाशिवरात्रि का पर्व भोले बाबा के प्रिय वार यानी सोमवार को मनाया जाएगा। सोमवार का दिन तो वैसे भी शिव का प्रिय दिन है। इस दिन दुर्लभ शिवयोग का संयोग श्रद्घालुओं के लिए विशेष फलकारी है। 4 साल बाद बना यह योग लोगों के जीवन में शिव की कृपा प्राप्ति में सहायक रहेगा। इससे पहले यह वर्ष 2012 में आया था। साथ ही इस दिन पंचग्रही और चांडाल योग भी रहेगा।

Mar 4, 2016, 11:48 AM IST

...जब मार्कंडेय ने अपनी तपस्या से काल को हरा दिया

ऋषि मृकंदु औऱ उनकी पत्नी मरूध्वति को कई वर्षों तक कोई संतान नहीं हुई थी। संतान सुख प्राप्त करने के लिए ऋषि मुकुंद और उनकी पत्नी ने भगवान शिव की कठिन तपस्या की। ऋषि मृकंदु औऱ उनकी पत्नी मरूध्वति ने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए आस्था और विश्वास के साथ कठिन तपस्या की। उनकी कठिन तपस्या से भगवान शिव प्रसन्न हुए उन्हें पुत्र रत्न का वरदान दिया। भगवान शिव ने उनसे पूछा कि उन्हें किस तरह की संतान चाहिए। वह संतान जो दीर्घायु हो लेकिन गूंगा और बहरा हो या ऐसी संतान चाहिए जो जिसके जीवन की अवधि कम वर्षों की हो लेकिन वह ज्ञानी हो।

Feb 15, 2016, 09:37 PM IST

विज्ञान कांग्रेस: 'क्‍या भगवान शिव थे दुनिया के सबसे बड़े पर्यावरणविद', नहीं हो पाई चर्चा?

पिछले साल विवादों में रही विज्ञान कांग्रेस ने इस वर्ष भी विवादों को न्‍यौता दिया। मीडिया में सामने आई कुछ रिपोर्टों के अनुसार, मैसूर में हो रही विज्ञान कांग्रेस में इस बार जिन मुद्दों पर चर्चा होनी है, उनमें 'भगवान शिव' और हिंदू कर्मकांडों में इस्तेमाल होने वाली 'शंख' को भी शामिल किया गया।

Jan 7, 2016, 02:58 PM IST

सोमवार को ऐसे करें भगवान शिव को पसंद, पूर्ण होंगी मनोकामनाएं

सोमवार को भगवान शिव का वार माना जाता है। शिव सदा अपने भक्तों पर कृपा बरसाते हैं। सोमवार को अगर भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा की जाए तो सारे क्लेशों से मुक्ति मिलती है और मनोकामना पूर्ण होती है। भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सोमवार को सुबह उठकर स्नान करके भगवान शिव की आराधना करें। 

Nov 30, 2015, 02:18 PM IST

जानें, भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग धार्मिक स्थलों के महत्व के बारे में

http://www.zeenews.com Facebook: https://www.facebook.com/ZeeNews Twitter: https://twitter.com/ZeeNews Google Plus: https://plus.google.com/+Zeenews

Aug 31, 2015, 01:23 PM IST

धार्मिक मंत्रोच्चार के बीच छड़ी मुबारक की अंतिम यात्रा शुरू

जम्मू-कश्मीर में श्रीनगर के दशनामी अखाड़ा के समीप अमरेर मंदिर से अमरनाथ गुफा मंदिर के लिए भगवान शिव की ‘छड़ी मुबारक’ की अंतिम यात्रा धार्मिक मंत्रोच्चार और कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हो गई। दो जुलाई से शुरु हुई 59 दिवसीय इस वार्षिक यात्रा के दौरान तीन लाख 51 हजार से ज्यादा श्रद्धालुओं ने बाबा बर्फानी के दर्शन किए।

Aug 25, 2015, 03:03 PM IST

उत्तराखंड के शिवालयों में उमड़ा भक्तों का सैलाब, कल्पेश्वर मंदिर में जलाभिषेक के लिए भक्तों का तांता

आज सावन माह का अंतिम सोमवार आज है। आज देश भर के शिवालयों में भक्तों का सैलाब सुबह से ही उमड़ पड़ा। देहरादून में कल्पेश्वर महादेव मंदिर में सुबह से ही भोले भक्तों की भीड़ लगी हुई है। श्रद्धालुजन भगवान शिव को जलाभिषेक कर रहे हैं। देहरादून के अलावा भी उत्तराखंड के विभिन्न शिवालयों में शिवभक्तों का तांता लगा हुआ है। श्रद्धालु भगवान शिव को बेलपत्री और धतूराफल चढ़ाकर मन्नते मांग रहे हैं। 

Aug 24, 2015, 11:51 AM IST

सावन का अंतिम सोमवार आज, शिव मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु

सावन माह का अंतिम सोमवार आज (सोमवार) है। आज देश भर के शिवालयों में भक्तों का सैलाब सुबह से ही उमड़ पड़ा। पंडितों के अनुसार, सावन का चौथा और अंतिम सोमवार श्रद्धालुओं को आर्थिक परेशानियों से छुटकारा दिलाने वाला हो सकता है। इस दिन भक्तिपूर्वक भगवान शिव की पूजा करने से शत्रुओं पर विजय मिलती है। कार्यक्षेत्र और जीवन के दूसरे क्षेत्रों में आने वाली बाधाओं का निवारण होता है। दांपत्य जीवन में आपसी प्रेम और सहयोग बढ़ता है। साथ ही आर्थिक परेशानियों में कमी आती है और जीवन पर आने वाले संकट से भगवान शिव रक्षा करते हैं।

Aug 24, 2015, 11:08 AM IST

सावन के अंतिम सोमवार के दिन शिवालयों में उमड़ा शिवभक्तों का सैलाब

आज सावन का अंतिम सोमवार है। देशभर के शिवालयों में श्रद्धालुओं का सुबह से ही सैलाब उमड़ा है। यूपी और उत्तराखंड के शिवालयों में भी शिव भक्तों ने भगवान भोलेशंकर का जलाभिषेक कर सुखमय जीवन की मनौतियां मांगी।

Aug 24, 2015, 09:16 AM IST