मन्ना डे

आज का इतिहास: जब जन्में दार्शनिक या सूफियाना अंदाज़ वाले रागों के जादूगर

मुश्किल शास्त्रीय रागों के सबसे सहज गायक मन्ना डे का जन्म 1 मई 1919 को हुआ था. हिन्दी-बांग्ला सहित कई भाषाओं में 3000 गाने गाए. 5 दशकों में उनकी आवाज़ ने कई गीतों को अमर किया. देखिए, आज का इतिहास...

मई 1, 2019, 12:07 PM IST

सारेगामा ने न्यायालय से कहा, 'सीडी कवर पर मन्ना डे की फोटो-नाम का नहीं होगा इस्तेमाल'

पद्म भूषण और दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित मन्ना डे के नाम से विख्यात प्रबोध चंद्र डे ने ‘ऐ मेरी जोहरा जबीं’, ‘लागा चुनरी में दाग’ और ‘तू प्यार का सागर है’ जैसे अनेक यादगार गीत गाये थे.  

Apr 15, 2019, 08:53 PM IST

देखें, 'जिंदगी कैसी है पहेली' से लेकर ये हैं गायक मन्ना डे के 10 बेहतरीन गानें

'जिंदगी कैसी है पहेली' गाने को आज भी कई लोग पसंद करते हैं. यह 1971 में आई फिल्म 'आनंद' का गाना है.

Oct 24, 2017, 03:05 PM IST

मंडेला, प्राण, रेशमा, फारूक शेख की सिर्फ यादें ही रह गई हैं शेष

दक्षिण अफ्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला, हिन्दी फिल्मों में खलनायकी को नयी उंचाइयों तक पहुंचाने वाले कलाकार प्राण, प्रख्यात पाकिस्तानी लोक गायिका रेशमा और मशहूर ध्रुपद गायक उस्ताद जिया फरीदुद्दीन डागर सहित कुछ जानीमानी हस्तियां इस साल हमेशा हमेशा के लिए हमसे दूर हो गईं और पीछे छोड़ गईं अपनी कभी न खत्म होने वाली यादें...।

Dec 29, 2013, 03:53 PM IST

अलविदा कह गए महान पार्श्वगायक मन्ना डे, बेंगलुरु में हुई अंत्येष्टि

देश के महान पाश्र्वगायक मन्ना डे का गुरुवार तड़के बेंगलुरु के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। मन्ना डे का अंतिम संस्कार शहर के पश्चिमोत्तर इलाके में स्थित शवदाहगृह में किया गया जहां उनके छोटे बेटे ज्ञानरंजन ने उन्हें मुखाग्नि दी।

Oct 24, 2013, 11:10 PM IST

मन्ना डे के बिना...

ये कैसा खालीपन आ गया आज अचानक। एक विराट शून्य। भारतीय संगीत के चुनिंदा दिग्गजों में शामिल मन्ना डे काफी वक्त से बीमार थे और इस बात का अहसास काफी दिन से था कि एक दिन अचानक ही दुखद ख़बर आएगी। वह ख़बर आज आ गई, जब मैं मुंबई में हूं।

Oct 24, 2013, 01:33 PM IST

बॉलीवुड ने ‘संगीत जगत के दिग्गज’ मन्ना डे को दी श्रद्धांजलि

हिंदी फिल्म संगीत उद्योग और बॉलीवुड की शख्सियतों ने ‘सुनहरे दौर की अंतिम आवाज’ और ‘संगीत जगत के दिग्गज’ के रूप में मशहूर पार्श्व गायक मन्ना डे को याद किया, जिन्होंने रोमांटिक गीतों और विभिन्न तरह के गीतों से कई पीढियों को मंत्रमुग्ध किया।

Oct 24, 2013, 01:31 PM IST

मन्ना डे के निधन पर राष्ट्रपति ने शोक जताया

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने महान पार्श्‍व गायक मन्ना डे के निधन पर शोक व्यक्त किया है। डे का गुरुवार तड़के बेंगलुरू के एक अस्पताल में निधन हो गया। 94 साल के डे लंबे समय से बीमार थे।

Oct 24, 2013, 01:11 PM IST

सुरों के सुरीले जादूगर मन्ना डे की गायिकी बेमिसाल थी

भारतीय शास्त्रीय संगीत में पॉप का जुझारूपन घोलने वाले सुरों के सरताज मन्ना डे हिंदी सिनेमा के उस स्वर्ण युग के प्रतीक थे जहां उन्होंने अपनी अनोखी शैली और अंदाज से ‘पूछो ना कैसे मैने’, अय मेरी जोहराजबी’ और ‘लागा चुनरी में दाग’ जैसे अमर गीत गाकर खुद को अमर कर दिया था।

Oct 24, 2013, 11:52 AM IST

`बाहर से सख्त और अंदर से नरम दिल थे मन्ना डे`

महान पार्श्व गायक मन्ना डे के करीबी लोगों को कहना है कि वह ज्ञान को तलाशने वाले, साहसिक व्यक्तित्व वाले और बेहद सख्त अनुशासन वाले व्यक्ति थे।

Oct 24, 2013, 11:46 AM IST

मन्ना डे के खाते से निकाले गए 30 लाख रुपए

गायक मन्ना डे की बेटी सुमिता ने शिकायत दर्ज कराई है कि उनके पिता के यहां स्थित एक बैंक में संयुक्त खाते से उनके एक संबंधी ने कुल 30 लाख रपए निकाल लिए हैं।

Jul 15, 2013, 03:20 PM IST

मन्ना डे की हालत स्थिर, लेकिन गंभीर

महान गायक 94 वर्षीय मन्ना डे की हालत स्थिर, लेकिन गंभीर बनी हुई है और वह नारायण हेल्थ अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष में जीवन रक्षक प्रणाली पर हैं।

Jun 10, 2013, 07:32 PM IST