close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

arvind panagariya

भारत को उच्च शिक्षा में तेजी से विस्तार करने की जरूरत: पनगढ़िया

बदलते समय के साथ बदलाव की वकालत करते हुए नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविन्द पनगढ़िया ने आज कहा कि भारत को अपनी उच्च शिक्षा प्रणाली का तेजी से विस्तार करने की जरूरत है।

Nov 3, 2015, 06:25 PM IST

वृद्धि को प्रोत्साहन के लिए नीतिगत दरों में 1% कटौती की जरूरत: पनगढ़िया

मुद्रास्फीति के नियंत्रण में आने के बीच नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया ने शुक्रवार को नीतिगत दरों में एक प्रतिशत कटौती की वकालत की। उन्होंने कहा कि ‘इस लीवर’ का इस्तेमाल वृद्धि को प्रोत्साहन देने के लिए किया जा सकता है। पनगढ़िया ने कहा, ‘ मेरा मानना है कि ब्याज दरों में कटौती जरूरी है। मैं कहूंगा कि अगले दौर में आधा से एक प्रतिशत की कटौती होनी चाहिए।’

Aug 29, 2015, 12:00 PM IST

दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा भारत : पनगढ़िया

नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविन्द पनगढ़िया ने विश्वास जताया है कि विकास आधारित नीतियों पर आगे बढ़ते रहने से भारतीय अर्थव्यवस्था अगले 15 साल या उससे भी कम समय में 8,000 अरब अमेरिकी डालर तक पहुंच सकती है और यह दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकती है।

Jul 18, 2015, 10:18 AM IST

अरविंद पनगड़िया दीर्घकालीन लक्ष्यों के साथ रणनीतिक नियोजन के पक्ष में

नीति आयोग के उपाध्यक्ष अरविंद पनगड़िया ने कहा है कि भारत पंचवर्षीय योजना के बजाय अधिक लंबे समय के रणनीतिक आर्थिक नियोजन की दिशा में बढ सकता है।

Feb 25, 2015, 02:38 PM IST

अरविंद पनगढ़िया ने नीति आयोग के उपाध्यक्ष का पदभार संभाला

नवगठित नीति आयोग के पहल उपाध्यक्ष, जाने-माने अर्थशास्त्री अरविंद पनगढ़िया ने आज यहां अपना पदभार संभाला।

Jan 13, 2015, 01:35 PM IST

खुले बाजार और गुजरात विकास मॉडल के समर्थक अर्थशास्त्री हैं पनगढ़िया

नवगठित नीति आयोग के पहले उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया खुले बाजार के समर्थक अर्थशास्त्री हैं। अमेरिका के कोलंबिया विश्वविद्यालय के 62 वर्षीय प्रोफेसर पनगढ़िया ‘आर्थिक वृद्धि हासिल करने के लिये गुजरात मॉडल के प्रखर समर्थक रहे हैं।’ भारतीय-अमेरिकी अर्थशास्त्री पनगढ़िया विश्व व्यापार क्षेत्र के विद्वान अर्थशास्त्री जगदीश भगवती के नजदीकी सहयोगी हैं। दोनों ने ही भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में नोबल पुरस्कार विजेता अमर्त्य सेन के विचारों को खुली चुनौती दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के राष्ट्रीय क्षितिज पर उभरने के पहले से ही पनगढ़िया गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी की आर्थिक नीतियों का समर्थन करते रहे थे।

Jan 5, 2015, 11:41 PM IST