ayodhya verdict

'ରାୟ ଆମ ଆଶା ମୁତାବକ ନୁହଁ, କିନ୍ତୁ ଏହାକୁ ଜୟ-ପରାଜୟ ଦୃଷ୍ଟିରେ ନ ଦେଖାଯାଉ'

ଅଯୋଧ୍ୟା ରାମ ଜନ୍ମଭୂମି-ବାବ୍ରୀ ମସଜିଦ ମାମଲା ଉପରେ ସୁପ୍ରିମକୋର୍ଟରୁ ରାୟ ପ୍ରକାଶ ପାଇଛି । କୋର୍ଟ ରାମଲାଲ ବିରାଜମାନକୁ ବିବାଦୀୟ ୨.୭୭ ଏକର ଜମିର ମାଲିକାନ ଅଧିକାର ପ୍ରଦାନ କରିଛନ୍ତି । ଅନ୍ୟପକ୍ଷେ ସୁନ୍ନି ୱକଫ ବୋର୍ଡକୁ ୫ ଏକର ବିକଳ୍ପ ଜମି ଦେବା ପାଇଁ ସରକାରଙ୍କୁ ସର୍ବୋଚ୍ଚ କୋର୍ଟ ନିର୍ଦ୍ଦେଶ ଦେଇଛନ୍ତି । ଏହାପରେ ବିଭିନ୍ନ ମହଲରୁ ବିଭିନ୍ନ ପ୍ରତିକ୍ରିୟା ଆସୁଛି । କୋର୍ଟ ଉପରେ ପ୍ରତିକ୍ରିୟା ପ୍ରଦାନ କରି ଜମିୟତ ଉଲେମା ଏ ହିନ୍ଦର ଅଧ୍ୟକ୍ଷ କହିଛନ୍ତି ଯେ ଏହି ରାୟ ଆମ ଅପେକ୍ଷାର ଅନୁକୂଳ ନୁହଁ, କିନ୍ତୁ ସୁପ୍ରିମକୋର୍ଟ ହେଉଛନ୍ତି ସର୍ବୋଚ୍ଚ ସଂସ୍ଥା । 

Nov 9, 2019, 08:32 PM IST

मोहम्मद कैफ ने की ‘अयोध्या फैसले’ की तारीफ, कहा- यह सिर्फ हिंदुस्तान में हो सकता है

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के विवादित जमीन पर राममंदिर के निर्माण का फैसला दिया है. 

Nov 9, 2019, 08:24 PM IST

अयोध्या फैसले के बाद CM योगी का संदेश

अयोध्या फैसले के बाद CM योगी का संदेश

Nov 9, 2019, 08:24 PM IST

अयोध्या विवाद पर इलाहाबाद हाईकोर्ट का फैसला खारिज...

अयोध्या केस में आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना ऐतिहासिक फैसला सुना दिया है... कोर्ट ने रामलला विराजमान को जमीन का मालिक माना है... ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने विवादित जमीन हिंदू पक्ष को देने का फैसला किया... सुप्रीम कोर्ट ने शिया वक्फ बोर्ड और निर्मोही अखाड़े की याचिका खारिज कर दी... रामलला विराजमान को जमीन का मालिक माना...

Nov 9, 2019, 07:48 PM IST

अयोध्या में विवादित जमीन हिंदू पक्षकारों को दी गई

अयोध्या में रामलला के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट का फैसला...मुस्लिमों को दूसरी जगह मिलेगी जमीन...कोर्ट का आदेश- मंदिर निर्माण के लिए 3 महीने में बने ट्रस्ट, पांच जजों की सहमति से हुआ फैसला..

Nov 9, 2019, 07:48 PM IST

देशवासियों से पीएम मोदी की अपील...हार-जीत की तरह न देखें फैसला..

सीएम अशोक गहलोत ने किया फैसले का स्वागत... सभी पक्ष करें फैसले का सम्मान.... शांति और धैर्य बनाएं रखें....

Nov 9, 2019, 07:42 PM IST

ताल ठोक के: अयोध्या विवाद पर भारत के 'सर्वोच्च' फैसले पर आज की खास बहस

ज़ी न्यूज़ के इस सेगमेंट में, देखिए आज के #TaalThokKe में अयोध्या विवाद पर भारत के 'सर्वोच्च' फैसले पर बहस। #AyodhyaVerdict #MandirWahiBanega

Nov 9, 2019, 07:40 PM IST

ताल ठोक के: अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा 'भारत के ऐतिहासिक फैसले' पर बहस

ज़ी न्यूज़ पर देखें: अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा 'भारत के ऐतिहासिक फैसले' पर बहस | ताल ठोक के

Nov 9, 2019, 07:35 PM IST

देखिए: अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले पर चर्चा

ज़ी न्यूज़ के इस खंड में, देखिए अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले पर चर्चा। #AyodhyaVerdict #MandirWahiBanega

Nov 9, 2019, 07:35 PM IST

ଅଯୋଧ୍ୟା ରାୟ ଶୁଣାଇଥିବା କିଏ ସେହି ଶକ୍ତିଶାଳୀ ୫ ଜଣିଆ ଖଣ୍ଡପୀଠ ?

୫ ଜଣିଆ ଖଣ୍ଡପୀଠ ଯିଏ ଦେଶ ପାଇଁ ଆଣିଛନ୍ତି ଐତିହାସିକ ରାୟ

Nov 9, 2019, 07:13 PM IST

'पूरे देश ने खुले दिल से अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार किया' - PM

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, 'पूरी दुनिया ये तो मानती है कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतान्त्रिक देश है, लेकिन आज दुनिया ने ये भी जान लिया है कि भारत का लोकतंत्र कितना जीवंत और मजबूत है. फैसला आने के बाद जिस प्रकार हर वर्ग, हर समुदाय और हर पंथ के लोगों सहित पूरे देश ने खुले दिल से इसे स्वीकार किया है, वो भारत की पुरातन संस्कृति, परंपराओं और सद्भाव की भावना को प्रतिबिंबित करता है.'

Nov 9, 2019, 07:06 PM IST

अयोध्या विवाद मामले पर SC के फैसले को लेकर AIMIM चीफ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी की प्रतिक्रिया

अयोध्या विवाद मामले पर SC के फैसले पर असदुद्दीन ओवैसी, AIMIM चीफ और सांसद की प्रतिक्रिया। अधिक जानकारी के लिए यह वीडियो देखें

Nov 9, 2019, 07:05 PM IST

ଅଯୋଧ୍ୟା ଉପରେ ଆସିଥିବା ରାୟକୁ ସମସ୍ତେ ସ୍ୱୀକାର କରନ୍ତୁ: ଇମାମ ବୁଖାରୀ

ବହୁ ପ୍ରତୀକ୍ଷିତ ଅଯୋଧ୍ୟା ମାମଲାରେ ସୁପ୍ରିମକୋର୍ଟ ରାୟ ଶୁଣାଇଛନ୍ତି । ଯାହା ପରେ ସାରା ଦେଶରୁ ବିଭିନ୍ନ ବ୍ୟକ୍ତିଗଣ ନିଜ ନିଜ ମତ ପ୍ରକାଶ କରୁଛନ୍ତି । ଏହି କ୍ରମରେ ଦିଲ୍ଲୀ ସ୍ଥିତି ଜାମା ମସଜିଦର ଶାହୀ ଇମାମ ଅହମଦ ବୁଖାରୀ ମଧ୍ୟ ଅଯୋଧ୍ୟା ରାୟ ଉପରେ ନିଜ ମତ ରଖିଛନ୍ତି । ସୁପ୍ରିମକୋର୍ଟଙ୍କ ରାୟକୁ ସମସ୍ତେ ମାନିବା ଆବଶ୍ୟକ ବୋଲି ସେ କହିଛନ୍ତି ।

Nov 9, 2019, 06:56 PM IST

बनेगा राम मंदिर, मस्जिद के लिए अलग जगह - सुप्रीम कोर्ट

अदालत ने माना कि हिंदू इसे भगवान राम की जन्मभूमि मानते हैं. मुस्लिम इसे मस्जिद कहते हैं. हिंदुओं का मानना है कि भगवान राम केंद्रीय गुंबद के नीचे जन्मे थे. यह व्यक्तिगत आस्था की बात है. अदालत ने कहा कि अयोध्या में राम के जन्म का किसी ने विरोध नहीं किया है. कोर्ट ने फैसले में कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड को नई मस्जिद के निर्माण के लिए अलग जमीन दी जाए. अदालत ने कहा कि या तो केंद्र सरकार अयोध्या में अधिग्रहित जमीन में से सुन्नी वक्फ बोर्ड को पांच एकड़ जमीन दे या फिर उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या शहर में कहीं और मुस्लिम पक्ष को जमीन दे. अदालत ने जहां विवादित जमीन रामलला विराजमान को दिया, वहीं सुन्नी वक्फ बोर्ड को जमीन देने की बात कही. इससे यह स्पष्ट हो गया कि अदालत ने मामले में इन दोनों को ही पक्षकार माना है. अदालत ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के जमीन को तीन हिस्सों में बांटने के फैसले को अतार्किक करार दिया.

Nov 9, 2019, 06:54 PM IST

ओवैसी पर बरसे उद्धव ठाकरे, कहा - आप सुप्रीम कोर्ट नहीं हैं

मुंबई : ठाकरे ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी को करारा जवाब देते हुए कहा कि वह सुप्रीम कोर्ट नहीं है. दरअसल, ओवैसी ने फैसले पर नाखुशी जाहिर की है. उन्होंने फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट सर्वोच्च है, लेकिन अचूक नहीं है. उन्होंने अयोध्या भूमि विवाद मामले में फैसले को तथ्यों के ऊपर आस्था की एक जीत बताया. वहीं, सुन्नी वक्फ बोर्ड अयोध्या पर पुनर्विचार याचिका नहीं दाखिल करेगा. मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी फैसले पर संतुष्ट हैं.

Nov 9, 2019, 06:54 PM IST

देखिए, खास पेशकश.. 'मैं अयोध्या हूं'... जो देता है सर्वधर्म सम्मान का संदेश

देखिए, खास पेशकश.. 'मैं अयोध्या हूं'... जो देता है सर्वधर्म सम्मान का संदेश

Nov 9, 2019, 06:36 PM IST

VIDEO : अयोध्या फैसले में सुप्रीम कोर्ट की कही अहम बातें

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या पर दिए फैसले के बाद दशकों से चल रहे लंबे विवाद पर विराम लगा दिया है. आइए समझिए सुप्रीम कोर्ट ने क्या अहम बातें कही हैं.

Nov 9, 2019, 06:35 PM IST

'ଅଯୋଧ୍ୟା ରାମ ଜନ୍ମଭୂମି ମାମଲା'ର ରାୟ ପ୍ରକାଶ ପରେ ଦେଶବାସୀଙ୍କୁ ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦିଙ୍କ ସମ୍ୱୋଧନ

ଅଯୋଧ୍ୟା ରାମ ଜନ୍ମଭୂମି ମାମଲାରେ ଐତିହାସିକ ରାୟ ଶୁଣାଇଛନ୍ତି ସୁପ୍ରିମକୋର୍ଟ, ବହୁବର୍ଷ ଧରି ବିବାଦୀୟ ହୋଇ ରହିଥିବା ଏହି ଜମିକୁ ହିନ୍ଦୁମାନଙ୍କ ପ୍ରତିନିଧିତ୍ୱ କରୁଥିବା ରାମ ଜନ୍ମଭୂମି ନ୍ୟାସକୁ ଦେବାପାଇଁ ନିର୍ଦ୍ଦେଶ ଦେଇଛନ୍ତି ସର୍ବୋଚ୍ଚ କୋର୍ଟ । ସୁପ୍ରିମକୋର୍ଟଙ୍କ ଐତିହାସିକ ରାୟ ପ୍ରକାଶକୁ ସମ୍ମାନ ଜଣାଇବା ସହ ଦେଶବାସୀଙ୍କ ସହଯୋଗ ଓ ସମର୍ଥନକୁ କୃତଜ୍ଞତା ଜାଣଛନ୍ତି ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦି । ଦେଶବାସୀଙ୍କୁ ସମ୍ୱୋଧନ ଉଦ୍ଦେଶ୍ୟରେ କ'ଣ ସୂଚନା ଦେଇଛନ୍ତି ପ୍ରଧାନମନ୍ତ୍ରୀ ମୋଦି ଶୁଣନ୍ତୁ । ZEE Odisha is 24x7 Odia news channel in Odisha which delivers update news bulletins and different current affairs programmes for its viewers. About Our Channel: Zee Odisha News is a 24*7 news channel which provides you with the comprehensive up-to-date news coverage from all over Odisha, India and World also. Here you Get the latest top stories, current affairs, sports, business, entertainment, politics, astrology, and many more only on Zee Odisha News. Zee Odisha(Formerly known as Zee Kalinga) News is a popular Odia News Channel made its debut as Zee Kalinga News in 2014 and was rebranded to Zee Odisha News from 13 Dec 2018. The vision of the channel is 'Sab Se Ak Kadam Age' -the promise of keeping each individual ahead and informed. Zee Odisha News is best defined as a responsible channel with a fair and balanced approach that combines prompt reporting with insightful analysis of news and current affairs.

Nov 9, 2019, 06:30 PM IST

PM मोदी बोले- पूरे देश ने खुले दिल से अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को स्वीकार किया

अयोध्या केस पर सुप्रीम कोर्ट के आए फैसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी पहली प्रतिक्रिया में कहा कि इसे हर धर्म, संप्रदाय और पंथ के लोगों ने खुले दिल से स्वीकार किया है. 

Nov 9, 2019, 06:10 PM IST

ରିଭ୍ୟୁ ପିଟିସନ ଦାଖଲ କରିବନି ସୁନ୍ନି ସେଣ୍ଟ୍ରାଲ ୱାକଫ୍ ବୋର୍ଡ

ZEE Odisha is 24x7 Odia news channel in Odisha which delivers update news bulletins and different current affairs programmes for its viewers. About Our Channel: Zee Odisha News is a 24*7 news channel which provides you with the comprehensive up-to-date news coverage from all over Odisha, India and World also. Here you Get the latest top stories, current affairs, sports, business, entertainment, politics, astrology, and many more only on Zee Odisha News. Zee Odisha(Formerly known as Zee Kalinga) News is a popular Odia News Channel made its debut as Zee Kalinga News in 2014 and was rebranded to Zee Odisha News from 13 Dec 2018. The vision of the channel is 'Sab Se Ak Kadam Age' -the promise of keeping each individual ahead and informed. Zee Odisha News is best defined as a responsible channel with a fair and balanced approach that combines prompt reporting with insightful analysis of news and current affairs.

Nov 9, 2019, 06:00 PM IST