bow arrow community

बांसवाड़ा: कम मांग के कारण हाशिए पर धनुष बाण बनाने वाला तीरगर समाज

करीब दो हजार की आबाजी वाले इस कस्बे में तीरगर समाज की जनसंख्या अधिक है. यहां करीब 50 परिवार आज भी अपने घरों में पुश्तेनी तीर कमान बनाने का काम कर रहे हैं. 

Jan 7, 2019, 05:17 PM IST