digital kranti and hindi

'डिजिटल क्रांति के बाद कूल और गांधीगिरी जैसे शब्द भाषा के अंग बन गए'

डिजिटल क्रांति के कारण वर्तमान समय में हर सुविधा और सेवा केवल एक क्लिक या टच पर उपलब्ध है. इस डिजिटलीकरण से हिन्दी भी अछूती नहीं रही है. अब तो गूगल भी हिंदी में बोलता है.

Oct 31, 2019, 06:01 PM IST