Zee Rozgar Samachar

gopaldas neeraj

आज का इतिहास: आज है मंच के सरताज कवि गोपालदास नीरज की जयंती

'कारवां गुज़र गया, ग़ुबार रहेगा क़ायम' ये शब्द है कविता पाठ के मंच का सरताज कवि गोपालदास नीरज के, जो सामान्य से लेकर गंभीर श्रोताओं-पाठकों के चहेते थे. आज के ही दिन कवि गोपालदास नीरज की जयंती है, जिनका जन्म 4 जनवरी 1925 को हुआ था. आज के इस एपिशोड में हम आपको बतायेंगे उनसे जुड़ी कुछ ऐसा बातें, जो शायद ही आप पहले से जानते होंगे.

Jan 4, 2019, 10:49 AM IST

अटल जी के बारे में सही साबित हुई महाकवि नीरज की भविष्‍यवाणी!

नीरज महाकवि होने के साथ ज्‍योतिष शास्‍त्र में भी पारंगत माने जाते थे.

Aug 17, 2018, 09:34 AM IST

धरती पर जब तक संगीत है, शब्द हैं, गोपालदास नीरज को भुलाया नहीं जा सकता : रवि शंकर प्रसाद

केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने बताया कि वह भी नीरज के गीतों के बड़े प्रशंसक रहे हैं. उनके गीत आज भी कानों में मिठास घोलते हैं. 

Jul 28, 2018, 09:21 PM IST

Exclusive: गीतकार गोपालदास नीरज के अनसुने अफसाने डॉ. कुमार विश्वास की जुबानी

प्रसिद्ध हिंदी कवि और गीतकार गोपालदास नीरज का 19 जुलाई को देहांत हो गया था. नीरज को उनके गीतों के लिए भारत सरकार ने पद्मश्री और पद्म भूषण से सम्मानित किया था. मशहूर गीतकार कुमार विश्वास ने नीरज के साथ अपने अनुभवों को ज़ी न्यूज के संवाददाता श्रीराम शर्मा से साथ साझा किया.

Jul 24, 2018, 08:12 PM IST

गोपाल दास 'नीरज' का आखिरी 'कारवां': राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

 प्रदर्शनी मैदान के पास स्थित श्मशान घाट पर उन्हें प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें अंतिम विदाई दी.

Jul 21, 2018, 11:58 PM IST

गीत उन्मन है, ग़ज़ल चुप है, रुबाई है दुखी और वो 'नीरज का दौर'

बाबरी मस्जिद विध्वंस को हुए वक्त गुज़र चुका था. दंगों में झुलसे घर, गाड़ियां और लोग अब धीरे-धीरे समय की बारिश से धुल कर अपने धूसर रंग को उतार रहे थे. भोपाल में हर साल लगने वाले उत्सव मेले में पिछले चार पांच साल से फीके पड़े कवि सम्मेलन में इस बार रंग बिखरने की उम्मीद की जा रही थी.

Jul 21, 2018, 03:44 PM IST

नीरज की कविताओं में एक कहानी होती थी, खत होता था और याद होती थी...

नीरज को हिंदी काव्य-संसार और साहित्य में लोकप्रियता के एक खांचे में डालकर निपटा दिया गया है. यह बहुत उचित स्थिति नहीं है. वे उन कवियों में थे, जिन्होंने हिंदी की अच्छी कविता को व्यापक पाठक समाज तक पहुंचाने की एक राह  बनाई थी.

Jul 21, 2018, 11:55 AM IST

अलीगढ़ में आज आखिरी बार होंगे महाकवि 'नीरज' के दर्शन, देहदान को लेकर परिवार में खींचतान

मेडिकल कॉलेज की तरफ से कहा गया है कि जब तक परिवार में एकराय नहीं बनेगी. तब तक पार्थिव शरीर नहीं लिया जाएगा. 

Jul 21, 2018, 11:09 AM IST

नीरज को ले जाने वालों, नीरज नहीं मरा करता है

'नीरज' ने भवानी प्रसाद मिश्र, शिवमंगल सिंह सुमन, गिरिजाकुमार माथुर, सोम ठाकुर जैसे कवियों के साथ मंच साझा किया. उसके बाद फिर नीरज तीसरी पीढ़ी के कवियों के साथ बैठे. कुवर बेचैन, अशोक चक्रधर, हास्यकवि अर्जुन अल्हड़ उनमें शामिल रहे हैं. उसके बाद वे मेरे जैसे नई पीढ़ी के कवियों के साथ भी आए हैं. 

Jul 21, 2018, 11:03 AM IST

AIIMS में भर्ती पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की सुरक्षा में सेंध, डॉक्टर बन घुसने की हुई कोशिश

यहां हम आपको एक-एक कर देश के सभी प्रमुख समाचार पत्रों की बड़ी खबर से रू-ब-रू करवाएंगे.

Jul 21, 2018, 09:04 AM IST

'नीरज' स्मृति शेष: कुछ सपनों के मर जानें से जीवन नहीं मरा करता है..!

इस कवि सम्मेलन को सुनने 50 हजार से भी ज्यादा लोग जुटे. रीवा से तिवनी तक गाड़ियों की रेलमपेल. इस कवि सम्मेलन में नीरज जी बहुप्रचारित कवि थे. हफ्तों से लोगों की जुबान पर नीरज  के गीत थे, उन्हें सुनने की अतीव उत्कंठा थी.

Jul 21, 2018, 12:57 AM IST

यादों में : नीरज ने कहा था, 'जीवन का अध्यात्म गाया है मैंने गीतों में'

पीढ़ियां बदल गईं पर गोपालदास नीरज के गीतों को अपनी आत्मा में बसाने वाले उन्हें आज भी गौर से सुनते-गुनते हैं. भारत ही नहीं, सात समंदर पार बसी आबादी को भी गोपालास नीरज के गीतों का कारवां लुभाता रहा है.

Jul 20, 2018, 06:08 PM IST

गोपालदास नीरज... मुरझा गया गीतों का कमल

नीरज के गीतों के मुझे दो सबसे प्रमुख और सबसे अद्भुत पक्ष दिखाई देते हैं. पहला है उनके प्रेम का पक्ष और दूसरा है जीवन दर्शन का पक्ष. नये-नये बिम्बों, प्रतीकों और छन्द विधानों के जरिये उन्होंने हिन्दी गीतों का जो नया रूप गढ़ा वह केवल नीरज के ही बस की बात थी और वह भी मंच की कविताओं के लिए.

Jul 20, 2018, 04:43 PM IST

नीरज के गीतों ने प्यार सिखाया, तब मैं छोटी लड़की थी...

नीरज की कविता का पाठ मैंने इस तरह किया कि उनका गीत आंखों में काजल की तरह बस गया और आंखों की सुन्दरता बढ़ गयी. हृदय में उतारा तो प्रेमपत्र लिखने वाले साथी के लिये प्यार का झरना फूट पड़ा.

Jul 20, 2018, 02:24 PM IST

'नीरज' पर शिव ओम अंबर : तुमको लग जायेंगी सदियां हमें भुलाने में....

अपने प्रारंभिक परिचय के दिनों में मैंने उनके साथ एक उद्धत वार्ता की थी. उनको प्रणाम करके मैंने कहा- आप हमारी पीढ़ी के लिये आदर्श हैं, आपका काव्य हमारे लिये चिन्तामणि है. किन्तु मेरी परवरिश जिस परिवेश में हुई है उसके कारण मैं आपके व्यक्तित्व की कुछ लड़खड़ाहटों को प्रश्न भरी दृष्टि से देखता हूँ. मुझे क्षमा करें लेकिन मेरा समाधान करें.

Jul 20, 2018, 11:50 AM IST

गोपालदास नीरज : गीतों के साथ सफरनामा

1958 में बंबई में नीरज का एकल काव्य पाठ हुआ. वहां उनकी कविता से फिल्म निर्माता आर चंद्रा उनसे खासे प्रभावित हुए. चंद्रा एटा के पास अलीगढ़ से ही थे. चंद्रा ने नौजवान नीरज से कहा कि फिल्मों में काम करोगे. गरीब नीरज ने कहा, मैं नौकरी से बंधा आदमी हूं, यहां नहीं आ सकता. आप चाहो तो मेरी कविताएं ले लो. आर चंद्रा ने पूरी की पूरी “नई उम्र की नई फसल” फिल्म ही नीरज के गीतों के इर्द गिर्द रच डाली.

Jul 20, 2018, 11:20 AM IST

'नीरज' की आवाज पर जब मंत्रमुग्‍ध हो गया चंबल का शेर 'दद्दा'

पहले तो 'दद्दा' बिल्‍कुल प्रभावित नहीं हुए और 'नीरज' से बोले कि हम कैसे मानें कि तुम कवि हो?

Jul 20, 2018, 10:51 AM IST

राजकीय सम्मान के साथ निकाला जाएगा महाकवि गोपालदास 'नीरज' का अंतिम 'कारवां'

यूपी सरकार की तरफ से महाकवि की याद में हर साल प्रदेश के पांच नवोदित कवियों को एक-एक लाख रुपये के नकद पुरस्कार, अंगवस्त्र और सम्मान पत्र दिए जाएंगे.

Jul 20, 2018, 10:47 AM IST

'नीरज' स्मृतिशेष : कफन बढ़ा, तो किसलिए, नजर तू डबडबा गई

गोपालदास नीरज ने अपने जीवन के आधे सफर में ही इतनी गुर्बत और इतनी बुलंदी देख ली थी कि जिंदगी का बाकी आधा सफर अपने भीतर की मिठास के साथ ही गुजारा.

Jul 20, 2018, 08:53 AM IST

ZEE जानकारीः 'ऐ भाई ज़रा देखकर चलो' लिखने वाले गोपाल दास 'नीरज' नहीं रहे

एक लेखक के तौर पर कविता के लेखन, कवि सम्मेलन के मंच और फिल्मी गीतों में तालमेल बैठाना बहुत मुश्किल होता है लेकिन गोपाल दास नीरज ने इन सभी के साथ पूरा न्याय किया. 

Jul 20, 2018, 12:41 AM IST