ins kalvari

डीआरडीओ की एक और स्वदेशी तकनीक, जानिए कैसे बढ़ाएगी नौसेना की ताकत

एआइपी को पारंपरिक डीजल-इलेक्ट्रिक पनडुब्बियों में लगाया जाता है और इनसे उनकी पानी के नीचे रहने की क्षमता में वृद्धि होती है.  दरअसल, पनडुब्बियों को अपनी बैट्रियां चार्ज करने के लिए बार-बार पानी की सतह पर आना पड़ता है. पहली पनडुब्बी का पहला रीफिट वर्ष 2023 में होना है.

Feb 11, 2020, 06:20 PM IST

नौसेना में शामिल हुई पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी, समंदर में भारत की पैठ हुई मजबूत

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह दूसरी कलवरी श्रेणी की पनडुब्बी आईएनएस खंडेरी के कमीशन समारोह के लिए पहुंचे.

Sep 28, 2019, 09:08 AM IST

INS कलवरी : पानी में ही 300 किलोमीटर दूर से उड़ा सकती है दुश्मन के परखच्चे

गुजरात से पश्चिम बंगाल तक 7516 किलोमीटर में फैली भारत की समुद्री सीमा पर हमेशा दुश्मन घात लगाए बैठे रहते हैं. अरब सागर में पाकिस्तान से खतरा है तो हिंद महासागर में चीन की घुसपैठ जारी है. इन खतरों से निपटने के लिए भारत अपनी समुद्री ताकत को बढ़ाने पर बल दे रहा है.

Dec 14, 2017, 11:41 AM IST

स्कॉर्पिन श्रेणी की सबसे खूंखार पनडुब्‍बी ‘INS कलवरी’ राष्ट्र को समर्पित, PM मोदी ने दिया यह नाम

हिंद महासागर में बढ़ती चीनी गतिविधियों के मद्देनजर अभी नौसेना को 24 से लेकर 26 पनडुब्बियों की जरूरत होगी. इसी कड़ी में पनडुब्बी INS कलवरी मील का पत्थर साबित होगी. 

Dec 14, 2017, 08:27 AM IST

भारतीय नौसेना में शामिल 'कलावरी' समंदर का सीना चीर कर करती है वार, जानें 10 खूबियां

भारतीय नौसेना के बेड़े में लंबे इंतजार के बाद दुनिया की घातक स्कॉर्पीन पनडुब्बी आईएनएस कलावरी (INS Kalvari) को शामिल कर लिया गया है.

Sep 22, 2017, 10:27 AM IST

चीन को समुद्र में घेरने की तैयारी, नौसेना को मिलने जा रही है यह 'Killer शार्क', VIDEO

नई दिल्लीः चीन के साथ चल रहे तनाव के बीच भारत अब अपनी समुद्री ताकत में इजाफा करने में जुटा है. जल्द ही भारतीय नौसेना को दुनिया के खतरनाक युद्धपोतों में शुमार पनडुब्बी आईएनएस कलवरी मिलने वाली है. INS कलवरी भारत का सबसे घातक जंगीबेड़ा माना जा रहा है. भारतीय नौसेना इसे समुद्र में उतारने की तैयारी में जुट गई है.

Aug 4, 2017, 07:27 PM IST

समंदर में बढ़ेगी भारतीय नौसेना की ताक़त, स्वदेशी स्कॉर्पिन पनडुब्बी ने फायर किया टॉरपीडो

देश के रक्षामंत्री अरुण जेटली ने शनिवार (28 मई) को कहा कि स्वदेशी स्कॉर्पिन श्रेणी की पनडुब्बी ने सफलतापूर्वक टॉरपीडो फायर किया. उन्होंने इस सफलता के लिए वैज्ञानिकों व इंजीनियरों को बधाई दी. रक्षा मंत्री ने कहा कि पनडुब्बी को भारतीय नौसेना में शामिल करने से पहले यह सबसे प्रमुख परीक्षण था.

मई 28, 2017, 12:25 AM IST