mig 27

DNA: Kargil युद्ध का 'हीरो' रिटायर, मिग-27 ने भरी आखिरी उड़ान

करीब चार दशक से भारत के आसमान पर अपना पराक्रम दिखाने वाला इंडियन एयरफोर्स का युद्धवीर मिग-27 (MIG-27) फाइटर जेट की आज विदाई हो गई. जोधपुर एयरबेस से आज मिग-27 ने आखिरी बार उड़ान भरी. #Kargil #Kargil1999 #MiG27 #DNA #IAF #KargilWar

Dec 27, 2019, 11:15 PM IST

भारतीय सेना का 'बहादुर' हुआ रिटायर, जिसने करगिल की जंग में पाक को खदेड़ा था

जिसकी दहाड़ से दुश्मन थर-थर कांपते थे. जिसकी मार से भारत पर निगाहें टेढ़ी करने वाले दुम दबाकर भागत निकलते थे. जो आसमान का सीना चीरते हुए गोते लगाता था तो दुश्मनों के दिल की धड़कने बढ़ जाती थीं. 38 सालों से जो आसमान की सरहद पर तैनात रहकर भारतीय सीमा की हिफाजत कर रहा था. 1999 में करगिल की जंग में जिसने पाकिस्तानी सेना को उल्टे पैर भागने के लिए मजबूर कर दिया था. भारतीय सेना का वही 'बहादुर' आज रिटायर हो गया.

Dec 27, 2019, 06:35 PM IST

बधिर न्यूज: बधिरों के लिए खास न्यूज शो

बधिर न्यूज: बधिरों के लिए खास न्यूज शो...ज्यादा जानने के लिए देखें वीडियो..

Dec 27, 2019, 04:50 PM IST

करगिल युद्ध के हीरो ने बड़ी शान से ली रिटायरमेंट

करगिल युद्ध के हीरो मिग 27 को शानदार विदाई दी गई. 38 साल तक देश की सेवा करने के बाद आसमान का सिकंदर मिग 27 रिटायर हो गया. भारतीय वायुसेना में तीन दशक से अधिक समय तक सेवा में रहने वाले लड़ाकू विमान मिग -27 विमान ने आज आखिरी बार उड़ान भरी.

Dec 27, 2019, 04:49 PM IST

MiG-27 ने भरी आखिरी उड़ान, कारगिल युद्ध में इसके हमलों से सहम गया था PAK

जोधपुर ऐयरबेस पर आज सुबह एक समारोह में लड़ाकू विमान मिग-27 की एक मात्र स्क्वाडर्न स्कॉर्पियो के सभी फाइटर जेट एक साथ आखिरी उड़ान भरी. 

Dec 27, 2019, 10:17 AM IST

वायुसेना का 'बहादुर' होगा रिटायर, कारगिल में पाकिस्तान को किया था पस्त

जोधपुर की स्क्वाड्रन नंबर 29 यानि SCORPIONS MIG 27 उड़ाने वाली आखिरी स्क्वाड्रन है. इसके पास 15 MIG 27 एयरक्राफ्ट हैं. MIG 27 एयरक्राफ्ट को 1982 में भारतीय वायुसेना में शामिल किया गया था और 2005 में इन्हें अपग्रेड किया गया था. 

Dec 26, 2019, 07:17 PM IST

इस साल सेवा से हटाई जाएंगी मिग 21, मिग 27 की तीन स्क्वाड्रन

पुराने पड़ चुके मिग 21 और मिग 27 लड़ाकू जेट विमानों की तीन स्क्वाड्रनों को इस साल चरणबद्ध तरीके से सेवा से हटाया जाएगा क्योंकि भारतीय वायु सेना अपने विमानों की परिचालन क्षमता को को उच्च बनाए रखना चाहती है।

Jun 28, 2015, 12:51 PM IST