mppoliticalcrisis 0

मध्य प्रदेश का सियासी गणित, यहां पढ़िए असली कहानी

हाथ का दामन छूटा है और कमल से नाता जोड़ा है. पार्टी में लगातार उपेक्षा और फजीहत झेल रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने महीनों पहले से ही अलग रास्ते तलाशने शुरू कर दिए थे. बीजेपी नेताओँ से उनका संपर्क बढ़ने लगा था और 21 जनवरी को उन्होंने मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ एक घंटे तक बैठक की थी. इस मुलाकात के बाद ही रणनीति भी बनी और कमलनाथ सरकार को आउट करने के लिए तैयारी भी तगड़ी होने लगी.

Mar 10, 2020, 06:07 PM IST