close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

SAMSUNG के 1 करोड़ से ज्यादा स्मार्टफोन में है यह फेक एप, तुरंत अनइंस्टॉल करें

एंड्रायड यूजर्स के लिए गूगल प्ले स्टोर पर लाखों ऐप मौजूद हैं, इनमें से कुछ एप आपके मोबाइल में भी हैं. लेकिन शायद ही आपको पता हो कि गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद कुछ एप फेक भी हैं.

SAMSUNG के 1 करोड़ से ज्यादा स्मार्टफोन में है यह फेक एप, तुरंत अनइंस्टॉल करें

नई दिल्ली : एंड्रायड यूजर्स के लिए गूगल प्ले स्टोर पर लाखों ऐप मौजूद हैं, इनमें से कुछ एप आपके मोबाइल में भी हैं. लेकिन शायद ही आपको पता हो कि गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद कुछ एप फेक भी हैं. पिछले दिनों भी बैंकिंग एप को लेकर विभिन्न बैंकों की तरफ से चेतावनी जारी की गई थी. कई बार ऐसे मामले सामने आए हैं कि प्ले स्टोर पर मौजूद कुछ फेक बैंकिंग एप डाउनलोड करने पर खाताधारकों के अकाउंट से पैसे निकल गए. बैंकिंग एप के अलावा भी ऐसे कई फर्जी एप हैं जो आपके स्मार्टफोन को नुकसान पहुंचाने के अलावा यूजर्स का डाटा चोरी कर सकते हैं.

एक करोड़ से ज्यादा डिवाइस मौजूद यह एप
ऐसी ही गतिविधियों को अंजाम देने के लिए प्ले स्टोर पर तमाम ऐसे एप ने जगह बना ली है. प्ले स्टोर पर ऐसा ही एक एप सैमसंग के एक करोड़ से ज्यादा डिवाइस में अपनी जगह बना चुका है. सीएसआईएस (CSIS) सिक्योरिटी ग्रुप की एक रिपोर्ट के अनुसार इस फेक एप का नाम 'Updates for Samsung' हैं. इस एप को यूजर सैमसंग की तरफ से तैयार किया गया एप समझकर डाउनलोड और इंस्टॉल कर रहे हैं.

फर्मवेयर डाउनलोड करने का भी विकल्प
रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि यह एप एड दिखाने के साथ ही यूजर्स को 34.99 डॉलर (करीब 2,450 रुपये) में सैमसंग का फर्मवेयर डाउनलोड करने का भी विकल्प दे रहा है. एप में पेमेंट के लिए गूगल प्ले सबस्क्रिप्शन से बिलिंग की बजाय क्रेडिट कार्ड की डिटेल की मांग करता है. इसके अलावा यह एप यूजर्स को 19.99 डॉलर (करीब 1,400 रुपये) में किसी भी सिम को अनलॉक करने की सुविधा दे रहा है.

मीडिया रिपोर्टस में यह भी बताया जा रहा है कि इस एप के 'डाउनलोड फर्मवेयर' सेक्शन में जाकर आप फर्मवेयर भी सलेक्ट कर सकते हैं. एप की मेन स्क्रीन पर आने वाला मेन कॉन्टेंट updato.com नामक ब्लॉगिंग वेबसाइट को रेंडर करके आता है. ऐसे आप भी अपने मोबाइल में एक बार इसे चेक कर लें. यदि यह आपके फोन में मौजूद हैं तो इसे तुरंत अनइंस्टॉल कर दें. एप को अनइंस्टॉल करने के बाद डिवाइस के ऑपरेटिंग सिस्टम को अपडेट कर दें.