'ऑथेंटिक टूल्स बनाने में सैमसंग-इंटेक्स देश में शीर्ष पर, मेक इन इंडिया से मिला बढ़ावा'

 सैमसंग, इंटेक्स और राइजिंग स्टार देश के शीर्ष तीन मूल उपकरण निर्माता (ओईएम) हैं. मार्केट रिसर्च फर्म साइबरमीडिया रिसर्च (सीएमआर) ने सोमवार (10 अप्रैल) को यह जानकारी दी. 

'ऑथेंटिक टूल्स बनाने में सैमसंग-इंटेक्स देश में शीर्ष पर, मेक इन इंडिया से मिला बढ़ावा'
सैमसंग भारत में प्रमुख ओडीएम है, जो कुल मोबाइल फोन, साथ ही स्मार्टफोन में अग्रणी है.

नई दिल्ली: सैमसंग, इंटेक्स और राइजिंग स्टार देश के शीर्ष तीन मूल उपकरण निर्माता (ओईएम) हैं. मार्केट रिसर्च फर्म साइबरमीडिया रिसर्च (सीएमआर) ने सोमवार (10 अप्रैल) को यह जानकारी दी. 

रपट के मुताबिक, भारत में वित्त वर्ष 2016 की चौथी तिमाही के दौरान 48 ओईएम और थर्ड पार्टी निर्माताओं ने मोबाइल हैंडसेट का निर्माण किया तथा इसी अवधि में 40 मूल डिजाइन निर्माताओं ने भारत में बिक्री करनेवाले ब्रांडों को आपूर्ति की.

सीएमआर में प्रमुख विश्लेषक (इंडस्ट्री इंटेलिजेंस प्रैक्टिस) फैसल काबूसा ने बताया, "'मेक इन इंडिया' के बारे में सकारात्मक बात यह है कि यह भारत में एसेंबलिंग/निर्माण करने के लिए विदेशी ओईएम को आकर्षित कर रही है."

सैमसंग भारत में प्रमुख ओडीएम है, जो कुल मोबाइल फोन, साथ ही स्मार्टफोन में अग्रणी है.

राइजिंग स्टार प्रमुख थर्ड पार्टी निर्माता है, जबकि इंटेक्स और विवो अन्य दो ओडीएम हैं, जो सूची में शीर्ष तीन में शामिल हैं.

राइजिंग स्टार आसुस, गियोनी, इनफोकस, माइक्रोसॉफ्ट, ओप्पो और श्याओमी के लिए फोन का निर्माण करती है.

सीएमआर के दूरसंचार विश्लेषक कृष्णा मुखर्जी ने कहा, "'मेक इन इंडिया' ने निश्चित रूप से कंपनियों की भीड़ को खींचने में मदद की है और देश के लिए इनकी संख्या उत्साहजनक है."

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.