Facebook ने एनिमेटेड इमेज बनाने वाली कंपनी को खरीदा, मामले की हो रही जांच

Giphy अलग-अलग प्लेटफॉर्म जैसे ट्विटर, टिकटॉक, फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम में यूजर्स को इंटरेक्टिव GIF और छोटी-छोटी वीडियो उपलब्ध करता है. व्हाट्सएप की पेरेंट कंपनी फेसबुक ने मई में इस लोकप्रिय वेबसाइट को खरीद लिया था.

Facebook ने एनिमेटेड इमेज बनाने वाली कंपनी को खरीदा, मामले की हो रही जांच
Facebook ने मई 2020 में 400 मिलियन डॉलर में खरीदा था Giphy

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक (Facebook) ने एनिमेटेड इमेज बनाने वाली कंपनी Giphy को खरीद लिया था. अब Giphy की खरीद को लेकर संभवतः प्रतिस्पर्धा कम करने के लिए यूके के कंपटिशन वॉचडॉग इसकी जांच कर रहे हैं. बता दें कि Giphy अलग-अलग प्लेटफॉर्म जैसे ट्विटर, टिकटॉक, फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम में यूजर्स को इंटरेक्टिव GIF और छोटी-छोटी वीडियो उपलब्ध करता है. व्हाट्सएप की पेरेंट कंपनी फेसबुक ने मई में इस लोकप्रिय वेबसाइट को खरीद लिया था. और घोषणा की थी कि वो इसे अपने तेजी से बढ़ रहे फोटो-शेयरिंग ऐप, इंस्टाग्राम के साथ मिला लेगा. 

इस मामले से परिचित एक सूत्र ने रायटर को बताया कि फेसबुक अब दोनों को नहीं मिला रहा है. कंपनी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि- 'हम नियामकों को दिखाने के लिए तैयार हैं कि यह अधिग्रहण कंज्यूमर, डेवलपर्स और कंटेंट बनाने वालों के लिए सकारात्मक है.'

फेसबुक के अनुसार, Giphy का 50% ट्रैफ़िक Facebook के ऐप्स से आता है, जिसमें से आधा Instagram से आता है. हालांकि औपचारिक जांच शुरू होना बाकी है. प्रतिस्पर्धा और बाजार प्राधिकरण (CMA) ने इस हफ्ते की शुरुआत में फेसबुक को एक प्रारंभिक प्रवर्तन आदेश दिया और शुक्रवार को जांच का पहला चरण शुरू किया, जिसमें इस लेनदेन पर किसी भी इच्छुक पार्टी से टिप्पणियां आमंत्रित की गई थीं.

Giphy ने एक बयान में कुछ चिंताओं को दूर करने की मांग की. उसने कहा- 'Giphy पहले की तरह हर किसी की पहुंच में होगा. हम ये बताने के लिए तत्पर हैं कि यह साझेदारी कैसे हमारे यूजर, पार्टनर और कंटेंट निर्माताओं के लिए जीत की तरह है.'

समाचार वेबसाइट एक्सियोस के मुताबिक ये सौदा करीब 400 मिलियन डॉलर में किया गया था. ये ऐसे वक्त में किया गया सौदा था जब फेसबुक पहले ही अविश्वास के चलते जांच के दायरे में था और कंपनी अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भड़काऊ पोस्ट पर कार्रवाई नहीं करने को लेकर आलोचनाएं झेल रही है.

इस सौदे की घोषणा पर कुछ वकालत समूहों ने पहले ही चिंता जताई थी और तब फेसबुक ने कहा था कि ट्विटर, स्नैपचैट और बाइटडांस के टिकटॉक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के साथ Giphy का तालमेल पहले की ही तरह रहेगा, बदलेगी नहीं.