WhatsApp ने लॉन्च किया जबरदस्त फीचर, जानकर झूम उठे यूजर्स; बोले- 'इसका तो हमें कब से इंतजार था'
X

WhatsApp ने लॉन्च किया जबरदस्त फीचर, जानकर झूम उठे यूजर्स; बोले- 'इसका तो हमें कब से इंतजार था'

WhatsApp ने नया फीचर लॉन्च कर, अब लोगों की एक बड़ी टेंशन को खत्म कर दिया है. अब यूजर आसानी से  iPhone से एंड्रॉयड में चैट हिस्ट्री को ट्रांसफर कर सकेंगे. आइए जानते हैं इस फीचर के बारे में...

 

WhatsApp ने लॉन्च किया जबरदस्त फीचर, जानकर झूम उठे यूजर्स; बोले- 'इसका तो हमें कब से इंतजार था'

नई दिल्ली. Google ने घोषणा की है कि WhatsApp चैट ट्रांसफर फीचर जो यूजर्स को iPhone से एंड्रॉयड में चैट हिस्ट्री को ट्रांसफर करने देता है, अब अब "सभी पिक्सल स्मार्टफोन" पर उपलब्ध होगा. पिक्सल के अलावा यह सुविधा अन्य सभी एंड्रॉइड 12 स्मार्टफोन पर आ रही है. यह सुविधा सैमसंग गैलेक्सी डिवाइस पर पहले से ही उपलब्ध है, लेकिन सैमसंग फोन के विपरीत, जहां यह सुविधा एंड्रॉइड 10 और इसके बाद के वर्जन चलाने वाले डिवाइस पर उपलब्ध है, यहां यह एंड्रॉइड 12 वाले फोन तक ही सीमित है. आइए जानते हैं इस फीचर के बारे में...

क्या कहा कंपनी ने?

कंपनी ने एक बयान में कहा, "आप आईफोन पर अपने वॉट्सएप अकाउंट से अपने चैट हिस्ट्री और मोमेट्स को सुरक्षित रूप से एंड्रॉयड में ट्रांसफर कर सकते हैं. हमने क्षमताओं का एक नया सेट बनाने के लिए वॉट्सएप टीम के साथ मिलकर काम किया, सभी को आईफोन से एंड्रॉयड पर स्विच करना और अपना वॉट्सएप लेना आसान बनाने के लिए डिजाइन किया गया"

क्यूआर कोड स्कैन कर किया जा सकता है ट्रांसफर

एक आईफोन से एंड्रॉयड डिवाइस पर वॉट्सएप चैट हिस्ट्री को सफलतापूर्वक लाने के लिए यूएसबी-सी से लाइटनिंग केबल की आवश्यकता होगी. गूगल का कहना है कि एंड्रॉयड फोन सेट करते समय, किसी को आपके आईफोन के साथ एक क्यूआर कोड स्कैन करने के लिए कहा जाएगा, जो यूजर को ट्रांसफर प्रक्रिया शुरू करने देगा.

वॉट्सएप ने रोलआउट किया एंड-टु-एंड एन्क्रिप्टेड चैट बैकअप फीचर

कंपनी ने कहा, "आपकी वॉट्सएप चैट हिस्ट्री आपके आईफोन से आपके नए एंड्रॉयड फोन में कॉपी हो जाएगा, और हम सेल्फ ड्राइव रूप से सुनिश्चित करेंगे कि ट्रांसफर के दौरान आपको पुराने डिवाइस पर नए संदेश प्राप्त नहीं होंगे." हाल ही में, वॉट्सएप ने आईओएस और एंड्रॉयड यूजर्स के लिए एंड-टु-एंड एन्क्रिप्टेड चैट बैकअप को रोल आउट करना शुरू कर दिया है.

नए अपडेट के साथ, यदि कोई यूजर एंड-टु-एंड एन्क्रिप्शन के साथ अपने चैट हिस्ट्री का बैकअप लेने का विकल्प चुनता है, तो यह केवल उसके लिए ही सुलभ होगा और कोई भी बैकअप को अनलॉक करने में इनेबल नहीं होगा न तो वॉट्सएप और न ही बैकअप सर्विस प्रोवाइडर अपने एंड-टु-एंड एन्क्रिप्शन बैकअप तक पहुंच पाएंगे. ऐप के लेटेस्ट वर्जन पर लोगों के लिए यह सुविधा "धीरे-धीरे" शुरू होगी.

Trending news