close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'पैलेस ऑन व्हील्स' का शाही सफर जारी, 4 सितंबर से फिर से शुरू होगी सवारी

पैलेस ऑन व्हील्स ने 37 वर्षों के इस सफर के दौरान देशी और विदेशी पर्यटकों काफी आकर्षित किया है. 

'पैलेस ऑन व्हील्स' का शाही सफर जारी, 4 सितंबर से फिर से शुरू होगी सवारी
पैलेस ऑन व्हील्स को आकर्षण ढंग से सजाया जा रहा है. (फाइल फोटो)

जयपुर: पैलेस ऑन व्हील्स का शाही सफर पिछले 37 वर्षों से जारी है. अपने इस सफर के दौरान शाही ट्रेन पैलेस ऑन व्हील्स ने देशी और विदेशी पर्यटकों काफी आकर्षित किया है. वैसे यात्रियों का मानना है कि पैलेस ऑन व्हील्स के शाही ठाट बाट के सामने महाराजा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनें फीकी पड़ जाती है. इस बार पैलेस ऑन व्हील्स की शाही सवारी की शुरूआत 4 सितंबर से शुरू हो रही है.

रेलवे सूत्रों के अनुसार, शाही सवारी के शुरू होने के पहले पैलेस ऑन व्हील्स को आकर्षण ढंग से सजाया जा रहा है. इस दौरान ट्रेन का रंग यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज सिटी में शामिल जयपुर के परकोटे को ध्यान में रखकर तैयार किया जा रहा है. हेरिटेज सिटी को ट्रेन के जरिए पर्यटक देख सकेंगे.

ट्रेन बिखरेगी जयपुर की आभा
सूत्रों ने यह भी बताया कि ट्रेन की बाहरी दीवारों पर टेलिपोर्टर रंग किया जा रहा है जो गुलाबी नगर जयपुर की आभा बिखरता दिखाई देगा. अब आप भी पैलेस ऑन व्हील्स की सवारी करने के लिए एडवांस टिकट बुक करा सकते हैं.

मरुधरा के जिलों के नाम पर सैलून
शाही ट्रेन के हर सैलून को जयपुर, भरतपुर, अलवर, बीकानेर, बूंदी, धौलपुर, डूंगरपुर, झालावाड़, जैसलमेर, जोधपुर, कोटा, सिरोही और उदयपुर जिलों का नाम दिया गया है. प्रत्येक सैलून में राजपूताना की शान रहे राजा महाराजाओं के नाम उनकी तस्वीरें और इतिहास की जानकारी भी पर्यटकों को मिलेगी. 

इंटीरियर पॉलिशिंग का काम जारी
इस दौरान ट्रेन की बाहरी दीवारों पर कंगारू का नया कलेवर दिया गया है. वहीं, सैलून के दरवाजों पर स्पेशल कलर किया जा रहा है. इसके अलावा ट्रेन के अंदर इंटीरियर पॉलिशिंग का काम चल रहा है. 

लाइव टीवी देखें-:

एडवांस बुकिंग शुरू
आरटीडीसी के एमडी कुंजबिहारी पांड्या ने बताया कि अगले सत्र के लिए 997 पर्यटकों की एडवांस बुकिंग हो चुकी है. जिसमें से करीब 58 पर्यटकों ने अभी तक अपनी कन्फर्मेशन भेजी है.

इसपर चलना है हर किसी का सपना
शाही सवारी से सफर करना हर किसी का सपना होता है. इस ट्रेन की प्रसिद्धि का अंदाजा इसी बात से लगाया कि 2020- 21 के लिए भी करीब 369 केबिन एडवांस बुक हुए हैं. जिससे पर्यटन विभाग को 3 करोड़ 20 लाख अग्रिम भुगतान मिल चुका है.