नहीं गए तो घूम आईए ये देश, यहां भारतीयों के लिए जल्द लागू होगी वीजा फीस

कुछ देश जल्द भारतीयों के लिए भी वीजा फीस वसूलना शुरु कर सकते हैं. 

नहीं गए तो घूम आईए ये देश, यहां भारतीयों के लिए जल्द लागू होगी वीजा फीस

भारतीय पासपोर्ट धारकों को कई देश वीजा ऑन अराइवल देते हैं. वहीं कई देशों में भारतीय पर्यटकों को बिना वीजा के ही एंट्री मिल जाती है. लेकिन इन्हीं में से कुछ देश जल्द भारतीयों के लिए भी वीजा फीस वसूलना शुरु कर सकते हैं. इसका मतलब है की अब आपकी किफायती विदेश यात्रा महंगी होने जा रही है. तो इससे पहले कि आपको देना पड़े वीजा फीस घूम आइए ये देश...

थाईलैंड
थाइलैंड पिछले कुछ समय से भारतीय यात्रियों को मुफ्त वीजा-ऑन-अराइवल (वीओए) देकर आकर्षित कर रहा है. क्यूंकि इस कदम से देश को काफी फायदा मिला है इसीलिए थाईलैंड ने एक बार फिर से इस सौदे की तारीख बढ़ाने का फैसला किया है. अधिक यात्रियों को आकर्षित करने के अपने नए कदम में, थाईलैंड ने अब अप्रैल 2020 तक भारतीय यात्रियों के लिए वीजा शुल्क माफ कर दिया है. जिसके चलते अब भारतीय यात्री बिना वीजा के थाईलैंड घुम सकेंगे. लेकिन इसके बाद शायद ये सर्विसेज बंद कर दी जाएं.  अप्रैल 2020 के बाद  हर भारतीय यात्री को थाईलैंड जाने से पहले वीजा के लिए अप्लाई करना पड़ सकता है.


थाईलैंड

भूटान
अगर आप भूटान जाने की तैयारी कर रहे हैं तो सोच लीजिये क्यूंकि इस बार का भूटान ट्रिप आपको खासा महंगा पड़ सकता है दरअसल भूटान की सरकार भारत, मालदीव और बांग्लादेश जैसे क्षेत्रीय देशों के पर्यटकों के लिए शुल्क माफी को हटाने की योजना बना रही है. पहले, अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों को भूटान आने के दौरान $ 250 (लगभग रु 18,000) का शुल्क देना पड़ता था. इस फीस में विकास शुल्क के रूप में $ 65 और उनके वीजा के लिए $ 40 शामिल थे. हालांकि, भारत, मालदीव और बांग्लादेश के पर्यटकों को इस शुल्क से छूट दी गई थी और वे बिना किसी वीजा के देश में एंट्री कर सकते थे. लेकिन अब इन देशों के नागरिकों को भी स्थायी विकास शुल्क के साथ-साथ परमिट प्रोसेसिंग फीस भी देनी होगी.

भूटान
भूटान

मलेशिया
पूरे 2020 के लिए, मलेशिया भारत और चीन के नागरिको के लिए 15-दिवसीय वीजा-मुक्त यात्रा खोलने जा रहा है. यानि की अब आपको इस देश को घूमने के लिए साल 2020 तक तो वीजा की जरुरत नहीं है. लेकिन अगर आप इसके बाद की ट्रिप प्लान कर रहे हैं तो ध्यान रखें की अब आपको इसके बाद भारी भरकम वीजा फीस का भुगतान करना पड़ सकता है. भारतीय पासपोर्ट होल्डर्स को इस देश को घूमने के लिए अब इलेक्ट्रॉनिक ट्रेवल रजिस्ट्रेशन एंड इनफार्मेशन eNTRI पर खुद को रजिस्टर करने की भी जरुरत है. 


मलेशिया (फोटो साभार: Reuters)