ऐसी जगहें दुनिया में कहीं और नहीं, देख कर हैरान रह जाएंगे आप

कोरोना की वजह से इन जगहों पर घूमने का प्लान नहीं बना सकते, लेकिन ऐसी खूबसूरत जगहों पर भविष्य में एक बार जरूर जाना चाहेंगे.

ऐसी जगहें दुनिया में कहीं और नहीं, देख कर हैरान रह जाएंगे आप
बाईं तरफ मार्बल केव्‍स और दाईं तरफ लेक रेटबा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से इन दिनों इंटरनेशनल फ्लाइट्स बंद हैं. इस वजह से पसंदीदा जगहों पर घूमने का प्लान भी नहीं बना सकते, लेकिन ऐसी खूबसूरत जगहों के बारे में जानकारी जरूर होनी चाहिए, जिसे आप भविष्य में एक बार जरूर देखना चाहेंगे. दुनिया में कुछ ऐसे ही प्राकृतिक अजूबे हैं, जो सैलानियों को खूब आकर्षित कर रहे हैं.

नीले रंगों वाला मार्बल केव्‍स
चिली को प्राकृतिक अजूबों का घर कहा जाता है. यहां के पेंटागोनिया में खूबसूरत गुफाओं का जाल मार्बल केव्स है. इसे मार्बल कैथेड्रल भी कहा जाता है. 6000 साल पुरानी यह ऐसी नीली गुफाएं हैं, जिसके जैसा दुनिया में कहीं और शायद ही देखने को मिले. कहा जाता है कि 6 हजार वर्षों की एक सतत प्राकृतिक प्रक्रिया के बाद यह गुफा अस्तित्‍व में आई थी. इसके आंतरिक हिस्से में नीचे चक्करदार पैटर्न बने हुए हैं, जो पानी के लेवल और मौसम के हिसाब से रंग बदलते रहते हैं. गुफा की संगमरमरी आभा उस वक्त और निखर जाती है, जब इन पर केरा झील के नीले और हरे पानी का प्रतिबिंब पड़ता है. बसंत के शुरुआत में यह हीरे की तरह चमकने लगता है, वहीं गर्मियों में जब पानी का स्तर बढ़ने लगता है, तो गुफा की दीवारें नीली आभा देने लगती हैं. हालांकि गुफा की दीवारों पर नीले रंग का पैटर्न झील के कोबाल्ट पानी का प्रतिबिंब है. यह झील अर्जेंटीना से लगे चिली सीमा पर स्थित हैं. आम दिनों में बड़ी संख्‍या में सैलानी यहां की कुदरती खूबसूरती का लुत्‍फ उठाने आते हैं. हालांकि यह एकांत क्षेत्र है और यहां पहुंचना आसान भी नहीं है. नाव ही एकमात्र साधन है, जो आपको इस खूबसूरत गंतव्य तक पहुंचा सकता है. आम दिनों में पेंटागोनिया से गुफा के लिए दौरे संचालित किए जाते हैं. हालांकि यह यहां के मौसम और पानी की स्थिति को देखते हुए संचालित होते हैं.

Marble Caves

गुलाबी रंगों वाला लेक रेटबा
केप वर्ट पेनिनसुला ऑफ सेनेगल के पास पिंक लेक के नाम से प्रसिद्ध खूबसूरत झील रेटबा है. यह प्राकृतिक झील है, जो पिंक या गुलाबी रंग की वजह से सैलानियों को खूब आकर्षित करता है. एक खास तरह के शैवाल के कारण इसका रंग गुलाबी हो जाता है. इस शैवाल का नाम डुनाएला सलीना है. यह झील के नमकीन पानी की तरफ आकर्षित होता है और सूर्य के प्रकाश को अवशोषित करने के लिए रेड पिगमेंट उत्सर्जित करता है. यही कारण है कि झील का पानी इस अनूठे रंग में दिखता है. इसका यह रंग विशेष रूप से शुष्क मौसम यानी नवंबर से जून तक रहता है, लेकिन बरसात के दौरान जुलाई से अक्टूबर तक यह रंग कम दिखाई देता है. नमकीन पानी की वजह से यहां तैराकी करना बहुत आसान हो जाता है. यह झील 3 वर्ग किलोमीटर में फैली हुई है और करीब 10 फीट गहरी भी है. स्‍थानीय लोग अक्‍सर झील के इस पानी से नमक को इकट्ठा करते हुए देखे जा सकते हैं.

Lake Retba

ये भी देखें...