वर्ल्‍ड टूरिज्‍म डे विशेष: इन 7 शहरों में आप कम बजट में ले सकते हैं भरपूर आनंद

World tourism day: संयुक्‍त राष्‍ट्र की वर्ल्‍ड टूरिज्‍म ऑर्गनाइजेशन की ओर से हर साल पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 27 सितंबर को वर्ल्‍ड टूरिज्‍म डे मनाया जाता है.

वर्ल्‍ड टूरिज्‍म डे विशेष: इन 7 शहरों में आप कम बजट में ले सकते हैं भरपूर आनंद
वर्ल्‍ड टूरिज्‍म डे पर विशेष स्‍टोरी.

नई दिल्‍ली (अनघा तेलंग): आज वर्ल्‍ड टूरिज्‍म डे (World tourism day) है. संयुक्‍त राष्‍ट्र की वर्ल्‍ड टूरिज्‍म ऑर्गनाइजेशन की ओर से हर साल पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 27 सितंबर को वर्ल्‍ड टूरिज्‍म डे मनाया जाता है. हर कोई अपनी भाग दौड़ भरी जिंदगी से एक छोटा सा ब्रेक चाहता है और ये ब्रेक हमें आराम देने के लिए बहुत जरूरी होता है.

इस ब्रेक में हम अपने परिवार और दोस्तों के साथ आनंद लेते हैं और अपने लिए भी समय निकाल पाते हैं. एक छोटी सी ट्रिप हमारे दिमाग को ताजा कर देती है और हमारे शरीर को नई ऊर्जा में भर देती है. इस “वर्ल्ड टूरिज्म डे” पर हम आपको ऐसे 7 शहरों के बारे में बता रहे हैं, जहां आप कम बजट में भी भरपूर आनंद ले पाएंगे.

वाराणसी
एक एसी जगह जहां आपको परंपराओं, धर्म और संस्‍कृति का मिश्रण मिलेगा. गंगा घाट, पुराने भव्य मंदिर, किले, संकरी गलियां, सादा और स्वादिष्‍ट खाना भी मिलेगा. वाराणसी ऐसी जगह है जहां देश-विदेश से पर्यटक आते हैं और कम बजट में पूरा आनंद ले कर जाते हैं. 
ऐसे पहुचें: वाराणसी के लिए देश के लगभग हर शहर से ट्रेन और फ्लाइट मिल जाती हैं.
यहां जरूर जाएं: काशी विश्वनाथ मंदिर, सारनाथ, रामनगर फोर्ट, बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, गंगा घाट, भारत माता मंदिर

अमृतसर
स्वर्ण मंदिर की नगरी जहां दूर-दूर से लोग माथा टेकने आते हैं. अमृतसर में एक अलग तरह की ऊर्जा देखने मिलती है. स्वर्ण मंदिर के अलावा यहां बहुत सारी जगह हैं जो पर्यटन के लिहाज से बहुत अच्छि है.
ऐसे पहुचें: कोई भी दिल्ली, चंडीगढ़ और जम्मू जैसे पड़ोसी शहरों से अमृतसर तक पहुंचने के लिए आसानी से खुद वाहन ड्राइव कर पहुंच सकता है या कार किराए पर ले सकता है. अमृतसर जाने के लिए सड़क यात्रा सबसे लोकप्रिय और सुविधाजनक तरीकों में से एक है और जलपान के लिए रुकने के कई विकल्प हैं.
यहां जरूर जाएं: स्वर्ण मंदिर, जलियांवाला बाग, पार्टीशन म्यूजियम, वॉर मेमोरियल और म्यूजियम

उदयपुर
राजस्‍थान में स्थित झीलों की नगरी उदयपुर को पूर्व का वेनिस भी कहते हैं. यह प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर है. यहां के मंदिर और सुंदर आर्किटेक्‍चर आपको कम बजट में एक राजशाही का अनुभव देगा.
ऐसे पहुचें: उदयपुर जाने के लिए सबसे अच्छा विकल्प जयपुर से टैक्‍सी या बस लेना रहेगा. राष्ट्रीय राजमार्ग 8 द्वारा उदयपुर दिल्ली और मुंबई से जुड़ा हुआ है. ड्राइव लगभग 10-11 घंटे लंबा है और दोनों शहरों से लगभग 700 किलोमीटर की दूरी तय करता है. उदयपुर घूमने आने वाले कई पर्यटक खुद ही गाड़ी चलाना पसंद करते हैं.
यहां जरूर जाएं : सिटी पैलेस, लेक पिचोला, लेक पैलेस, लेक गार्डन पैलेस, विंटेज कार म्यूजियम, हल्दी घाटी

गोकर्ण
गोकर्ण कर्नाटक के तट पर बसा है. अपना सुंदर और आलीशान बीच लिए हुए गोकर्ण शहर हिंदुओं का तीर्थ स्थल है जो आजकल समुद्र प्रेमियों को भी आकर्षित कर रहा है. कम और सीमित बजट की ट्रिप के लए गोकर्ण शहर एक अच्छा विक्लप है जो विदेशी पर्यटको को भी आकर्शित कर रहा है.
ऐसे पहुचें: देश के प्रमुख शहरों से गोकर्ण तक नियमित ट्रेनें हैं.
यहां जरूर जाएं : कुंडली बीच, ओम बीच, पैराडाइस बीच, महाबलेश्वर टेम्पल, महा गणपति टेम्पल, शिवा केव

धर्मशाला
अगर आपको ट्रेकिंग का शौक है तो धर्मशाला एक अच्छा विकल्प है. प्राक्रितक सौंदर्य और तिब्बती परिवेश से भरपूर धर्मशाला में आपको एक शांतिपूर्ण अनुभूति होगी.
ऐसे पहुचें: राज्य संचालित बसों के साथ-साथ निजी टूर ऑपरेटरों के नेटवर्क के माध्यम से धर्मशाला दिल्ली और उत्तर भारत के अन्य हिस्सों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है. यात्रा दिल्ली से लगभग 520 किलोमीटर की दूरी पर है.
यहां जरूर जाएं: धर्मशाला क्रिकेट स्टेडियम, ट्राएंड हिल, दलाई लामा टेम्पल काम्प्लेक्स, कांगड़ा वैली, मैक्लोडगंज

कोडाइकनाल
यह तमिलनाडु में स्थित हिल स्‍टेशन है. सुहाना मौसम, बादल, झीलें, पहाड़ और सुंदर घाटियां ये जगह आपको सबकुछ देगी. कोडाइकनाल एक ऐसी जगह है, जहां कम बजट में अच्छे खाने के साथ-साथ अच्छा अनुभव भी मिलेगा.
ऐसे पहुचें: आपको आसानी से देश के अन्य प्रमुख शहरों से कोडाइकनाल के लिए नियमित ट्रेन मिल जाएगी.
यहां जरूर जाएं : कोडाइकनाल लेक, कोआकेर्स वाक, मन्नवनूर लेक, पाइन फॉरेस्ट, डॉल्फिंस नोज, गुना केव

लोनावला
मॉनसून के समय जाने के लिए लोनावला एक अच्छा विक्लप है. झरने, पहाड़ और सौंदर्य से भरपूर लोनावला आपको कम बजट में बहुत कूछ देगा. ट्रेकिंग के लिए भी लोनावला एक अच्छा विकल्प है.
ऐसे पहुचें: लोनावला पहुंचने का सबसे अच्छा साधन सड़क मार्ग है. राज्य बसों, निजी बसों, टैक्सियों के साथ-साथ टूर ऑपरेटरों के पास लोनावाला के लिए नियमित और अक्सर सेवाएं हैं. लोनावला तक सड़क मार्ग से जाने के लिए कार या बाइक भी ले जा सकते हैं. मुंबई पुणे एक्सप्रेसवे या पुराने मुंबई पुणे रोड का उपयोग लोनावाला तक पहुंचने के लिए किया जाता है.
यहां जरूर जाएं: डेल्ला एडवेंचर पार्क, नारायणी धाम मंदिर, कार्ला केव्स, तिकोना फोर्ट, भूषि डैम, लायन प्‍वाइंट