close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

करोड़ों को नौकरीपेशा को बड़ा तोहफा, 5 लाख की आमदनी तक कोई टैक्स नहीं, बजट भाषण की खास बातें

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने टैक्स पेयर्स को राहत देते हुए 5 लाख रुपये की आमदनी को टैक्स फ्री कर दिया है.

करोड़ों को नौकरीपेशा को बड़ा तोहफा, 5 लाख की आमदनी तक कोई टैक्स नहीं, बजट भाषण की खास बातें

नई दिल्ली : संसद परिसर में प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक खत्म होने के बाद वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने लोकसभा में अंतरिम बजट पेश करना शुरू कर दिया है. हर बार की तरह इस बार भी वित्त मंत्री ने कैबिनेट की औपचारिक मंजूरी ली. बजट भाषण की शुरुआत में पीयूष गोयल ने कहा कि सरकार कि उपलब्धि रही कि हमने सोच बदलने के अथक प्रयास किए और विकास को आगे बढ़ाया है. उन्होंने कहा कि हम 2022 तक नया भारत बनाएंगे. आगे पढ़िए वित्त मंत्री के भाषण की प्रमुख बातें...

वित्त मंत्री पीयूष गोयल के भाषण के प्रमुख अंश

सैलरीड क्लास को सबसे बड़ी राहत
वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने बजट भाषण में सैलरीड क्लास को राहत देते हुए पांच लाख रुपये तक की सालाना आमदनी पर कोई टैक्स नहीं देने की घोषणा की है. निवेश के साथ 6.5 लाख रुपये तक की आमदनी पर टैक्स नहीं देना होगा. सैलरी क्लास के लिए स्टैडर्ड डिडक्शन 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दिया गया है. हर टैक्स पेसर्स को 13 हजार रुपये का फायदा मिलेगा. नई घोषणा के अनुसार 40 हजार रुपये तक के बैंक ब्याज पर कोई टैक्स नहीं देना होगा. यदि आप दूसरा घर लेते हैं तो उस पर भी टैक्स नहीं लगेगा. वित्त मंत्री ने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार टैक्स स्लैब में इतनी बढ़ी छूट मिली है. नए नियम के अनुसार 10 लाख से ऊपर की आमदनी पर 30 प्रतिशत टैक्स देना होगा. वहीं 5 लाख से 10 लाख रुपये तक की आमदनी पर 20 प्रतिशत का टैक्स देना होगा.

लाइव टीवी देखें

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन से मेगा पेंशन योजना
पीयूष गोयल ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन से मेगा पेंशन योजना शुरू करने की घोषणा की. इस योजना में 60 साल पूरे होने के बाद हर महीने 3 हजार रुपये की पेंशन मिलेगी. योजना के लिए हर महीने 55 रुपये देने होंगे. योजना का फायदा रिक्शे वाले और कचरे बीनने वाले को भी मिलेगा. पेंशन योजना के लिए शुरुआत में 500 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया. पेंशन योजना का फायदा 10 करोड़ लोगों को मिलेगा. पेंशन योजना की शुरुआत इसी वर्ष से की जाएगी.

पांच साल में 1 लाख डिजिटल गांव बनाने की योजना
वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा पिछले पांच वर्षों में मोबाइल डाटा का इस्तेमाल 50 गुना बढ़ा है. इस समय भारत में मोबाइल डाटा के दाम दुनिया में सबसे कम हैं. मोबाइल और मोबाइल पार्ट्स बनाने वाली कंपनियों की संख्या 2 से बढ़कर 268 हो गई है. अगले पांच साल में एक लाख डिजिटल गांव बनाने की योजना है.

पीएम किसान सम्मान निधि की घोषणा
पीयूष गोयल ने बजट भाषण के दौरान पीएम किसान सम्मान निधि की शुरुआत करने की घोषणा की. इस योजना के तहत किसानों को 6 हजार रुपये सालाना की सीधी मदद दी जाएगी. पीएम किसान सम्मान निधि के लिए सरकार ने 75,000 करोड़ रुपये का पैकेज आवंटित किया. इस योजना का लाभ किसानों को 1 दिसंबर 2018 से मिलना शुरू होगा. वित्त मंत्री ने बताया कि किसानों को दो हजार रुपये की पहली किश्त जल्द जारी की जाएगी. योजना के तहत साल में तीन बार दो-दो हजार रुपये की किश्त जारी की जाएगी.

रक्षा बजट के लिए 3 लाख करोड़ से ज्यादा
वित्त मंत्री ने बजट भाषण के दौरान रक्षा बजट के लिए 3 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा आवंटित करने का ऐलान किया. उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है जब रक्षा बजट के लिए 3 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का आवंटन किया गया है. वन रैंक वन पेंशन के तहत जवानों को 35000 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं.

रेलवे पर 1 लाख करोड़ से ज्यादा का खर्च
पीयूष गोयल ने कहा कि भारतीय रेलवे पर 1 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का खर्च किया जाएगा. लोगों को वंदे मातरम एक्सप्रेस से विश्व स्तरीय सुविधा दी जाएगी. भारतीय रेलवे के लिए यह सबसे सुरक्षित साल रहा है. वंदे मातरम एक्सप्रेस को पूरी तरह भारतीय इंजीनियरों ने तैयार किया है.

उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ कनेक्शन दिए जाएंगे
उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन दिए जाएंगे. 6 करोड़ कनेक्शन पहले ही दिए जा चुके हैं. मुद्रा योजना के तहत 75 प्रतिशत बेनिफिशियरी महिलाएं हैं, मातृत्व अवकाश अब 26 महीने का है और प्रधानमंत्री मातृत्व योजना से महिलाएं सशक्त हो रही हैं. आयुष्मान भारत के लॉन्च होने के थोड़े समय में ही करीब 10 लाख लोगों को इसका फायदा मिला है और उनके करीब 3000 करोड़ रुपये बचे हैं.

- सरकारी कर्मचारियों के लिए न्यू पेंशन स्कीम को और आसान बनाया. सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को तुरंत लागू किया.

- सौभाग्य योजना से मार्च 2019 तक सभी घरों को बिजली कनेक्शन मिल जाएगा. सरकार ने 143 करोड़ एलईडी बल्व उपलबध कराए हैं.
- सरकार का जोर गांव के लोगों को शहर जैसी सुविधाएं देने पर है. साल 2022 तक सरकार देश के सभी लोगों को घर मुहैया कराएगी. पहले के मुकाबले गांव और शहर की खाई कम की है.
- हम दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था. गोयल ने कहा कि हमारी सरकार ने कमर तोड़ महंगाई की कमर तोड़ दी. इसी का परिणाम है कि महंगाई दर को 10 % से घटाकर 7 % पर लेकर आए.