MSMEs को पीयूष गोयल का तोहफा, 1 करोड़ तक के कर्ज पर 2 फीसदी इंटरेस्ट सब्सिडी

पीयूष गोयल ने कहा कि हमने हाल में 1 करोड़ रुपये का कर्ज महज 59 मिनट में हासिल करने की सुविधा का ऐलान किया है.

MSMEs को पीयूष गोयल का तोहफा, 1 करोड़ तक के कर्ज पर 2 फीसदी इंटरेस्ट सब्सिडी
पीयूष गोयल ने छोटे कारोबारियों को राहत दी है. (फाइल)

नई दिल्ली: सरकार ने शुक्रवार को सूक्ष्म, लघु, छोटे और मध्यम उद्यमों (MSMEs) को 1 करोड़ रुपये तक के कर्ज पर 2 फीसदी ब्याज सब्सिडी देने की घोषणा की है. वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने वित्त वर्ष 2019-10 के लिए अंतरिम बजट प्रस्तुत करते हुए कहा, "सरकार ने एमएसएमई क्षेत्र को समर्थन देने के लिए कई कदम उठाएं हैं देश में करोड़ों लोगों को नौकरियां प्रदान की हैं. हमने हाल में 1 करोड़ रुपये का कर्ज महज 59 मिनट में हासिल करने की सुविधा का ऐलान किया है."

उन्होंने कहा, "सभी एमएसएमई इकाईयां जो वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत पंजीकृत होगी, उन्हें अब 1 करोड़ रुपये तक के कर्ज पर 2 फीसदी ब्याज सब्सिडी प्रदान की जाएगी." गोयल ने कहा कि सरकार ने सरकारी खरीद में एमएसएमई की हिस्सेदारी को सरकारी ईमार्केटप्लेस (जीईएम) के माध्यम से बढ़ाकर 25 फीसदी कर दिया है, जिसमें महिलाओं द्वारा चलाए जा रहे एमएसएमई का 3 फीसदी शामिल है. उन्होंने कहा कि अभी तक जीईएम ने 17,500 करोड़ रुपये से अधिक का लेनदेन पंजीकृत किया है जिससे 25-28 फीसदी की बचत हुई है.

इसके अलावा पीयूष गोयल ने छोटे कारोबारियों को राहत दी है. जिन कारोबारियों का सालाना टर्नओवर 50 लाख तक है उन्हें केवल 6 फीसदी GST देना होगा. अगर टर्नओवर 5 करोड़ से कम है तो सिर्फ तीन महीने में एकबार रिटर्न भरना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि GST की वजह से चीजें सस्ती हुई हैं. उन्होंने कहा कि टैक्स कलेक्शन बढ़ कर 12 लाख करोड़ हो गया है. पहली बार पहली बार एक करोड़ से ज्यादा लोगों ने इनकम टैक्स भरा. 2013-14 में यह आंकड़ा 6.38 लाख करोड़ था. इसके अलावा इनकम टैक्स में छूट की सीमा  बढ़ाकर 5 लाख कर दी गई है. अगर आप 1.5 लाख का इंवेस्टमेंट करते हैं तो 6.5 लाख इनकम टैक्स फ्री होगा.