close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जल्द 8% के पार निकलेगी GDP ग्रोथ, इतनी बड़ी होगी इंडियन इकोनॉमी: वित्त मंत्री

वित्त मंत्री अरुण जेटली आज संसद में 2018-19 के लिए आम बजट पेश कर रहे हैं. उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधरा आ रहा है.

जल्द 8% के पार निकलेगी GDP ग्रोथ, इतनी बड़ी होगी इंडियन इकोनॉमी: वित्त मंत्री
अरुण जेटली, वित्त मंत्री

नई दिल्ली: वित्त मंत्री अरुण जेटली आज संसद में 2018-19 के लिए आम बजट पेश कर रहे हैं. उन्होंने अपने बजट भाषण में कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधरा आ रहा है. 2014 में हमारी सरकार के आने के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था काफी सुधरी है. भारत तेज गति से विकसित अर्थव्यवस्था में शामिल हुआ. यह दुनिया में 7वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है. जल्द ही हम दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएंगे. रिफॉर्म के चलते इकोनॉमी में तेजी आई है. रीकैपिटलाइजेशन के बाद बैंकों में तेज ग्रोथ की संभावना है. अगले वित्त वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था 8% की ग्रोथ से बड़ा मुकाम हासिल करेगी. 

कितनी बड़ी है हमारी इकोनॉमी

  • भारत करीब 2.5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी है
  • जीडीपी की औसत दर पिछले तीन साल में 7.4 फीसदी रही
  • विदेशी निवेश 2014 के बाद से तेजी से बढ़ा
  • नोटबंदी के कारण अर्थव्यवस्था में नकदी का प्रवाह कम हुआ

किसका मिला फायदा

  • स्ट्रक्चरल रिफॉर्म के चलते इकोनॉमी में तेजी आई है
  • रिफॉर्म से मजबूत ग्रोथ को फायदा मिलेगा
  • सभी रिफ़ॉर्म से मध्यम, लंबी अवधि में फायदा
  • डिजिटाइजेशन से देश की अर्थव्यवस्था को फायदा हुआ
  • डिजिटाइजेशन और टैक्स बेस में बढ़ोतरी
  • बैंकिंग री-कैप से भारतीय GDP में सुधार
  • पिछले 4 साल में FDI में भारी बढ़ोतरी
  • वर्ष 17-18 निर्यात में 15% की वृद्धि का अनुमान

8% की ग्रोथ के लिए कहां रहेगा जोर

  • ग्रामीण, इंफ्रा, शिक्षा, कृषि पर जोर रहेगा
  • एग्री ग्रोथ को और बढ़ाने की ज़रूरत
  • FY18 के लिए GDP ग्रोथ 7.2-7.5% का अनुमान
  • ईज ऑफ डूइंग की जगह 'इज ऑफ लिविंग' पर जोर

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के जरिए सरकार मध्यम वर्गीय और गरीबों की जिंदगी बेहतर बना रही है. विश्व बैंक की कारोबार सुगमतार रैंकिंग में 42 स्थानों का हुआ सुधार, प्रधानमंत्री ने हमेशा अच्छे प्रशासन के महत्व पर दिया बल.