बगदादी के खुफिया ठिकानों की 20 कहानियां

करीब दो सालों तक एक शहर को अपनी बरबरता से कब्रिस्तान बनाने वाला आतंक का दूसरा नाम अबु बक्र अल-बगदादी आज भी एक पहेली है. 2014 में खुद को ख़लिफा घोषित करते समय सिर्फ एक बार बगदादी की शक्ल नजर आयी थी. लेकिन इसके बाद इस आतंकी को किसी ने नहीं देखा, कोई नहीं जानता है वह जिंदा है या मारा गया. उसका ठिकाना कहां है किसी को भी नहीं पता दुनिया को अपनी बेरहमी और आतंक से थर्रा चुके बगदादी के ठिकानों की 20 कहानियां यहां देखें.

Mar 22, 2018, 01:30 PM IST

ट्रेंडिंग न्यूज़